दो मुंहे बाल

दो मुंहे बाल

Hair split ends in hindi

do muhe baal se chut kara in hindi

 

दो मुंहे बाल या स्प्लिट एंड्स हेयर (split ends)  सबसे आम समस्याओं में से एक है जिसका सामना लगभग हर महिला को करना पड़ता हैं।

एक शोध के अनुसार, 50% से अधिक महिलाएं में दो मुंहे बालों की समस्या पायी जाती है।

हमारे स्कैल्प (Scalp) पर बाल जड़ (root) से बढ़ते हैं और इसके सिरे (strands) या एन्ड भाग (long end) बालों का आखिरी हिस्सा होता है, जो बढ़ते बालों के साथ पुराना हो जाता हैं।

ये बालों सबसे कमजोर हिस्सा होता हैं।

जब बालों के एन्ड भाग को सही से पोषण नहीं मिलता है तो इसको नुक्सान पहुँचता हैं।

परिणाम स्प्लिट एंड्स हेयर  होते हैं। आसान शब्दों में दो मुंहे बाल उन बालों को कहंते है जब बालों का एन्ड भाग दो या ज्यादा भागों में विभाजित हो जाता है।

दो मुंहे बाल कई विभिन्न पैटर्न (patterns) में हो सकते हैं। कभी-कभी बालों का एन्ड यानि स्ट्रैंड, 2 या ज्यादा भागों में बंट जाता हैं।

जब इस स्ट्रैंड के ज्यादा भाग हो जाते हैं तो बालों का सिरा या स्ट्रैंड एक पेड़ या झाड़ू (broom) की तरह दिखाई देता हैं।

मेडिकल टर्म्स (medical terms) में स्प्लिट एंड्स हेयर को ट्राइकोप्टाइलोसिस (trichoptilosis) कहते हैं।

 

दो मुंहे बाल के प्रारंभिक संकेत और लक्षण

Initial sign and symptoms of split ends in hindi

split ends hair ke shuruati lakshan in hindi

दो मुंहे बाल के प्रारंभिक संकेत

दो मुंहे बाल को वापिस ठीक करना मुश्किल होता हैं। इन्हे ट्रिम (trim) किये बिना हटा नहीं सकते हैं।

दो मुंहे बाल के लक्षणों और संकेतो को जानकर आप अपने बालों को ओर अधिक क्षतिग्रस्त होने से बचा सकते हैं :

  1. बालो का उलझना  (Hair getting tangled)

    दो मुंहे बाल होने पर आप महसूस करेंगे कि आपके बाल ज्यादा उलझे हुए और ड्राई हो गए हैं।

    आपके बालों से उंगलियां अगर बिना फसें गुजर सकती है तो आपके बाल स्वस्थ हैं लेकिन अगर आपकी उँगलियाँ आपके बालों के सिरों की ओर जाते हुए अटक जाती है तो आपके दो मुंहे बाल हैं।

  2. बालों के सिरे का बंटा हुआ दिखना (Visual splits ends)

    स्प्लिट एंड्स होने पर आपके बालों के सिरे (strands) पर एक या अधिक बाल दिखाई दते हैं।

    अपने हाथों में अपने बालों को ध्यान से देखे और अगर आपके बाल के एंड्स वाई (Y) शेप में बन रहे है तो आपके दो मुंहे बाल हैं।  

  3. टूटे हुए बालों की पतली परत (Thin strands of broken hair)

    जब कभी आप बालों को कंघा (combing) करते हो और अगर आपको फ्लोर (floor) या वॉशबेसिन (washbasin) पर छोटे-छोटे पतले बाल के टुकड़े दिखाई दें तो ये स्प्लिट एंड्स हेयर होने का संकेत होता हैं।

    फ्लोर या वॉशबेसिन पर गिरे हुए बाल वास्तव में बाकी बालों की मोटाई से पतले होते हैं और इन्हे टेपर्ड एंड्स (tapered end) भी कहा जाता हैं।

  4. ड्राई एंड्स (Dry ends)

    लिपिड प्रोटेक्टिव लेयर्स (lipid protective layer) के खराब होने से बाल अपनी अपनी नमी नहीं बनाये रख पाते हैं और बालों के सिरें सूखे हुए दिखते हैं।

    बाल, सूखे और बेजान होने पर अपनी स्मूथनेस और शाइन खो दते हैं।

  5. बालों का बढ़ना रूक जाएं  (Hair doesn’t seem to grow anymore)

    स्प्लिट एंड्स होने पर बालों को पोषण मिलना बंद हो जाता है और वो सुखने लगते हैं।

    ऐसा होने पर बालों का बढ़ना रूक जाता हैं।

 

