गर्भावस्था के बेहतर अवसरों के लिए अंडों की गुणवत्ता में सुधार

Improve the quality of your eggs for better chances of pregnancy in hindi

Apne andanu swasthay par de dhyaan


एक नज़र

  • अंडे की अच्छी गुणवत्ता का होना प्रजनन क्षमता के लिए महत्वपूर्ण है।
  • शराब अंडे की सेहत बिगाड़ने सहित कई प्रजनन समस्याओं का कारण है। इसलिए शराब पीने से बचें या इसकी खपत कम करें।
  • रोजाना वर्कआउट रूटीन आपके अंडे की सेहत को बेहतर बना सकता है और आपकी प्रजनन क्षमता में सुधार कर सकता है।
triangle

Introduction

Improve the quality of your eggs

एक महिला के अंडाशय में स्वस्थ अंडे का होना मासिक धर्म की नियमितता, भविष्य की उर्वरता और गर्भ धारण करने की क्षमता निर्धारित करता है। लेकिन, सवाल यह है कि आप यह कैसे तय कर सकती है कि अंडे स्वस्थ हैं या अंडे की गुणवत्ता अच्छी है? एक महिला के अंडे की गुणवत्ता और स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाले विभिन्न प्रकार के कारक हैं, जैसे कि आहार और पोषण, दैनिक जीवन में तनाव और आराम की मात्रा, सामाजिक जीवन शैली, पर्यावरणीय कारक, हार्मोन और शरीर का परिसंचरण तंत्र। अपने जीवन में इन कारकों की जांच करने के बाद, एक महिला जीवन शैली में सरल परिवर्तन, सही पोषण और स्वस्थ आहार का उपयोग करके गर्भवती होने की संभावना बढ़ा सकती है, जिससे उसके अंडों की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है।

एक लड़की का जन्म उन सभी अंडाणुओं के साथ होता है, जिन्हें वह अपने जीवनकाल में जारी करती है। स्त्री शरीर में लगभग 1 मिलियन अंडे होने का अनुमान है। जब तक वह युवावस्था में पहुंचती है, तब तक अंडों की अनुमानित संख्या 300,000 तक घट जाती है। इनमें से, एक महिला का अंडाशय उसके पूरे प्रजनन जीवन के दौरान निषेचन के लिए लगभग 300 से 400 अंडे जारी करता है। [1]

loading image

इस लेख़ में

 

अंडे की गुणवत्ता क्या है और यह प्रजनन क्षमता को कैसे प्रभावित करता है?

What is egg quality and how it affects fertility in hindi

Ande ki gunvatta kya hai

अंडे की गुणवत्ता का मतलब है कि अंडे की आनुवंशिक स्थिति कैसी है सामान्य या असामान्य। यह वो कारक है जो गर्भाशय में अंडे के आरोपण (implantation) की संभावना को निर्धारित करता है। अंडे की गुणवत्ता आपकी प्रजनन क्षमता और आपकी गर्भवती होने की क्षमता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। एक उच्च गुणवत्ता वाले अंडे से निषेचन और भ्रूण में विकसित होने, गर्भाशय में आरोपण होने और फिर एक सफल गर्भाधान होने की अधिकतम संभावना होती है। इसलिए, अंडे की गुणवत्ता, सफल प्राकृतिक गर्भावस्था और इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (आईवीएफ) जैसे बांझपन उपचार के लिए महत्वपूर्ण है।

अंडे की गुणवत्ता उम्र, आनुवांशिकी, तनाव, पर्यावरण आदि जैसे कई कारकों पर निर्भर करती है। अंडे की गुणवत्ता नीचे लिखे कारकों के कारण भी घट सकती है:

उपरोक्त सभी कारकों में से, अंडे की गुणवत्ता की बात करें तो उम्र सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है। 20 से 30 साल की महिलाओं में 30 से 40 साल की महिलाओं की तुलना में सामान्य अंडे की संख्या अधिक होती है। 25 साल की महिला और 40 साल की महिला के बीच अंडे की गुणवत्ता में बड़ा अंतर हो सकता है, 25 साल की महिला में ओवुलेशन के दौरान स्वस्थ अंडा जारी करने की अधिक संभावना है जबकि 40 वर्षीय महिला एक स्वस्थ गर्भावस्था के लिए स्वस्थ अंडाणु जारी करने में विफल हो सकती है।

