Week 9 of Your Pregnancy | Zealthy

आपकी गर्भावस्था का नौवां सप्ताह

Week 9 of your pregnancy in hindi

Aapki garbhavastha ka nauwa hafta in hindi

 

आपकी तिमाही (Your trimester) = पहली तिमाही (First trimester)

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में आप कितने महीने की गर्भवती हैं: आप गर्भावस्था के तीसरे महीने में हैं। 

कितने हफ्ते बचे हैं : 31 हफ्ते (210 दिन)

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में बच्चा कितना बड़ा हुआ है :-

  • इस समय आपका शिशु अब अंगूर (grape) के आकार का है। 

  • आपके शिशु की लम्बाई लगभग 1.4 इंच (3.55 cm) है।

  • गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में शिशु का वज़न लगभग 3.2 ग्राम (3.2 gm) होता है। 

अब आपने गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में प्रवेश कर लिया और साथ ही अब तीसरे महीने की भी शुरुआत हो चुकी है।

इस हफ्ते में एक ओर जहां आपको सुबह होने वाली परेशानी जैसे थकान या मॉर्निंग सिकनेस अब कम हो जाएगी वहीं दूसरी ओर आपका वज़न अब बढ़ने लगेगा।

प्रेगनेंसी के नौवें हफ्ते में आप अल्ट्रासाउंड की मदद से अपने बच्चे की छवि को आराम से देख सकती हैं।

हालांकि इस समय आपके बच्चे का विकास तेज़ी से हो रहा है और ऐसे में आपको पेट के बल अब सोने से सांस लेने में परेशानी हो सकती है।

इसलिए अब आपको पेट बल सोने से बचना चाहिए।

आपके डॉक्टर भी आपको अब करवट लेकर सोने की सलाह दे सकते हैं।

वहीं इस समय परेशानी कितनी भी हो, आपको बस ये सोचना चाहिए कि आप मातृत्व सुख पाने के अब निकट पहुंच रही हैं और जल्द ही आप एक नन्हीं सी जान को इस दुनिया में लाने वाली हैं।

चलिए आपको नौवें हफ्ते में होने वाले बदलावों के बारे में विस्तार से बताते हैं। 

इस समय आपको क्या करना चाहिए :-

  • प्रीनेटल विटामिन लेना जारी रखें।

  • एक दिन में लगभग आठ से 12 गिलास पानी पीना जारी रखें।

  • एक नई सप्पोर्टिव ब्रा खरीदें।

  • थकान होने पर ब्रीथिंग एक्सरसाइज़ करें। 

  • पीठ के बल सोने की जगह करवट लेकर सोएँ। 

  • अधिक मात्रा में फल और सब्जियों का सेवन करें।

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में आपका शरीर

Your body at week 9 of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke nowein hafte mein aap ka sharir in hindi

Your body at week 9 of pregnancy | Zealthy

अभी आपने अपनी गर्भावस्था के सिर्फ तीसरे महीने में ही प्रवेश किया है लेकिन आपके शरीर में पहले से ही बहुत कुछ बदल गया है।

आपके पेट के अंदर, प्लेसेंटा (placenta) ने आकार लेना शुरू कर दिया है। एक बार जब यह पूरी तरह से बन जाएगा, तो प्लेसेंटा आपके भ्रूण को महत्वपूर्ण पोषक तत्व प्रदान करने में मदद करेगा। 

वहीं हार्मोन में परिवर्तन होने के कारण आपका गर्भाशय (uterus) भी अभी बढ़ रहा होता है जिस वजह से सुस्ती और थकावट बढ़ सकती है। 

भले आपको ऐसा लगता हो कि प्रेगनेंसी के दौरान आपका गर्भाशय वह जगह है जहाँ सभी परिवर्तन हो रहे हैं, लेकिन ऐसा नहीं है।

हार्मोन के प्रभाव के कारण आपका शरीर भी चयापचय (metabolism) परिवर्तनों से गुज़र रहा है।

