Fruits and Vegetables | Zealthy

फल और सब्जियाँ खाने के क्या हैं फ़ायदे

Health benefits of eating fruits and vegetables in hindi

Fal aur sabjiyan khaane ke kya hai fayade in hindi

फल और सब्ज़ियाँ आपके दैनिक आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होना चाहिए।

ये विटामिन और खनिज से भरपूर होते हैं जो आपको स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

फल और सब्ज़ियाँ कई बीमारियों से हमारी रक्षा करते हैं।

फलों और सब्जियों की कई किस्में उपलब्ध हैं और उन्हें तैयार करने, पकाने और परोसने के कई तरीके हैं।

आपको हर दिन कम से कम एक कप कच्ची सब्ज़ियाँ/ सलाद या 1/2 कप पकी हुई सब्ज़ियाँ खानी चाहिए।

इसके साथ ही आपको हर रोज दो फल खाने चाहिए।

फल और सब्ज़ियाँ चुनते वक़्त विभिन्न रंगों और किस्मों का चयन करें।

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

i need guidance in choosing the best doctor

इस लेख़ में/\

  1. फल और सब्जियाँ खाने के फ़ायदे
  2. फलों के प्रकार
  3. सब्जियों के प्रकार
  4. फलों और सब्जियों के रंग
  5. निष्कर्ष
 

1.फल और सब्जियाँ खाने के फ़ायदे

Benefits of eating fruits and vegetables in hindi

Fruits aur vegetables khaane ke kya labh hai in hindi

loading image

बिना फल और सब्जियों के खाना अधूरा होता है। किसी भी प्रकार के खाने का एक अभिन्न और ज़रूरी अंग होती हैं फल और सब्ज़ियाँ। इनके फ़ायदे :-

  • विटामिन और खनिज से भरपूर होते हैं फल और सब्ज़ियाँ (Best sources of vitamins & minerals)

    फलों और सब्जियों में कई विटामिन और खनिज होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं।

    इनमें विटामिन ए (बीटा-कैरोटीन), सी और ई, मैग्नीशियम (Magnesium), जस्ता (Zinc), फॉस्फोरस (Phosphorus) और फोलिक एसिड (Folic Acid) शामिल हैं।

    फोलिक एसिड हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मददगार पाया गया है।

  • अच्छे स्वास्थ्य के लिए फल और सब्जियां (Health benefits)

    फल और सब्जियों में वसा, नमक और चीनी की मात्रा बहुत कम होती है।

    ये फाइबर का अच्छा स्रोत होते हैं।

    संतुलित आहार और स्वस्थ जीवन शैली बनाने में फल और सब्ज़ियाँ निम्नलिखित तरीके से आपकी मदद करती हैं:

    मोटापा कम कर स्वस्थ वजन बनाने में सहायक

    कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार

    रक्तचाप को कम करने में सहायक

  • फल और सब्जियां करते हैं बीमारियों से सुरक्षा (Prevent diseases)

    सब्जियों और फलों में फाइटोकेमिकल्स (phytochemicals) होते हैं।

    ये जैविक रूप से सक्रिय पदार्थ आपको बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं।

    वैज्ञानिक शोध से पता चलता है कि यदि आप नियमित रूप से बहुत सारे फल और सब्जियां खाते हैं, तो आपको इन बीमारियों का जोखिम कम होता है :

  • मधुमेह प्रकार 2

  • आघात

  • हृदय रोग

  • कैंसर

  • उच्च रक्तचाप

  • वज़न कम करने में करे मदद (Helps in losing weight)

    स्वास्थ्य लाभ के साथ, फल और सब्ज़ियाँ खाने से वजन प्रबंधन आसान हो सकता है।

    अधिकांश फल और सब्जियों में अन्य खाद्य पदार्थों की तुलना में कैलोरी कम होती है।

    इसलिए इनके सेवन से वजन घटाने में मदद मिल सकती है।

    कैलोरी से भरपूर खाद्य पदार्थों की जगह फल और सब्ज़ियाँ एक अच्छे विकल्प के रूप में काम करती हैं।

    उदाहरण के लिए, डेस्सेर्ट्स (desserts) में मिठाई की जगह फल खाएं, स्नैक्स के लिए तले-भुने और कैलोरी से भरपूर पकोड़ों की जगह फ्रूट सलाद लें।

    इन सब तरीकों से आपको वज़न कम करने में बहुत मदद मिलेगी साथ ही आपका स्वास्थ भी अच्छा रहेगा।

और पढ़ें:5 आहार जो घटाएंगे वजन और बढ़ाएंगे मेटाबॉलिज्म

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

i need guidance in choosing the best doctor
 

2.फलों के प्रकार

Types of fruits in hindi

Fruits kitne prakar ke hote hain in hindi

loading image

फल एक पौधे का मीठा, गुद्देदार, खाद्य हिस्सा है।

इसमें आम तौर पर बीज होते हैं।

फल आमतौर पर कच्चे ही खाए जाते हैं, हालांकि कुछ किस्मों को पकाया जा सकता है।

वे विभिन्न प्रकार के रंग, आकार और स्वाद में आते हैं।

आम प्रकार के फल जो आसानी से उपलब्ध हैं, उनमें शामिल हैं:

