रूसी का उपचार

Treatment of Dandruff in hindi

Rusi ka ilaj in hindi


Introduction

रूसी_का_उपचार

रूसी सर की ऊपरी त्वचा यानि स्कैल्प से सेल्स का झड़ना है। आमतौर पर हमारे सिर से हर रोज़ मृत कोशिकाएं झड़ती है। यही कोशिकाएं जब ज्यादा मात्रा में गिरने लगती हैं तो रूसी का रूप ले लेती हैं।

रूसी की समस्या शुरू होते ही तमाम तरह की बालों की समस्याएं, बालों में घर करना शुरू कर देती हैं। यह किसी भी उम्र में कभी भी हो सकती हैं। रूसी की समस्या के कारण बालों में खुजली भी शुरू हो जाती है।

मगर ज्यादातर मामलों में रूसी की समस्या पर काबू पाया जा सकता है। रूसी के मामले में टी-ट्री ऑयल भी कारगर साबित होता रहा है।

डॉक्टर के द्वारा प्रेस्क्राइबड मेडिकेटेड शैंपू (prescribed medicated shampoo) के इस्तेमाल से रूसी को समस्या ख़त्म हो सकती है। मगर कुछ मामलों में यह गंभीर रूप धारण कर लेता है जब डॉक्टर से परामर्श की सख़्त ज़रूरत होती है।

loading image

इस लेख़ में

 

रूसी के प्रकार

Types of Dandruff in hindi

Dandruff ke prakar in hindi

loading image

बालों में रूसी के कई प्रकार होते हैं। आइए एक नज़र रूसी के विभिन्न प्रकारों पर डालें :

  1. ड्राई स्किन रूसी (Dry skin Dandruff)
    ड्राई स्किन रूसी की समस्या ठंड के वक्त ज्यादा होती है। ठंड के वक्त गर्म पानी के इस्तेमाल से सिर की ऊपरी त्वचा रुखी हो जाती है। जिससे रूसी की समस्या शुरू होती है।
    वही दूसरी तरफ यह समस्या हीट प्रोडक्ट्स (heat products) के अधिक इस्तेमाल से भी होती है। ड्राई स्किन रूसी के निदान के लिए हीट प्रोडक्ट्स से दूरी बनाएं, माइल्ड शैंपू का प्रयोग करें और भरपूर पानी पी सकते हैं।
  2. तैलीय रूसी (Oily Dandruff)
    सिर की ऊपरी त्वचा के रोमछिद्रों से सीबम का उत्पादन होता है। यही सीबम जब अधिक मात्रा में उत्पादित होने लगता है तो रूसी की समस्या बालों में घर कर लेती है।
    सीबम का अधिक उत्पादन सिर में ज्यादा शैंपू करने के कारण, बालों को कसकर बांधने के कारण या फिर बालों को बार बार छूने के कारण भी होता है।
    तनाव भी अधिक सीबम के उत्पादन का एक कारण है।
  3. संक्रमित रूसी (Fungal Dandruff)
    सिर की ऊपरी त्वचा यानि स्कैल्प पर मलेसेजिया (malassezia) नामक फंगस मौजूद होता है।
    एक स्तर तक यह किसी समस्या का कारण नहीं होता मगर सिर में तेल की मात्रा की बढ़त इस फंगस के लिए भोजन का रूप ले लेती है।
    इसी तेल के कारण यह फंगस तेजी से बढ़ने लगता है और संक्रमित रूसी का कारण बनता है।
  4. बीमारी के कारण रूसी (Dandruff due to any disease)
    लंबें समय तक बीमार रहने के कारण बालों की कोशिकाओं के ऊपर तक नए टिशू बनने लगते हैं। ये टिशू झड़ने के साथ बाल के सीबम और गंदगी के साथ मिल जाते हैं।
    इसके बाद यह पूरे बाल में फैलकर रूसी का रूप धारण कर लेते हैं। यह चिंताजनक भी हो सकता है क्योंकि इस तरह की रूसी स्कैल्प पर संक्रमण का कारण बन सकती है साथ ही सिर के अलावा गर्दन, आंखों पर फैलकर रेड पैचेज बना सकती है।
    इससे आंखों की रौशनी पर भी असर पड़ सकता है।
loading image
 

बालों में रूसी के लक्षण और पहचान

Signs and symptoms of Dandruff in hindi

Baloon main dandruff ke lakshan aur pehchan in hindi

loading image

बालों में रूसी होने के कई लक्षण हैं। आइए एक नज़र डालें बालों में रूसी होने के विभिन्न लक्षणों पर :

  1. सिर की सतह का रुख़ा होना (Dry Scalp)
    बालों में रूसी होने के कारण सिर की ऊपरी त्वचा काफी रुखी हो जाती है।
  2. सिर का बार-बार खुजलाना (Itchy Scalp)
    बालों में रूसी की समस्या स्कैल्प में खुजली की समस्या साथ लाती है। अगर हमेशा आपके स्कैल्प पर खुजली होती रहे तो यह रूसी के कारण हो सकता है।
  3. बालों का झड़ना (Hairfall)
    रूसी के कारण बालों के जड़ों में मृत कोशिकाएं हमेशा बनी रहती है जो बालों को जड़ से कमजोर करती हैं। इसके कारण हेयरफॉल शुरू हो जाता है।
    अगर आपके बाल काफी गिर रहें हों तो यह रूसी के कारण हो सकता है
  4. कंधों पर डैंडरफ (Dandruff on shoulders)
    रूसी की पहचान का यह सबसे आसान तरीका है। कंघी करने के बाद अपने कंधों पर एक नज़र डालें।
    अगर आपके बाल रूसी के शिकार हैं तो कंधों पर आपके सफेद पाउडर जैसा कुछ नज़र आएगा। यह कुछ और नहीं बल्कि रूसी होती है।
  5. सुस्त बाल (Dull Hair)
    रूसी बालों से प्राकृतिक तेल चुराकर, बालों को सुस्त और बेजान बना देता है। इसके साथ स्कैल्प भी रूखा हो जाता है।
    अगर आपके बाल रूखें, बेजान और सुस्त नज़र आ रहें हो तो ये रूसी की समस्या हो सकती है।
  6. स्कैल्प पर संक्रमण (Scalp Infection)
    कई बार गंभीर रूसी होने के कारण रेड पैचेज त्वचा पर नजर आने लगते हैं। यह आपके गर्दन, माथे और चेहरे पर मुंहासे का रूप भी ले सकता है।
और पढ़ें:अंडे की जर्दी से बनाए बेजान और रूखे बालों को खूबसूरत
 

