Body waxing kya hai in hindi

बॉडी वैक्सिंग क्या है

What is body waxing in hindi

Body waxing kya hai in hindi

वैक्सिंग एक ऐसी ऐसी प्रक्रिया है जिसमें बालों को जड़ों से निकाला जाता है।

वैक्स किए हुए हिस्से पर बाल 2-8 हफ्तों तक नहीं निकलते।

शरीर के किसी भी हिस्से को वैक्स किया जा सकता है जैसे, आईब्रोज़, चेहरा, बिकनी एरिया (bikini area), पैर, हाथ, पीठ, पेट का निचला भाग आदि।

  • वैक्सिंग के कई प्रकार होते हैं।

  • त्वचा पर मोम (वैक्स) की एक परत लगाई जाती है, फिर कपड़े या कागज़ के बने स्ट्रिप्स की सहायता से बालों को उनकी दिशा में जड़ों से खींच कर निकाला जाता है।

  • दूसरी विधि में त्वचा पर वैक्स की मोटी परत लगाई जाती है। कपड़े या कागज़ के स्ट्रिप्स के इस्तेमाल के बजाय, वैक्स के सूखने का इंतज़ार किया जाता है।

  • सख़्त होने के बाद वैक्स को ही बालों की उल्टी दिशा में एक झटके से खींच कर निकाल दिया जाता है।

  • सेंसिटिव त्वचा वालों के लिए वैक्सिंग सबसे अच्छी विधि मानी जाती है।

बॉडी वैक्सिंग के फ़ायदे और नुकसान

Advantages and disadvantages of body waxing in hindi

Body waxing ke fayde aur nuksan in hindi

  • वैक्सिंग के बाद लंबे समय तक बालों से छुटकारा मिल जाता है। जल्दी- जल्दी शेविंग या वैक्सिंग कराने की जरूरत नहीं पड़ती।

  • बाल जड़ से निकाले जाते हैं तो कड़े बाल नहीं निकलते और त्वचा रूखी भी नहीं होती।

  • सेंसिटिव त्वचा वालों के लिये वैक्सिंग अच्छा विकल्प है। वैक्स से शरीर को ज़्यादातर कोई नुकसान नहीं होता।

  • इनग्रोन (ingrown-बाल त्वचा के उपर बढ़ने की जगह अंदर की तरफ बढ़ने लगें) बालों से समस्या हो सकती है।

  • खर्च शेविंग या ट्रिमिंग की तुलना में ज्यादा होता है।

  • वैक्सिंग की प्रक्रिया दर्द भरी होती है क्योंकि बालों को जड़ से खींच कर निकाला जाता है।

वैक्सिंग के लिए ज़रूरी सावधानियां

Take precautions during waxing in hindi

Waxing ke liye jaruri savdhaniyan in hindi

  • अगर त्वचा पर किसी तरह का संक्रमण हो, तो वैक्सिंग ना करें।

  • पतली त्वचा पर जल्द वैक्सिंग नहीं करनी चाहिए।

  • स्टेरॉयड (steroid) जैसी दवाओं का सेवन करते वक़्त वैक्सिंग से बचें।

  • किसी भी तरह की एलर्जी (allergy) अगर आपको जल्दी हो जाती हो, तो वैक्स से पहले अपनी स्किन पर पैच टेस्ट (patch test) ज़रूर कर लें।

  • रैशेज़ (rashes), चोट या ड्राई स्किन (dry skin) पर भी वैक्स करने से पहले वैक्सर (waxer) से सलाह लेना उचित है।

प्यूबिक हेयर रिमूवल क्या है

What is pubic hair removal in hindi

Pubic hair removal kya hai in hindi

वजाइना जैसी नाज़ुक त्वचा के आस-पास ग्रूमिंग (grooming) करने की बात आती है, तो हम में से अधिकांश लोग खुल कर बात भी नहीं करते, जबकि इस विषय में पर्याप्त जानकारी होना आवश्यक है।

प्यूबिक हेयर रिमूवल (pubic hair removal) यानि वजाइना के आस-पास के बालों को हटाना।

बालों की साफ-सफाई प्यूबिक एरिया (pubic area) में इसलिए ज़रूरी हो जाती है ताकि पसीना ना जमें और किसी भी तरह का इंफेक्शन (infection) ना हो।

कई बार फंगल इंफेक्शन (fungal infection) या यूटरस (uterus) में संक्रमण की शिकायत इन बालों की वज़ह से या बालों को गलत तरीके से हटाने की वज़ह से होती है।

इन शिकायतों के कारण शेविंग, ट्रिमिंग, वैक्सिंग या क्रीम (shaving, trimming, waxing or cream) भी हो सकते हैं।

आइये इन सभी प्रक्रियाओं के तरीके और परेशानियों के बारे में विस्तार से देखते हैं :

  • शेविंग (Shaving) :

    बालों को रेज़र की सहायता से पूरी तरह से शेव कर के निकाल लिया जाता है पर इसे पूरी तरह से सुरक्षित तरीका नहीं माना जा सकता।

    शेविंग के दौरान कट होने से संक्रमण का ख़तरा बढ़ता है।

  • वैक्सिंग (Waxing) :

