सूखे और बेजान बाल

सूखे और बेजान बाल

Dry and Damaged hair in hindi

dry and damaged hair ki dekhbhal in hindi

सूखे और बेजान बाल किसी भी उम्र के पुरुषों या महिलाओं को प्रभावित कर सकते हैं लेकिन बढ़ती उम्र में सूखे और बेजान बाल होने की अधिक संभावना होती हैं।

त्वचा में सूखेपन की समस्या की तरह बालों में भी सूखेपन की समस्या आती हैं।

जिस तरह हमारे शरीर को नमी की जरुरत होती है, उसी प्रकार बालों को आवश्यक नमी देना बहुत जरुरी होता हैं।

जहा त्वचा को 10 % नमी (moisture) की आवश्यकता होती हैं वही बालों को 15% से 17% नमी की आवश्यकता होती हैं।

बालों में नमी की कमी सूखे और बेजान बाल होने का पहला संकेत होती हैं।

सूखे और बेजान बालों का सबसे बढ़ा नुकसान समय से पहले बालों का टूटना होता हैं। सूखे बाल बेजान दिखते है और उनमे कोई चमक नहीं होती हैं।

बालों की तीन परतें

Three Layers of Hair in hindi

balo ki teen parte or balo ka structure in hindi

loading image

बाल मुख्य रूप से तीन परतों से बने होते हैं। बालों की संरचना, रंग और चमक इन तीनो परतों से बनती हैं।

बालों के स्ट्रक्चर (structure) में तीन परतें (layers) प्रकार हैं :

  1. क्यूटिकल (Cuticle)

    ऑउटरमोस्ट लेयर (Outermost layer) और प्रोटेक्टेंट लेयर (protectant layer) - ये लेयर दूसरी लेयर्स को प्रोटेक्ट (protect) करती हैं।

  2. कोर्टेक्स (Cortex)

    मिडिल लेयर (Middle layer) - ये बालों का मुख्य भाग होता हैं जो केराटिन (keratin) और फैटी एसिड (fatty acids) से बना होता है और बालों को इलास्टिसिटी, रेसिसटेंस और नेचुरल कलर (elasticity, resistance, natural colour) देता हैं।

  3. मेडुला (medulla)

    इनर कोर (Inner core) - ये लेयर केवल थिक हेयर्स (thick hairs) में पायी जाती हैं और इसमें पैक्ड केराटिन (packed keratin), फैटी एसिड (fatty acids) और पिग्मेंट (pigment) होता हैं।

ऑउटरमोस्ट लेयर क्यूटिकल(Cuticle) में मौजूद नेचुरल आयल (natural oil) अंदर की दो लेयर्स को स्वस्थ रखकर बालों को प्रोटेक्ट करता हैं।

जब बालों के टिप से क्यूटिकल की प्रोटेक्टिव लेयर हट जाती है तो सूखे और बेजान हेयर हो जाते हैं।

सूखे और बेजान बाल के प्रारंभिक संकेत और लक्षण

Initial sign and symptoms of dry and damaged hair in hindi

dry and damaged balo ke shuruati lakshan in hindi

loading image

सूखे और बेजान बाल होने के कुछ प्रारंभिक संकेत और लक्षण होते है जिन्हे जानने के बाद उनका इलाज करना संभव होता हैं।

सूखे और बेजान हेयर के निम्न संकेत और लक्षण हैं:

  1. नो स्मूथनेस, नो शाइन (Lack of shine and smoothness)

    स्वस्थ बाल कोमल और मुलायम होते हैं क्योंकि उनमे नमी होती हैं। बाल नमी के लिए हेयर रूट्स (hair roots) में बने नेचुरल ऑयल्स (natural oil) पर निर्भर करते है ।

    जब बालों के टिप से क्यूटिकल की प्रोटेक्टिव लेयर हट जाती है और बालों की लिपिड प्रोटेक्टिव लेयर्स (lipid protective layers) केमिकल के उपयोग से खराब हो जाती है तो बाल सूखे और बेजान हो जाते हैं। सूखे और बेजान बाल डैमेज होने पर अपनी स्मूथनेस और शाइन खो दते हैं।