इन परिवर्तनों में से ब्लड शुगर लेवल (blood sugar level) का बढ़ना और ब्लड प्रेशर (blood pressure) का कम होना शामिल है।

इस सप्ताह गर्भवती स्त्री, वज़न बढ़ने और मूड में बदलाव जैसे लक्षणों का अनुभव कर सकती है, जो विशेष रूप से प्रोजेस्टेरोन (progesterone) हार्मोन के कारण हो रहा होता है।

नौवें हफ्ते की गर्भावस्था के दौरान पेट में बदलाव (9 weeks pregnant belly)

इस हफ्ते से पहले, आप शायद वैसी ही दिख रही थी जैसे प्रेग्नेंट होने के पहले दिखती थीं लेकिन गर्भावस्था के नौवें हफ्ते से आपको अपने शरीर में कुछ बदलाव दिख सकते हैं।

जी हां, इस हफ्ते से कई महिलाओं के बेली बंप (belly bump) थोड़ी-थोड़ी नज़र आ सकती है।

इस दौरान आपको अपने पेट के नीचे के हिस्से में भारीपन भी महसूस हो सकता है।

ऐसा आभास गर्भाशय के कारण लगता है, जो आपके बढ़ते शिशु के साथ-साथ बढ़ता जा रहा है।

यह बहुत जल्द और बड़ा हो सकता जिससे आपका पेट बाहर की ओर निकल जायेगा।

नौवें हफ्ते की गर्भावस्था के लक्षण (9 Weeks pregnant symptoms)

आपके गर्भावस्था में अब तक अनुभव किए गए लक्षणों के जारी रहने की संभावना इस हफ्ते भी रहती है।

यहां तक कि इस हफ्ते में लक्षण पहले की अपेक्षा बढ़ जाते हैं और ज़्यादा परेशान कर सकते हैं। इन लक्षणों में शामिल हैं :-

  • वज़न बढ़ना (weight gain)

  • अपच होना (indigestion)

  • मतली और उल्टी (nausea and vomiting)

  • भारीपन, गैस, कब्ज़ (bloating, gas, constipation)

  • भूख बढ़ना (increased hunger)

  • थकान (fatigue)

  • बार-बार यूरिन पास करने की इच्छा होना (frequent urination)

  • स्तन परिवर्तन और कोमलता (breast changes and tenderness)

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में शारीरिक और भावनात्मक परिवर्तन (Physical and emotional changes at 9 weeks of pregnancy) 

शारीरिक तौर पर इस सप्ताह आपको अपने स्तनों में बहुत ज़्यादा बदलाव दिख सकता है।

स्तन के आकार पहले से अधिक बढ़ सकते हैं।

इस दौरान स्तन बहुत नरम या मुलायम भी हो सकते हैं और साथ ही इनमें खुजली बढ़ सकती है।

ऐसे बदलाव दो कारणों से होते हैं, पहला, स्तनों में दूध बनाने वाली ग्रंथियों का विस्तार (milk-producing glands) हो रहा है।

दूसरा, एस्ट्रोजेन (estrogen) , ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन (human chorionic gonadotropin), प्रोजेस्टेरोन (progesterone) और प्रोलैक्टिन (prolactin) हार्मोन, ये हार्मोन्स पूरी ताकत से स्तन में दूध का उत्पादन करने में मदद करते हैं।

इस दौरान ब्रेस्ट टिश्यू विकसित होते हैं, जिससे स्तनों की त्वचा पर खिंचाव होता है जो स्तनों में खुजली का कारण है।

भावनात्मक रूप से आप इस समय एस्ट्रोजन (estrogen) और प्रोजेस्टेरोन (progesterone) हार्मोन के बढ़ते और घटते स्तर के कारण अपने मूड में बहुत ज़्यादा बदलाव की उम्मीद कर सकती हैं।