    इस प्रक्रिया में बालों को जड़ों से खींच लिया जाता है जिससे बाल जल्दी वापस नहीं निकलते।

    इनग्रोन हेयर (ingrown hair- जब बाल त्वचा की सतह के बाहर आने के बजाय अंदर की तरफ बढ़ने लगे) की वजह से थोड़ी परेशानी हो सकती है।

    त्वचा पर लाली आ जाती है, दाने निकल आते हैं और कई बार दानों में पस की शिकायत भी होती है।

  • हेयर रिमूवल क्रीम (Hair removal cream) :

    यह तरीका बालों को हटाने के लिये सबसे आसान है। इस प्रक्रिया से दर्द नहीं होता।

    बस स्किन पर किसी तरह की एलर्जी ना हो तो इसका प्रयोग आपके लिये सुखद रहेगा।

  • ट्रिमिंग (Trimming) :

    ट्रिमिंग का ये फ़ायदा भी है कि इसमें शेविंग के बाद जैसे कड़े बाल नहीं निकलते और ना ही वैक्सिंग की तरह इनग्रोन बालों की ही समस्या होती है।

    इस प्रक्रिया में मात्र ट्रिमर (trimmer) की सहायता से बालों को बारीकी से छोटा कर लिया जाता है ।

प्यूबिक हेयर रिमूवल और बॉडी वैक्सिंग के नए आधुनिक तरीके

Latest techniques of pubic hair removal and waxing in hindi

Pubic hair removal aur body waxing ke naye adhunik tarike in hindi

अनचाहे बालों को निकालने के लिये तरीके कई हो सकते हैं, पर सबसे आधुनिक विकल्प के तौर पर लेज़र तकनीक (laser technique) और इलेक्ट्रोलिसिस (electrolysis) सबसे चर्चित हैं।

इन दोनों ही प्रक्रियाओं के बाद बालों को फिर से निकालने, शेविंग, वैक्सिंग की ज़रूरत कभी नहीं पड़ती।

इन दोनों को ही स्थाई उपाय की श्रेणी में गिना जाता है, इससे दर्द या तकलीफ़ भी नहीं होती।

  • इलेक्ट्रोलिसिस प्रक्रिया (Electrolysis Process) :

    इलेक्ट्रोलिसिस (electrolysis) ऐसी तकनीक है जिसके द्वारा बिजली के हल्के झटकों से बालों के जड़ को जला दिया जाता है जिसके बाद बाल कभी नहीं निकलते।

    शरीर के हर हिस्से पर इस प्रक्रिया का प्रयोग किया जा सकता है।

    यह तकनीक एक बार में परिणाम नहीं देता। बेहतर रिजल्ट (result) के लिये आपको 8-14 सेशन्स (sessions) लेने पड़ सकते हैं, जो हर बार कुछ घंटों का वक्त ले सकते हैं।

    एक बार आपने इलेक्ट्रोलिसिस करवाने के बाद शेविंग, वैक्सिंग, ट्रिमिंग की जरूरत जिंदगी भर नहीं पड़ेगी।

    हमेशा विशेषज्ञों द्वारा ही इलेक्ट्रोलिसिस कराएँ।

  • लेज़र तकनीक (Laser treatment) :

    लेज़र तकनीक के इस्तेमाल से बालों की जड़ों पर ऐसी लेज़र किरणें छोड़ी जाती हैं जिससे उनका विकास इतना कम हो जाता है कि वो नज़र भी नहीं आते।

    लेज़र की प्रक्रिया के बाद आपको कभी अनचाहे बालों के लिए शेविंग, वैक्सिंग जैसी ट्रीटमेंट नहीं अपनानी पड़ेगी।

    शरीर के किस हिस्से पर आपको लेज़र ट्रीटमेंट (lazer treament) कराना है उस पर निर्भर करता है कि बेहतर परिणाम के लिये कितना वक्त लगेगा।

    इसके लिये आपको 8-10 बार क्लिनिक (clinic) के चक्कर लगाने पड़ सकते हैं।

    आपका शरीर बालों की बढ़त के लिये कैसे काम करता है, उस पर भी लेज़र के परिणाम निर्भर करते हैं।

    जैसे अगर आपके शरीर पर बाल तेज़ी से बढ़ते हैं, (हॉर्मोन्स की वजह से) तो हो सकता है कि कुछ सालों के बाद आपको वापस अपने शरीर पर बालों के छुटकारे के लिये उपाय करने पड़ें।

    लेज़र अनचाहे बालों से छुटकारे का स्थाई उपाय नही है।

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

Nishkarsh in hindi

शरीर के अनचाहे बालों को विभिन्न तरीके से निकाला जा सकता है।

जरूरत है इसकी सावधानियों पर गौर करना ताकि किसी भी तरह से साइड-इफेक्ट से आपको ना जूझना पड़े।

अपनी त्वचा के हिसाब से उत्पादों का चयन करें, और बेहतर परिणाम आपको आपकी त्वचा पर गर्व महसूस कराएँगे।

zealthy contact

कॉल

zealthy whatsapp contact

व्हाट्सप्प

book appointment

अपॉइंटमेंट बुक करें