बालों में रूसी से कैसे पाएं निजात

How to get rid of dandruff in hair in hindi

Dandruff ka kaise kare ilaj in hindi

loading image

बालों में रूसी से छुटकारा पाना आसान नहीं लेकिन नामुमकिन भी नहीं।

आइए जाने बालों में रूसी से कैसे पाये निजात :

  1. शैंपू पर रखें ध्यान (Select right shampoo)
    बालों में रूसी होने के कारणों में से एक कारण अधिक शैंपू करना भी होता है, इसीलिए शैंपू का ख़ास ख़्याल रखना बेहद ज़रूरी होता है।
    रसायन युक्त शैंपू के इस्तेमाल से बचें। हफ़्ते में दो बार माइल्ड और एंटी डैंड्रफ शैंपू का प्रयोग करें।
    अगर रूसी की समस्या अधिक हो तो मेडिकेटेड शैंपू (medicated shampoo) का इस्तेमाल ज्यादा प्रभावी हो सकता है।
    डॉक्टर से परामर्श के बाद मेडिकेटेड शैंपू का प्रयोग करें।
  2. टी ट्री ऑयल (Use tea tree oil)
    टी ट्री ऑयल बालों में रूसी की समस्या के लिए रामबाण माना जाता है।
    टी ट्री ऑयल के इस्तेमाल से आप रूसी की समस्या से छुटकारा पा सकती हैं।
    हफ़्ते में दो बार इस तेल को बालों में हल्के हाथों से मसाज़ करें। सुबह बाल धो लें।
  3. तेल का ना करें ज्यादा इस्तेमाल (Avoid using excessive oil)
    बालों में हर रोज़ ऑयलिंग करने से बचें। ज्यादा तेल के इस्तेमाल से बाल तैलीय हो जाते हैं और फिर बालों में तैलीय रूसी की समस्या घर कर लेती है।
    इसके विपरित बालों में पर्याप्त मात्रा में तेल का पोषण भी रूसी से दूर रहने के लिए आवश्यक है।
    हफ़्ते में दो बार हल्के गर्म तेल से बालों की मालिश करें। इसके लिए आप नारियल, जैतून या ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  4. हीट प्रोडक्ट्स से दूरी (Avoid heat products for hair)
    हीट प्रोडक्ट्स से दूरी बनाए। बालों पर इनका ज्यादा इस्तेमाल बालों को रूखा बनाकर जड़ों से कमजोर कर सकता है।
    जिसके बाद बालों में रूसी की समस्या पनप सकती हैं।
  5. एक्सपेरिमेंट से बचें (Avoid experimentation with your hair)
    मार्केट में मिलने वाले प्रोडक्ट्स के अपने स्कैल्प पर एक्सपेरिमेंट से बचें। कम से कम प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल बालों पर करें।
    रसायन युक्त प्रोडक्ट्स से ख़ासतौर पर दूरी बनाए।
  6. बालों की सफाई का ख़्याल (Keep your hair fresh and clean)
    बालों की सफाई का ख़ास ख़्याल रखना जरूरी है। यह ठंड के वक्त और ज़रूरी हो जाता है क्योंकि इसी वक्त रूसी की समस्या बालों में घर करती है।
    नियमित तौर पर बालों में शैंपू करें।
loading image
 

सारांश

Summaryin hindi

Saransh

बालों में रूसी की समस्या स्कैल्प से मृत कोशिकाओं के अधिक झड़ने से होती हैं। यह गंभीर रूप भी धारण कर सकती है।

बालों में रूसी होने के लक्षण हैं स्कैल्प का रूखा दिखना, बालों का अधिक टूटना, रूसी कंधों पर दिखना।

रूसी की समस्या किसी अच्छे शैंपू के इस्तेमाल या फिर टी ट्री के तेल के इस्तेमाल से ख़त्म हो सकती हैं। परेशानी ज्यादा बढ़ने पर डॉक्टर से संपर्क करें।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 19 Dec 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

जानें फेस वैक्स के नुकसान

जानें फेस वैक्स के नुकसान

थायराइड रोग के कारण अचानक बाल झड़ सकते हैं

थायराइड रोग के कारण अचानक बाल झड़ सकते हैं

बॉडी वैक्सिंग क्या है

बॉडी वैक्सिंग क्या है

जानें विटामिन ई के फायदे बालों के लिए

जानें विटामिन ई के फायदे बालों के लिए

डैंड्रफ के उपचार के लिए नारियल तेल का कैसे करें इस्तेमाल

डैंड्रफ के उपचार के लिए नारियल तेल का कैसे करें इस्तेमाल
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad