skin allergy in hindi

स्किन एलर्जी

Skin allergy in hindi

skin ki allergy se kaise bache in hindi

स्किन एलर्जी उत्तेजक पदार्थों या एलर्जी पैदा करने वाले पदर्थों (Irritants) के प्रति एक एलर्जिक रिएक्शन (Allergic reaction) होता है।

जब कोई सब्सटांस (substance) आपकी स्किन के कांटेक्ट में आता है, तो आपका इम्यून सिस्टम (Immune system) इससे लड़ने के लिए एंटीबॉडी (Anti-body) का उत्पादन करता है।

इसके परिणामस्वरूप एलर्जिक रिएक्शन होता है, जिससे शुरुआती तौर पर स्किन पर रैशेज़ हो जाते हैं।

स्किन एलर्जी कई प्रकार की होती है और ये साबुन, गहने, मॉइस्चराइजर यहां तक की कपड़े के संपर्क में आने से भी हो सकती है।

स्किन एलर्जी पूरे शरीर पर भी हो सकती है या फिर शरीर के कुछ हिस्सों को प्रभावित कर सकती है।

स्किन एलर्जी के लक्षण

Symptoms of skin allergies in hindi

Skin mein allergy ke lakshan in hindi

स्किन एलर्जी से स्किन बहुत ज़्यादा प्रभावित होती है। स्किन मे एलर्जी के कारण त्वचा पर न सिर्फ दाग-धब्बे या दाने हो जाते हैं बल्कि कभी-कभी स्किन लाल भी हो जाती है।

लेकिन कई बार लोग ये समझ नहीं पाते कि असल में स्किन एलर्जी के कारण स्किन पर क्या होता है। इसलिए त्वचा पर एलर्जी से जुड़े लक्षणों के बारें में जानना महत्वपूर्ण हो जाता है।

आईये जानते हैं कि स्किन एलर्जी से स्किन पर किस तरह का असर पड़ता है:

  1. त्वचा का रंग बदलना, जैसे लाल धब्बे पड़ना।
  2. खुजली होना।
  3. फुंसी जैसे दाने हो जाना।
  4. स्किन पर रैशेज़ (Rashes) या क्रैक (Crack) पड़ना।
  5. स्किन पर जलन होना।
  6. त्वचा में खिंचाव पैदा होना।
  7. छाले पड़ना।

स्किन एलर्जी के प्रकार

Types of skin allergies in hindi

twacha mein allergy ke prakar in hindi

आइये जानते हैं स्किन एलर्जी के टाइप्स :-

  1. एटोपिक डर्मेटाइटिस (एक्जिमा) (Atopic Dermatitis - Eczema)

    ये बचपन से जुड़ा डिसऑर्डर (Disorder) होता है, जो कोहनी और घुटनों के पीछे लाल खुजली वाले चकत्ते का कारण बनता है। गंभीर होने पर चेहरा प्रभावित होता है।

  2. सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस (Seborrheic Dermatitis)

    इस प्रकार की त्वचा की एलर्जी के परिणामस्वरूप लाल, पपड़ीदार और खुजली वाले घाव होते हैं।

    ऐसे घाव ज्यादातर स्कैल्प, माथे, भौंह (eye brow), गाल और बाहरी कान को प्रभावित करते हैं।

  3. कांटेक्ट डर्मेटाइटिस (Contact Dermatitis)

    जब इंसान किसी नए चीज़ या केमिकल युक्त चीज़ों के संपर्क में आता है तो उसे स्किन पर एलर्जी होती है, जिसे कांटेक्ट डर्मेटाइटिस कहा जाता है।

    घड़ी के कारण कलाई, या नयी अंगूठी पहनने के कारण उंगली प्रभावित हो सकती है।

  4. सोरायसिस (Psoriasis)

    सोरायसिस एक जीवन भर चलने वाला इम्यून डिसऑर्डर (Immune disorder) है, जो त्वचा पर चकत्ते और अन्य लक्षणों को विकसित करता है।

    सोरायसिस शरीर पर कहीं भी त्वचा पर हो सकता है।

    हालांकि ये अक्सर घुटनों, कोहनी या स्कैल्प पर दाने के रूप में होता है, जिसपर खुजली और दर्द हो सकता।

  5. हाइव्स (Hives)

    ये उभरे हुए, खुजलीदार लाल रंग के धब्बे या घाव होते हैं।

    कांटेक्ट डर्मेटाइटिस इसे ट्रिगर कर सकती है, लेकिन कीड़े के काटने, दवाओं और खाद्य पदार्थों के कारण हुई एलर्जी से भी ये हो सकता है।

    एलर्जी रिएक्शन (Allergic reaction) से स्किन पर तुरंत ये हो जाता है और फिर घंटों या एक दिन में ठीक भी हो जाता है।

स्किन एलर्जी होने के कारण

Causes of skin allergies in hindi

Skin allergy hone ke karan in hindi

स्किन एलर्जी से कई लोग किसी न किसी तरह प्रभावित होते हैं, लेकिन अगर इस ओर ध्यान नहीं दिए गया तो इससे गंभीर बीमारी तक हो सकती है।

ऐसे में सबसे पहले हमें ये समझने की ज़रूरत है कि आखिर स्किन एलर्जी होती किन वजहों से होती है।

त्वचा की एलर्जी के सबसे आम कारणों में शामिल हैं:

  1. मौसम में बदलाव।
  2. वायु प्रदूषण।
  3. टैटू का त्वचा पर बुरा प्रभाव।
  4. ऐसा खाना खाना, जो हमारे शरीर को सूट न करे।
  5. आस-पास सफाई न होना।
  6. किसी तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट जैसे की हेयर कलर इस्तेमाल करना।
  7. किसी दवा का साइड इफ़ेक्ट होने के कारण।
  8. ड्राई स्किन से त्वचा की एलर्जी होती है।
  9. पालतू जानवरों के कारण।
  10. फ्रेगरेंस के कारण।
  11. धूप की वजह से स्किन एलर्जी का होना।

स्किन एलर्जी होने पर किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए

Precautions for skin allergies in hindi

twacha mein allergy hone par kis tarah ki savdhaniyaan baratni chahiye in hindi

अगर आपको स्किन पर एलर्जी हो जाती है तो उस दरम्यान कुछ चीज़ों को लेकर आपको सतर्क रहना चाहिए, जो इस प्रकार है:

  1. अपने साबुन को बदलकर किसी एंटीबैक्टीरियल (anti-bacterial) साबुन का इस्तेमाल करें।
  2. स्किन एलर्जी होने पर त्वचा में खुजली बार-बार न करें।
  3. ज्यादा से ज्यादा खुली हवा में रहें।
  4. अगर आपको किसी फूड से एलर्जी है, तो उससे दूर रहें।
  5. एलर्जी से बचने के लिए जरूरी है कि आप धूम्रपान से बचें।
  6. बिना चिकित्सक की सलाह के दवाओं का इस्तेमाल न करें।
  7. तेज़ धूप में निकलने से बचें।
  8. अपनी साफ़-सफाई का पूरा ध्यान रखें।
  9. अगर आपकी स्किन सेंसिटिव है तो आर्टिफिशियल ज्वेलरी पहनने से बचें।
  10. पालतू जानवरों से दूर रहें।

त्वचा में एलर्जी किसी को भी हो सकती है। एलर्जी का मुख्य कारण हमारी जीवनशैली और दिनचर्या है।

साथ ही प्रदूषण जैसे कारक भी एलर्जी का कारण बनते हैं। ऐसे में हमे अपनी लाइफस्टाइल (Lifestyle) में कुछ बदलाव करके, अपनी त्वचा का ध्यान रखकर और त्वचा की एलर्जी को रोकने में मददगार खाद्य पदार्थ का सेवन करके इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

सारांश

कई बार कुछ त्वचा से जुड़ी समस्याएं बीमारी तो नहीं होती पर परेशान बीमारियों से भी ज्यादा कर देती हैं, उसी में से एक है स्किन एलर्जी।

इसलिए समय रहते इनके कारणों और लक्षणों को समझकर इससे बचने की कोशिश करनी चाहिए।

zealthy contact

कॉल

zealthy whatsapp contact

व्हाट्सप्प

book appointment

अपॉइंटमेंट बुक करें