इसलिए, 30 से 40 उम्र की महिलाओं में असामान्य या खराब गुणवत्ता वाले अंडे का प्रतिशत अधिक पाया जाता है। इसका मतलब है कि आपके द्वारा ओवुलेशन के दौरान एक खराब गुणवत्ता वाला अंडा जारी करने की अधिक संभावना हो सकती है और इसीलिए आपको गर्भवती होने में परेशानी हो सकती है। इसी तरह, अंडों की खराब गुणवत्ता, लंबे समय में, बांझपन, गर्भपात और बच्चे में डाउन सिंड्रोम जैसे आनुवंशिक विकारों को जन्म दे सकती है।

loading image
 

अंडे की गुणवत्ता की जांच कैसे करें?

How to check egg quality? in hindi

Ande ki gunvatta ki jaanch kaise kare

यदि आप 30 साल की हो चुकी हैं या उससे ऊपर हैं और गर्भ धारण करने की कोशिश कर रहे हैं, तो आपके गर्भवती होने की संभावनाओं की जांच करने के लिए अंडे की जांच करवाना एक अच्छा विचार है। यह आपके अंडाणु स्वास्थ्य के अनुसार आपकी गर्भावस्था की योजना बनाने में मदद करेगा। गर्भावस्था को प्राप्त करने में आपकी मदद करने के लिए डॉक्टर भी आपको विकल्प और उपचार दे सकते हैं।

अंडे की की गुणवत्ता की जांच के लिए कोई निश्चित परीक्षण नहीं हैं लेकिन कुछ परीक्षण हैं जो अंडे की गुणवत्ता और मात्रा का पता लगाने में मदद कर सकते हैं।

डे 3 FSH और एस्ट्राडियोल टेस्ट

फॉलिकल स्टीमुलेटिंग हार्मोन (एफएसएच) और एस्ट्राडियोल आपके मासिक धर्म चक्र के तीसरे दिन के दौरान मापा जाता है। फॉलिकल स्टीमुलेटिंग हार्मोन, मासिक धर्म चक्र और अंडाशय में अंडे के विकास को नियंत्रित करने में मदद करता है। एफएसएच के उच्च स्तर खराब गुणवत्ता या अंडों की कम मात्रा का संकेत कर सकते हैं। इसे डे 3 एफएसएच परीक्षण कहा जाता है क्योंकि यह आपके मासिक धर्म चक्र के तीसरे दिन आयोजित किया जाता है।

इसी तरह, एस्ट्रैडियोल (एक महिला सेक्स हार्मोन) का उच्च स्तर खराब गुणवत्ता और अंडों की अपर्याप्त मात्रा की ओर संकेत कर सकते हैं और यह आपके लिए प्रजनन दवाओं पर प्रतिक्रिया करना भी कठिन बना सकता है।

ट्रांसवेजाइनल अल्ट्रासाउंड

एक ट्रांसवजाइनल अल्ट्रासाउंड आपके डॉक्टर को आपके अंडाशय में सोये हुए एग फॉलिकल की संख्या को समझने में मदद करता है। एग फॉलिकल वो अपरिपक्व अंडे हैं जो संभवतः ओव्यूलेशन के दौरान जारी किए जा सकते हैं। बड़ी संख्या में एग फॉलिकल यह इंगित करते हैं कि आपके पास सामान्य ओवेरियन रिजर्व है और इनकी कम संख्या का मतलब है कि आपको अंडे की मात्रा या गुणवत्ता में खराबी हो सकती है।

क्लोमिड चैलेंज टेस्ट

क्लोमिड चैलेंज टेस्ट एक इनफर्टिलिटी ब्लड टेस्ट है जो महिलाओं के ओवेरियन रिजर्व को मापने के लिए किया जाता है। यदि आपका फॉलिकल स्टीमुलेटिंग हार्मोन और एस्ट्राडियोल टेस्ट असामान्य है तो डॉक्टर यह परीक्षण भी कर सकता है। क्लोमिड एक फर्टिलिटी दवा है जिसे आपको, मासिक धर्म के 5वें दिन से 9वें दिन तक लेना होगा।

यदि आप इस दवा की खराब प्रतिक्रिया देते हैं तो इसका मूल रूप से मतलब है कि आप आईवीएफ उपचार के दौरान इस्तेमाल की जाने वाली प्रजनन दवाओं के प्रति भी खराब प्रतिक्रिया दे सकते हैं। इस परीक्षण के लिए खराब प्रतिक्रिया भी खराब अंडे की गुणवत्ता का संकेत है।

 

अपने अंडे के स्वास्थ्य में सुधार करने के तरीके?