  • सेब और नाशपाती

  • खट्टे (citrus) - संतरे, अंगूर और नीबू

  • स्टोन फ्रूट्स (stone fruits) - अमृत, खुबानी, आड़ू और प्लम

  • ट्रोपिकल फ्रूट्स (tropical) - केले और आम

  • बेरीज़ (berries) - स्ट्रॉबेरी, रसभरी, ब्लूबेरी, कीवीफ्रूट और पैशनफ्रूट

  • खरबूजे - तरबूज, खरबूज

  • टमाटर और एवोकाडो।

और पढ़ें:5 पोषक तत्व, जो 15 से 65 वर्षीय महिलाओं के लिए ज़रूरी हैं

 

3.सब्जियों के प्रकार

Types of vegetables in hindi

Sabziyon ki vibhinn types in hindi

loading image

कई किस्मों की सब्जियां उपलब्ध हैं और इन्हें निम्नलिखित जैविक समूहों में वर्गीकृत किया जा सकता है:

  • पत्तेदार हरी - लेट्यूस, पालक, धनिया, मेथी और सरसों

  • क्रूसिफ़ेरस (cruciferous) - गोभी, फूलगोभी और ब्रोकोली

  • मेर्रो (marrow) - कद्दू, ककड़ी और तोरी

  • जड़ (रूट) - आलू, शकरकंद और रतालू

  • खाद्य पौधे का तना – केले का तना और शतावरी

  • एलियम (allium) - प्याज, लहसुन

  • फलियां- खाने से पहले फलियों को पकाने की आवश्यकता होती है।

    इससे उनकी गुणवत्ता और पाचन में सुधार होता है।

    भारत में कई प्रकार की फलियां खाई जाती हैं जैसे कि हरी मटर, हरी फलियाँ, भरभट्टी आदि।

और पढ़ें:5 पोषण संबंधी मिथ क्या हैं ?

मैं कन्फ्युज हूँ, मुझे मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट उपचार की योजना तैयार करने में आपकी सहायता करेंगे

i’m confused, i need help
 

4.फलों और सब्जियों के रंग

Colours of fruits and vegetables in hindi

Fruits aur vegetables ke rang

loading image

यदि आप विभिन्न प्रकार के फल और सब्ज़ियाँ खाते हैं, तो आपको सबसे अधिक स्वास्थ्य लाभ और बीमारी से सुरक्षा मिलेगी।

समान रंगों के खाद्य पदार्थों में आमतौर पर समान सुरक्षात्मक कमपाउंड्स होते हैं।

सभी प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए हर दिन विभिन्न रंग के फल और सब्ज़ियाँ खाने की कोशिश करें। उदाहरण के लिए:

  • लाल खाद्य पदार्थ - जैसे टमाटर और तरबूज। इनमें लाइकोपीन (lycopene) होता है, जो प्रोस्टेट कैंसर और हृदय रोग से लड़ने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है।
  • हरी सब्ज़ियाँ - जैसे पालक और सरसों। इनमें ल्यूटिन (lutein) और ज़ेक्सैंथिन (zeaxanthin) होते हैं, जो उम्र से संबंधित नेत्र रोग से बचाने में मदद कर सकते हैं।
  • नीले और बैंगनी खाद्य पदार्थ - जैसे ब्लूबेरी और बैंगन। इनमें एंथोसायनिन (anthocyanins) होता है, जो शरीर को कैंसर से बचाने में मदद कर सकता है।
  • सफेद खाद्य पदार्थ - फूलगोभी की तरह। इनमें सल्फोराफेन (sulforaphane) होता है और यह कुछ कैंसर से बचाने में भी मदद कर सकता है।

और पढ़ें:अंजीर है गुणों से भरपूर, करता है रोगों से बचाव

 

5.निष्कर्ष

Conclusionin hindi

Nishkarsh

विभिन्न फलों और सब्जियों में अलग-अलग पोषक तत्व होते हैं।

एक वयस्क को हर दिन कम से कम पांच प्रकार की सब्जी और दो प्रकार के फल खाने चाहिए।

बच्चों की पेट की क्षमता कम होती है और वयस्कों की तुलना में ज़्यादा ऊर्जा की जरूरत होती है।

इसलिए आपको अपने बच्चों को विभिन्न प्रकार के फल और सब्ज़ियाँ खाने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।

अच्छी तरह से खाने से, आपके बच्चों में वह ऊर्जा होगी जो उन्हें खेलने, बेहतर ध्यान केंद्रित करने और सीखने में मदद करेंगी और मजबूत दाँत और हड्डियों का निर्माण में सहायक साबित होंगी।

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: 05 Aug 2019

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

विशेषज्ञ सलाहASK AN EXPERT

कॉल

व्हाट्सप्प

अपॉइंटमेंट बुक करें