  2. दो मुहें बाल (Split end hair)

    सूखे और बेजान बाल डैमेज (damage) होने पर दो मुंहे बाल होते हैं। अगर आपके बाल के एंड्स वाई (Y) शेप में बन रहे है, तो आपके दो मुंहे बाल हैं। कभी-कभी आपको बालों के सिरे (ends) बाकी बाल की मोटाई के मुकाबले पतला लगता है जो सूखे और बेजान होने का संकेत हैं।

  3. टूटे हुए बालों की पतली परत (Thin strands of broken hair)

    जब कभी आप बालों को कंघा करते हो और अगर आपको फ्लोर (floor) या वॉशबेसिन (washbasin) पर छोटे-छोटे पतले बाल के टुकड़े दिखाई दें तो ये सूखे और बेजान बाल होने का संकेत होता हैं।

  4. अत्यधिक बाल झड़ना (Excess hair fall)

    सूखे और बेजान बाल होने पर बालों का झड़ना शुरू हो जाता हैं। सूखे बाल उलझकर ज्यादा टूटते हैं। साथ ही स्कैल्प पर सूखेपन की वजह से डैंड्रफ भी हो जाता है जो बालों के झड़ने का एक ओर कारण बनता हैं।

सूखे और बेजान बाल होने के सामान्य कारण

Common causes for dry and damaged hair in hindi

sukhe aur bejan balo ke hone ke karan in hindi

loading image

सूखे और बेजान हेयर होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिसमे पोषक तत्वों की कमी या कुछ जेनेटिक्स (Genetic) कारण भी शामिल हैं।

सूखे और बेजान बालों का ट्रीटमेंट करने के लिए यह समझाना महत्वपूर्ण है कि उसके पीछे क्या कारण है:

  1. लौ पोरोसिटी हेयर्स (Low porosity hair)

    पोरोसिटी लेवल (Porosity level) बालों के द्वारा नमी को अब्सॉर्ब (absorb) करने का एक मेज़रमेंट (measurement) होता हैं।

    इसके द्वारा हम ये पता लगा सकते है कि हमारे बालों में नमी कितनी आसानी से अब्सॉर्ब हो जाती हैं। जब पोरोसिटी लेवल कम होता है तो बाल आसानी से नमी को अब्सॉर्ब नहीं कर पाते।

  2. पोषण की कमी (Malnutrition)

    डाइट में पोषक तत्वों की कमी से हेयर फॉलिकल्स (hair follicles) द्वारा प्रोडूस नेचुरल आयल बालों की रूट्स (roots) से स्ट्रैंड्स (strands) तक नही पहुंच पाते और नतीजा ड्राई एंड डैमेज हेयर होते हैं।

  3. कॉस्मेटिक उपकरण और उत्पादों के उपयोग (Cosmetic tools and products)

    कॉस्मेटिक उपकरण और उत्पादों के उपयोग से बालों को नुकसान पहुंचता है, जैस बालों को बार-बार हार्श शैम्पू (harsh shampoo) से धोने पर बालों से नेचुरल आयल खत्म हो जाता हैं।

    अल्कोहल वाले स्टाइलिंग प्रोडक्ट्स (alcohol-based styling products) को बालों पर लगाने से बाल खराब हो जाते हैं।

    बालों को स्ट्रैट या कर्ल करने के लिए गर्म हेयर स्ट्रेटनर (hair straightener) या कर्लिंग आयरन (curling irons) का उपयोग करने से बाल खराब हो जाते हैं।

    इसके अलावा रासायनिक उपचार (chemical treatments), डाई (Dye), ब्लीच और कलर (bleach or color) करने से कुटिक्ल से नेचुरल पिग्मेंट (natural pigment) बाहर आ जाता हैं। नतीज़ा ड्राई एंड डैमेज हेयर होते हैं।