Ways to improve your Egg Health in hindi

Andanu swasthay me sudhar ke tareeke

अंडे की सेहत बढ़ती उम्र सहित कई कारकों पर निर्भर है। अगर अंडे की खराब गुणवत्ता है तो इसका मतलब यह नहीं है कि आप बांझ हैं या आप गर्भवती नहीं हो सकती हैं। एक सफल गर्भावस्था के लिए आपके अंडे की गुणवत्ता बढ़ाने के कई तरीके हैं। आप कई प्राकृतिक तरीके अपना सकती हैं जिनके माध्यम से अंडे की गुणवत्ता में सुधार किया जा सकता है। बाजार में उपलब्ध अंडे की गुणवत्ता में सुधार के लिए कई सप्लीमेंट हैं, जैसे “ बैलेंस फॉर वीमेन” भारत का जाना मन महिलाओं के लिए सप्लीमेंट।

loading image
 

अंडे की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए पूरक आहार का उपयोग

Use of Supplements to improve egg qualityin hindi

Andanu mein sudhar ke liye Supplements

डिम्बग्रंथि रिजर्व कम होने के साथ एक महिला में अंडे की गुणवत्ता और प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए दवाओं को खोजने के लिए वर्षों से अध्ययन चल रहा है। बाजार में और ऑनलाइन शॉपिंग पोर्टल्स में कई सप्लीमेंट्स उपलब्ध हैं जिनका उपयोग अंडे की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए किया जा सकता है।

CoQ10 (कोएंजाइम CoQ10)

कई अध्ययनों से पता चलता है कि कोएंजाइम Q10 (CoQ10) ओवेरियन प्रतिक्रिया को बढ़ाता है और अंडे की गुणवत्ता में सुधार करता है। 186 महिलाओं पर किए गए एक हालिया अध्ययन ने निष्कर्ष निकलता है कि CoQ10 दवा युवा महिलाओं में ओवेरियन प्रतिक्रिया, ऊसाईट (oocyte quality) गुणवत्ता और अंडे की गुणवत्ता को बढ़ा सकती है जो एआरटी (आईवीएफ / आईयूआई आदि) उपचारों के लिए खराब प्रतिक्रिया दिखाते हैं। [2]

DHEA (डीहाइड्रोएपियनड्रोस्टरोन)

DHEA (डीहाइड्रोएपियनड्रोस्टरोन) को उम्र बढ़ने के साथ पैदा होने वाले अंडाशय के लगभग सभी रोगों की देखभाल करने और महिलाओं में ओवेरियन रिजर्व को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। यह अंडे की गुणवत्ता में सुधार के लिए भी बेहद फ़ायदेमंद है। हालाँकि, इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हैं जैसे आवाज़ में गहरापन, चेहरे पर बालों का बढ़ना, मुंहासे आदि।[3]

ग्लूटेथिओन (Glutathione)

ग्लूटाथियोन शरीर का प्रमुख एंटीऑक्सीडेंट है और आपके अंडे की गुणवत्ता वास्तव में इस पर निर्भर है। यह अंडाणु विकास के दौरान प्रारंभिक चरणों के दौरान किसी भी क्षति से अंडे सुरक्षा करता है। ग्लूटाथियोन के उच्च स्तर के साथ एक ऊसाईट (एक अपरिपक्व अंडा सेल) स्वस्थ भ्रूण विकसित कर सकता है। [4]

 

