paushtik pey kya hai

हेल्दी ड्रिंक्स क्या हैं

What are healthy drinks in hindi

paushtik pey kya haiin hindi

 

हेल्दी ड्रिंक उसे कहते हैं, जो चीनी मुक्त (sugar free) होता है, जो घर का में बनाया जा सकता है और ताज़ा होता है।

आजकल युवाओं शरीर को डिटॉक्सिफाई (detoxify) करने के लिए, स्वास्थ्य पेय की ओर रुख करना पसंद कर रहे हैं।

ऐसे में हेल्दी ड्रिंक की मदद से प्राकृतिक अवयवों (ingredients) का विकल्प चुनें और अपने पेय को जितना संभव हो उतना स्वस्थ रखें।

दरअसल पेय पदार्थ पानी का ही रूप हैं, जो शरीर में पानी और ऊर्जा का स्तर बनाये रखने में मदद करते हैं।

 हेल्दी ड्रिंक के तौर पर एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर ग्रीन-टी, एलोवेरा जूस, संतरे का जूस से लेकर पालक, चुकंदर और अनार का जूस फ़ायदेमंद होता है।

इन जूस की ख़ासियत ये है कि इसमें किसी भी तरह के प्रिज़र्वेटिव्स नहीं होते हैं और ये घर पर आसानी से बनाये जा सकते हैं।

इनके सेवन से स्वास्थ्य को किसी भी तरह का नुकसान भी नहीं पहुँचता है।

घर पर बनाये गए हेल्दी ड्रिंक्स में मौजूद प्राकृतिक शक्कर (natural sugars), एंटीऑक्सिडेंट्स (antioxidants) और डायट्री फाइबर (dietary fiber) आपको ऊर्जा प्रदान करता है और साथ ही आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।

 

पौष्टिक पेय के प्रकार

Types of healthy drinks in hindi

Swasthya pey ke prakar in hindi

हम सभी जानते हैं कि हमारे शरीर में पानी की 70 प्रतिशत मात्रा होती है।

हमारे शरीर की सबसे जरूरी और मूलभूत ज़रूरत पानी ही है।

पानी के साथ, हम एंटीऑक्सिडेंट जोड़कर पेय के स्वाद को और अच्छा बना सकते हैं।

इससे यह स्वाद में बेहतर तो होगा ही साथ ही साथ यह आपके शरीर के लिए भी लाभदायक है। 

आइए जानते हैं हेल्दी ड्रिंक के प्रकार के बारे में:

  • ग्रीन-टी (Green tea)

  • पुदीने की चाय (Mint tea)

  • अदरक की चाय (Ginger tea)

  • संतरे का जूस (Orange juice)

  • अनार का जूस (Pomegranate juice)

  • एलोवेरा जूस (Aloe vera juice)

  • तरबूज़ का जूस (Watermelon juice)

  • चुकंदर का जूस (Beetroot juice)

  • गाजर का जूस (Carrot juice) 

  • पालक का जूस (Spinach juice)

 

घर पर बने पेय के लाभ

Benefits of homemade healthy drinks in hindi

Ghar ke bne pey ke labh in hindi

ताज़े फलों और सब्जियों के सेवन करने का सबसे प्रभावी तरीकों में से एक फलों और सब्जियों का जूस पीना।

नियमित रूप से बेहतर महसूस करने के लिए, बेहतर दिखने के लिए और ऊर्जावान बने रहने के लिए जूस का सेवन करना बहुत लाभकारी होता है। 

हेल्दी ड्रिंक पीने के क्या-क्या फ़ायदे होते हैं :

  • हेल्दी ड्रिंक्स वज़न कम करने में मददगार हैं।

  • हेल्दी ड्रिंक्स शरीर को हाइड्रेट रखते हैं।

  • शरीर में उच्च पोषक तत्वों के स्तर की आपूर्ति करता है। 

  • चेहरे पर चमक लाता है।

  • एंटी-ऑक्सीडेंट प्रदान करता है।

  • प्रतिरक्षा (immunity) बढ़ाता है।

  • बॉडी को डिटॉक्सीफाई करता है।

  • ब्रेन पॉवर को बढ़ाता है।

 