दरअसल मूड को कंट्रोल करने वाले ब्रेन केमिकल्स ( brain chemicals ) जिसे न्यूरोट्रांसमीटर्स (neurotransmitters) कहा जाता है वो हार्मोन के उतर-चढ़ाव के कारण प्रभावित हो जाते हैं।

जिससे गर्भवती स्त्री भावनात्मक रूप से बहुत ज़्यादा परेशान रहती हैं क्योंकि वे अचानक कभी बहुत खुश हो जाती हैं या फिर उदास हो जाती हैं।

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में आपका बच्चा

Your baby at week 9 of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke nauwe hafte mein aapka baccha in hindi

Your baby at week 9 of Pregnancy | Zealthy

गर्भावस्था के 9 वें सप्ताह तक, भ्रूण एक बच्चे की तरह दिखने लगता है।

9 सप्ताह की गर्भवती होने पर, आपके शिशु की लंबाई भी पिछले हफ्ते की तुलना में दो सेंटीमीटर अधिक हो जाती है और साथ ही उसका वज़न भी बढ़ रहा होता है।

अब शिशु की मानवीय विशेषताएँ अधिक विशिष्ट होती जा रही हैं।

उसके हाथ और पैर के जॉइंट्स लचीले हो सकते हैं और इस समय उसके बालों के रोम विकसित हो रहे हैं।

जीभ पर स्वाद की कलियाँ (taste buds) बनने लगती हैं, साथ ही मसूड़ों में प्राथमिक दाँत की कलियाँ (tooth buds) बन जाती हैं।

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते के दौरान भ्रूण का विकास (Growth of the baby at 9 week pregnancy)

  • प्रेग्नेंट लेडीज़ के शरीर अंदर इस वक़्त काफ़ी बदलाव हो रहें होते हैं।

    माँ के गर्भ में शिशु का विकास बहुत तेज़ी से हो रहा होता है और उसके प्रजनन अंग (reproductive organs) इस सप्ताह विकसित होने लगते हैं।

    इस अवधि के दौरान शिशु के अन्य अंग भी बढ़ रहे होते हैं। 

  • बच्चे का दिल अब चार कक्षों (four chambers) में विभाजित हो गया है, और यह अब ज़ोर से और स्पष्ट रूप से धड़क रहा है।

    अब मांसपेशियाँ (muscles) भी बढ़ने लगी हैं और शिशु अब अपनी बाहों और पैरों को घुमाने की कोशिश शुरू कर देता है। 

  • 9 सप्ताह की गर्भवती अवस्था में आपके शिशु का चेहरा अब स्पष्ट दिखने लगा है और उसकी पलकें और छोटी सी नाक अब दिखने लगी है।

    आपके बच्चे के कान भी अधिक विकसित हो गए हैं और बच्चे के मुंह के अंदर, दांत और स्वाद की कलियाँ (tooth buds) भी आकार लेने लगी हैं।

  • हाथ और पैरों का भी विकास जारी है और अब उंगलियां दिखने लगीं हैं, कलाई और ऐड़ी भी अब विकसित होना शुरू कर चुके हैं। 

  • इस सप्ताह से बच्चे की हड्डियाँ भी मज़बूत होने लगी हैं।

नौवें हफ्ते की गर्भवती अवस्था में शिशु की स्थिति (Baby position at 9 weeks pregnant)

इस समय आपका शिशु सिर्फ नौ हफ्ते का हुआ है और अभी पिछले कई हफ़्तों की ही तरह इस समय भी आपके शिशु का सिर गर्भ में ऊपर की ओर रहता है और उसके पैर नीचे की ओर रहते हैं।

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में माँ बननी वाली महिला के लिए आहार, स्वास्थ्य टिप्स और दिनचर्या

Diet, fitness tips and lifestyle for moms at 9 week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke novein hafte mein maa banne wali mahila ke liye diet, fitness or dincharya in hindi