अंडे की गुणवत्ता में सुधार के प्राकृतिक तरीके

Natural ways to improve egg qualityin hindi

Natural tarike se egg quality badhaye

कई ऐसी चीजें हैं जो रोजमर्रा के जीवन में कर सकते हैं जो आपके अंडे के स्वास्थ्य और समग्र प्रजनन क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं। आपकी समग्र शैली को बदलने से आपके अंडे के स्वास्थ्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है और आपके गर्भाधान की संभावना बढ़ सकती है।

दैनिक जीवनशैली में कसरत को शामिल करें

रोजाना वर्कआउट रूटीन आपके अंडे की सेहत को बेहतर बना सकता है और आपकी प्रजनन क्षमता में सुधार कर सकता है। कसरत मूल रूप से तनाव और चिंता को कम करने का एक आसान तरीका है जो लंबे समय में आपकी प्रजनन क्षमता पर प्रभाव डाल सकते है। व्यायाम, योग, पिलेट्स आदि करना तनाव और चिंता को कम करने में मदद कर सकता है और साथ ही आपके अंडे के स्वास्थ्य में सुधार कर सकता है।

स्वस्थ और प्रजनन-अनुकूल आहार अपनाएं

पोषक तत्वों से भरपूर एक स्वस्थ आहार आपके अंडे के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करता है और आपके गर्भवती होने की संभावनाओं को बेहतर बनाने के लिए आवश्यक है। ऐसे कई फल और सब्जियां हैं जिनकी मदद से आप प्रजनन क्षमता हासिल कर सकते हैं। बस अपने रोजमर्रा के आहार में (अपने करी, सलाद, सैंडविच, आदि) में इन सुपरफूड्स को शामिल करें। उदाहरण के लिए:

  • एवोकाडो
  • बादाम
  • मूंगफली
  • काजू
  • तिल के बीज
  • रास्पबेरी
  • स्ट्रॉबेरीज
  • पालक
  • पत्ता गोभी
  • ब्रोकोली
  • अदरक
  • दालचीनी

शराब से बचें

शराब अंडे की सेहत बिगाड़ने सहित कई प्रजनन समस्याओं का कारण है। इसलिए शराब पीने से बचें या इसकी खपत कम करें। यदि आप गर्भवती होने की कोशिश कर रहे हैं, तो यह सलाह दी जाती है कि आपको शराब पीना पूरी तरह से बंद कर देना चाहिए।

एक्यूपंक्चर का अभ्यास करें

एक्यूपंक्चर चीनी चिकित्सा का एक प्राचीन रूप है जो बांझपन सहित कई स्वास्थ्य दोषों में सुधार के लिए अपनी असाधारण क्षमताओं के लिए काफी लोकप्रिय हो गया है। कई डॉक्टर बांझपन उपचार के दौरान एक्यूपंक्चर की सलाह देते हैं क्योंकि यह तनाव और चिंता के स्तर को कम करता है जो प्रजनन क्षमता को सुधार सकता है। यह महिलाओं में अंडे की गुणवत्ता में सुधार करने में भी मददगार माना जाता है।

loading image

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

references

संदर्भ की सूचीछिपाएँ

1 .

My.clevelandclinic.org. “Female Reproductive System”. My.clevelandclinic.org, 19 January 2019.

3 .

Nikita Naredi, K. Sandeep, et al. “Dehydroepiandrosterone: A panacea for the ageing ovary?”. Med J Armed Forces India. 2015 Jul; 71(3): 274–277, PMID: 26288496.

4 .

Oyewopo Adeoye, Johnson Olawumi, et al. “Review on the role of glutathione on oxidative stress and infertility”. JBRA Assist Reprod. 2018 Jan-Mar; 22(1): 61–66, PMID: 29266896.

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 21 Oct 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

तीस की उम्र के बाद कैसे करें गर्भाधान की तैयारी

तीस की उम्र के बाद कैसे करें गर्भाधान की तैयारी

लड़का कैसे पैदा होता है?

लड़का कैसे पैदा होता है?

गर्भावस्था से पहले तीन महीने

गर्भावस्था से पहले तीन महीने

प्रेग्नेंट कब और कैसे होती है ?

प्रेग्नेंट कब और कैसे होती है ?

महिला और पुरुष इनफर्टिलिटी के प्रकार, कारण और उपचार

महिला और पुरुष इनफर्टिलिटी के प्रकार, कारण और उपचार
balance
article lazy ad