वर्कआउट के दौरान हेल्दी ड्रिंक्स क्यों ज़रुरी है

Why healthy drinks are good during workout in hindi

Workout ke dauran healthy drink kyun zaruri hai in hindi

व्यायाम या किसी भी तरह का वर्कआउट करते समय हमारे शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है।

ऐसे में व्यायाम के दौरान शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए जूस पीना फ़ायदेमंद होता है।

इससे शरीर में पानी का संतुलन बना रहता है।

ऐसे में जानते हैं कि व्यायाम के दौरान या उसके बाद हेल्दी ड्रिंक क्यों पीना चाहिए : - 

  • शरीर में पानी की मात्रा बनाये रखने के लिए वैसे तो पानी पीना ही सबसे उचित है, लेकिन शरीर में वॉटर-इलेक्ट्रोलाइट संतुलन (water-electrolyte-balance) बनाए रखने के लिए इलेक्ट्रोलाइट युक्त चीज़ का सेवन करना और भी बेहतर होता है।

    ऐसे में जूस में मौजूद कार्बोहाइड्रेट, इलेक्ट्रोलाइट और अमीनो एसिड (amino acids) व्यायाम के बाद भी मांसपेशियों को बेहतर रखने में मददगार होते हैं।

  • किसी भी तरह के केमिकल पर प्रेसेर्वटिव्ज़ (preservatives) युक्त ड्रिंक की जगह घर का बना जूस व्यायाम के बाद आपके शरीर के लिए अधिक फ़ायदेमंद होता है। 

  • एक्सरसाइज़ के दौरान आपके ऊर्जा का स्तर कम हो जाता है।

    ऐसे में इसे बनाये रखने के लिए जूस का सेवन करना अच्छा होता है क्योंकि इससे आपकी शारीरिक ऊर्जा का स्तर संतुलित रहता है। 

 

रेडिमेड जूस बनाम नैचरल एनर्जी ड्रिंक्स

Readymade juice vs Natural energy drinks in hindi

Readymade juice banam natural energy drinks in hindi

ड्रिंक्स की अगर बात करें बाज़ार में आपको प्रिजरवेटिव्स युक्त रेडीमेड ड्रिंक्स हर तरफ मिल जायेंगे।

ये ड्रिंक्स आपको वर्कआउट के दौरान ऊर्जा प्रदान करने का दावा भी करते हैं।

हालांकि एक्सपर्ट्स मानते हैं कि रेडीमेड ड्रिंक की बजाय घर का बना नैचुरल ड्रिंक ज़्यादा फ़ायदेमंद होता है।

रेडीमेड जूस की जगह नैचुरल एनर्जी ड्रिंक्स का चयन करना चाहिए क्योंकि : - 

  • नैचुरल एनर्जी ड्रिंक्स की सबसे अच्छी बात ये है कि इसमें चीनी नहीं होती है और खासतौर से इसमें फ्रूट शुगर (fruit sugar) यानि फ्रुक्टोज़ (fructose) होता है। 

  • रेडीमेड ड्रिंक्स की तुलना में नैचुरल ड्रिंक्स में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा लगभग 8 प्रतिशत होती है, जो वज़न को कम करने में कारगर होता है। 

  • नैचुरल ड्रिंक्स में सोडियम की भी मात्रा बहुत कम होती है, जो हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों के लिए भी अच्छा होता है। 

 

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

Nishkarsh in hindi

अपने शरीर को स्वस्थ्य और हाइड्रेटेड रखने के लिए नैचुरल एनर्जी ड्रिंक्स को अपने आहार का हिस्सा बनाना आपके लिए बेहद फ़ायदेमंद है।

घर पर बने एनर्जी ड्रिंक्स बाज़ार में मिलने वाले रेडी टू यूज़ ड्रिंक्स से अधिक फ़ायदेमंद होते हैं।

व्यायाम के बाद एनर्जी ड्रिंक्स का सेवन करने से शरीर में पर्याप्त ऊर्जा बनी रहती है।