Fitness and lifestyle tips for Moms to be at 9 weeks of pregnancy | Zealthy

भले ही आप नौवें सप्ताह के गर्भावस्था के लक्षणों का कुछ असहज अनुभव कर रही हों लेकिन जीवनशैली के कुछ बदलाव आपको गर्भावस्था के 9 वें सप्ताह में बेहतर महसूस करने में मदद कर सकते हैं।

जी हां, ऐसा तब संभव हो सकता है जब आप अपने खान-पान के -साथ दिनचर्या में भी सुधार लाने की कोशिश करें।

प्रेगनेंसी के नौवें हफ्ते में आपको क्या खाना चाहिए (What you should eat at 9 week of pregnancy)

  • इस समय गर्भवती महिला कब्ज़ की समस्या से परेशान रहती हैं।

    ऐसे भी इस समस्या से निजात पाने के लिए आपको अपने खाने में फाइबर युक्त सब्जियों, फल और सलाद को अपने खाने में शामिल करें। 

  • इस समय तरल पदार्थों का सेवन करना भी बहुत फ़ायदेमंद होता है।

    पानी 10-12 गिलास पीने के अलावा आप ताज़ा जूस पी सकती हैं।

    इसके साथ ही नारियल पानी पीना भी बहुत अच्छा होता है। 

  • इस दौरान गर्भवती स्त्री को विटामिन बी-12 युक्त खाद्य-पदार्थों का भी सेवन करना चाहिए क्योंकि इससे गर्भावस्था के दौरान एनीमिया होने की संभावना कम हो जाती है। 

  • वहीं बच्चे के विकास के लिए मैग्नीशियम को अपने डाइट में शामिल करें।

    मेथी के पत्ते, सरसों के साग, पालक, मछली में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम होता है। 

  • इसके अलावा गर्भावस्था के दौरान विटामिन बी 6 महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, ये रेड ब्लड सेल्स (red blood cells) के उत्पादन में मदद करता है।

प्रेगनेंसी के नौवें हफ्ते में आपको क्या नहीं खाना चाहिए (What you should not eat or avoid at week 9 of pregnancy)

  • प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को पूरी तरह से अल्कोहल के सेवन और धूम्रपान से दूरी बनानी चाहिए, क्योंकि इससे बच्चे में जन्म दोष (birth defects) हो सकता है। 

  • इस दौरान गर्भवती औरत को पपीता (papaya) भी नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे गर्भाशय पर असर पड़ता है।

    इसके सेवन से गर्भाशय संकुचित हो सकता, जो शिशु के लिए सही नहीं है।

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में कौन सा व्यायाम सबसे अच्छा है (Which exercise is best at 9 week of pregnancy)

अपनी गर्भावस्था के दौरान आपको व्यायाम ज़रूर करते रहना चाहिए क्योंकि इससे नार्मल डिलीवरी की संभावना बढ़ सकती है।

अपने शरीर को सक्रीय बनाये रखने हल्के व्यायाम करें और शाम के वक़्त 30-40 मिनट तक टहलने की कोशिश करें।

तैरना भी आपके लिए लाभकारी हो सकता है।

हालाँकि इस दौरान आपको भरी चीज़ों को उठाने की कोशिश बिल्कुल नहीं करनी चाहिए।

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में किन लक्षणों को देखते हुए डॉक्टर से जल्द-से-जल्द मिलना चाहिए

Which symptoms raise an alarm to visit doctor at 9 weeks of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke nowein hafte mein kin lakshano ko dekhte hue doctor se jald se jald milna chahiye in hindi

symptoms that raises an alarm to visit a doctor at 9 weeks of pregnancy | Zealthy

यदि आपको अचानक गंभीर सिरदर्द का अनुभव हो, या यदि आपको निम्न में से कोई भी लक्षण हों, तो अपने डॉक्टर से मिलें :-

  • उल्टी (vomiting)

  • देखने में परेशानी हो (visual disturbances)

  • पसलियों के नीचे दर्द (pain below the ribs)

  • पेट में दर्द और सूजन (abdominal pain and swelling)

  • अचानक हाथ, पैर या चेहरे पर सूजन होना (swelling of the hands, face, or feet that occurs suddenly)

ये प्री-एक्लेमप्सिया (pre-eclampsia) के संकेत हो सकते हैं, एक संभावित गंभीर स्थिति जिसमें गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप शामिल होता है।

गर्भावस्था में यह बहुत कम होता है, लेकिन इसका मूल्यांकन डॉक्टर द्वारा किया जाना चाहिए।

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में डॉक्टर से क्या उम्मीद करें

What to expect from your doctor in the ninth week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke novein hafte mein doctor se kya umeed karein in hindi

what to expect from your doctor during 9 weeks of pregnancy | Zealthy

आपकी पहली प्रसवपूर्व मुलाकात में, आपके डॉक्टर ने आपको पहली तिमाही स्क्रीनिंग के बारे में बताया होगा जो अब 14 सप्ताह तक हो सकता है।

ये ब्लड टेस्ट और एक विशेष अल्ट्रासाउंड का कॉबिनेशन होता है, जो डाउन सिंड्रोम (down syndrome) का पता लगाने में सक्षम हो सकता है।

कुछ महिलाएं जिनमें क्रोमोसोमल असामान्यता (chromosomal abnormalities) होने का हाई रिस्क होता है, उन्हें सेल फ्री डीएनए टेस्टिंग (cell-free DNA testing) या फिर कोरियोनिक विलस सैंपलिंग (chorionic villus sampling - CVS) कराने की सलाह दी जा सकती है।

 

नौवें हफ्ते की गर्भावस्था के दौरान अल्ट्रासाउंड या किसी अन्य परीक्षण की आवश्यकता है

Whether ultrasound or any other tests required during the ninth week of pregnancy in hindi

Nowen hafte ki garbhavastha ke dauran kya ultrasound ya any kisi parikshan ki avashyakta hai in hindi

Ultrasound or any other tests required during 9 weeks of pregnancy | Zealthy

पहले ट्राइमेस्टर में अल्ट्रासाउंड लगभग 11-13 सप्ताह के बीच किया जाता है, जो कि न्यूक्ल ट्रांसलुसेंसी (nuchal translucency) की जाँच के लिए किया जाता है।

ये स्कैन बच्चे में डाउन सिंड्रोम (down syndrome) जैसे कुछ रोगों की जाँच के लिए उपयोग किया जाता है।

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में सेक्स

Sex in the ninth week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke nowen hafte mein sex in hindi

Sex during 9 weeks of pregnancy | Zealthy

इस सप्ताह की गर्भवती होने पर भी आपके लिए सेक्स करना पूरी तरह से सुरक्षित होता है।

वास्तव में, आपकी नियत तिथि (due date) तक सेक्स सुरक्षित है।

हालाँकि, अगर आप इस समय मॉर्निंग सिकनेस से परेशान हैं तो आप सेक्स करने में असहज महसूस कर सकती हैं। 

 

गर्भावस्था के नौवें हफ्ते में पिता के लिए टिप्स

Tips for father during ninth week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke nauwe hafte mein pita ke liye tips in hindi

Tips for father to be during 9 weeks of pregnancy | Zealthy

इस समय होने वाले पिता को अपनी महिला का साथी का पूरा ख्याल रखना चाहिए और साथ ही कुछ नया करने की कोशिश करनी चाहिए जिससे उनके चेहरे पर चमक आ जाए और इसके अलावा आप निम्न काम भी कर सकते हैं :-  

  • अपने बेडरूम में एक शांत और सुन्दर वातावरण बनाने का प्रयास करें। 

  • अपनी महिला साथी के साथ ख़ुशियों के पल गुज़ारे। 

  • होने वाली माँ के लिए समय निकालें और उन्हें शॉपिंग पर ले जाएं। 

  • कभी-कभी उनकी मन-पसंद चीज़ें बनाकर खिलाएं।