  4. दवाओं का उपयोग (Use of certain Medications)

    कई दवाओं के उपयोग जैसे एंटी-डिप्रेसेंट (anti-depressants), एंटीबायोटिक्स (antibiotics), मुँहासो की दवाएं (acne medications), एंटिफंगल दवाएं (anti fungal medications), कीमोथेरेपी ड्रग्स (chemotherapy drugs), हाई बी पी (high BP) दवाएं, वजन घटाने की दवाएं, गाउट की दवा (gout medication) और कई अन्य दवाओं से बाल सूखे और बेजान हो सकते हैं।

    अपने डॉक्टर से सलाह लिए बिना किसी भी दवाई का सेवन ना करें अन्यथा परिणाम गलत हो सकते हैं।

  5. स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं (Health related problems)

    कभी-कभी कुछ स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं बालों के स्वास्थ्य पर प्रभाव डालती है जिसकी वजह से बाल सूखे और बेजान हो जाते हैं।

    1. एनोरेक्सिया नर्वोसा (Anorexia nervosa)

      एनोरेक्सिया नर्वोसा एक ईटिंग डिसऑर्डर (eating disorder) होता है जिसके कारण मालनुट्रिशन (malnutrition) हो जाता हैं। ये ड्राई एंड डैमेज हेयर के साथ-साथ बालों की कुछ अन्य गंभीर समस्याएं भी पैदा करता है।

    2. हाइपोपैरथायरायडिज्म और हाइपोथायरायडिज्म (Hypoparathyroidism and Hypothyroidism )

      हाइपोपैरथायरायडिज्म और हाइपोथायरायडिज्म की स्थिति में पैराथाइरॉइड और थायरॉयड ग्रंथियां (parathyroid and thyroid gland) पर्याप्त थायराइड हार्मोन (Thyroid hormone) का उत्पादन नहीं करती है जिसकी कमी की वजह से ब्लड कैल्शियम (blood calcium) का लेवल कम हो जाता है।

      कैल्शियम स्वस्थ बालों, स्वस्थ हड्डियों, दांतों और अन्य ऊतकों (tissues) के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व होता है।

    3. मेंक्स सिंड्रोम (Menkes syndrome)

      मेंक्स सिंड्रोम एक जेनेटिक स्थिति होती है जिसमे हमारे शरीर के सेल्स (cells) पर्याप्त मात्रा में कॉपर (copper) को अब्सॉर्ब नहीं कर पाते हैं। शरीर में कॉपर की कमी बालों के स्वास्थ्य को प्रभावित करती है, जिससे सूखे और बेजान हेयर होते हैं।

  6. वातावरण कारकों के कारण (Environment factors)

    ड्राई क्लाइमेट (dry climate), गर्म जलवायु (hot climate), ओवरएक्सपोसर ऑफ़ सनलाइट (over exposure of sunlight), प्रदुषण वाले वातावरण में अधिक समय बिताना, क्लोरीनयुक्त (chlorinated) या साल्टी पानी (salty water) में तैरना आदि कुछ ऐसे फैक्टर्स (factors) है जिनके कारण बाल सूखे और बेजान हो जाते हैं।

सूखे और बेजान बालों को लाइफस्टाइल में बदलाव करके और अपनी डाइट का ध्यान रखकर इलाज किया जा सकता हैं।

यदि फिर भी आपके बाल सूखे और बेजान रहते है तो किसी हेयर एक्सपर्ट या डॉक्टर से सलाह करें।

सारांश

Summary in hindi

saransh in hindi

सूखे और बेजान बालों के कारण बालों का झड़ना और टूटना सबसे बड़ी समस्या होती हैं।

यदि आप अपने बालों की देखभाल नहीं करेंगे तो आपके बाल सूखे और बेजान होकर टूटने लगेंगे।

zealthy contact

कॉल

zealthy whatsapp contact

व्हाट्सप्प

book appointment

अपॉइंटमेंट बुक करें