दो मुंहे बाल होने के सामान्य कारण

Common causes for split ends in hindi

split ends hone ke common karan in hindi

दो मुंहे बाल के कारण

दो मुंहे बाल होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। इसमें पोषक तत्वों की कमी से लेकर जेनेटिकल (genetical) कारण भी हो सकते हैं।

कई बार ज्यादा जोर से बालों पर ब्रश करने, अधिक केमिकल्स (chemicals) का उपयोग करने और थर्मल ट्रीटमेंट (thermal treatments) के प्रयोग से भी दो मुंहे बाल हो जाते हैं।

दो मुंहे बाल का ट्रीटमेंट करने के लिए यह समझाना महत्वपूर्ण है कि उसके पीछे कारण क्या है:

  1. पोषण की कमी (मालनुट्रिशन) (Malnutrition)

    मालनुट्रिशन एक ऐसी स्थिति होती है जिसमें आपकी डाइट (diet) में पोषक तत्वों की कमी होती है।

    डाइट में पोषक तत्वों की कमी से हेयर फॉलिकल्स (hair follicles) द्वारा प्रोडूस (produce) नेचुरल आयल (natural oils) बालों की रूट्स से स्ट्रैंड्स तक नही पहुंच पाते और नतीजा दो मुंहे बाल या स्प्लिट एंड्स हेयर्स होते हैं।

  2. कॉस्मेटिक उपकरण और उत्पादों के उपयोग (Cosmetic tools and products)

    स्प्लिट एंड्स हेयर्स का सबसे बड़ा कारण कॉस्मेटिक उपकरण और उत्पादों के उपयोग से बालों में जाने वाली हीट (heat) और अमोनिया (ammonia) होता हैं।

    कॉस्मेटिक उपकरण के द्वारा हेयर स्टाइलिंग (styling), ब्रशिंग (brushing), डिटैंगलिंग (detailing), स्मूथिंग (smoothening), पंमिंग (pumming), ब्लो ड्राई (blow dry) आदि करवाने से बालों को जो हीट मिलती है उससे बालों को नुक्सान पहुँचता हैं।

    ब्लीच और कलर (bleach or color) करने के लिए जब सलूशन (solution) को बालों में लगाया जाता है तो बालों की ऑउटरमोस्ट लेयर और प्रोटेक्टेंट लेयर (outermost and protective layer) जिसे हेयर कुटिक्ल (Cuticle) कहते है,  खुल जाती है और बालों से नेचुरल पिग्मेंट (natural pigment) बाहर आ जाता हैं।

    इसी तरह कॉस्मेटिक उत्पादों जैसे शैम्पू, कंडीशनर, हेयर क्रीम, हेयर जेल आदि में अमोनिया (ammonia) होने की वजह से हेयर कुटिक्ल (hair cuticles) धीरे धीरे ख़राब हो जाते है और नतीज़ा दो मुंहे बाल। बार-बार बालों को धोने से भी बालों को नुकसान पहुँचता हैं।

  3. बालों में रगड़ लगना (Hair rubbing)

    कुछ कपड़े जो सूती (cotton) के नहीं होते जैसे टोपी, स्कार्फ, स्वेटर, तकिए के फैंसी कवर, तौलिया आदि हेयर कुटिक्ल को नुक्सान पहुंचाते है और नतीजा स्प्लिट एंड्स होते हैं।

    लंबे बाल शर्ट या जैकेट के पिछले हिस्से से टकराकर भी खराब होते हैं।

  4. वातावरण कारकों (Environmental factors)

    कभी-कभी वातावरण के कारण जैसे ज्यादा तेज हवा चलने से, ज्यादा ठंड में, लू चलने से, अधिक गर्मी में पसीना आने से, सूरज की किरणों से, ड्राई क्लाइमेट (dry climate) आदि में बालों को नुक्सान पहुँचता है और दो मुंहे बाल हो जाते हैं।

  5. इंटरनल फैक्टर्स (Internal factors)

    कभी-कभी दो मुंहे बाल होने के पीछे कई इंटरनल फैक्टर्स होते है, जैसे शरीर में पानी की कमी, शरीर में किसी अन्य स्वास्थ्य समस्या का होना जो बालों को प्रभावित कर रहा हो, अत्यधिक तनाव, पोस्ट प्रेगनेंसी (post pregnancy) आदि कारणों से भी दो मुंहे बाल हो जाते हैं।

 

सारांश

Summary in hindi

saransh in hindi

खूबसूरत बालों की चाहत हर महिला की होती हैं। बालों से संबंधित कई तरह की समस्याएं होती हैं जिसके कारण बाल कमजोर होकर दो मुंहे हो जाते हैं।

इसके लिए नियमित रूप से बालों की देखभाल करके, अच्छी डाइट लेकर और समय-समय पर बालों को ट्रिम या कटिंग करवाकर आप बालों को स्वस्थ रख सकते हैं।