बैक्टीरियल वेजिनोसिस के कारण, लक्षण और उपचार

Bacterial Vaginosis in hindi

Bacterial Vaginosis ke kaaran, symptoms aur ilaj in hindi


Introduction

Bacterial_Vaginosis_ke_kaaran__symptoms_aur_ilaj_in_hindi

बैक्टीरियल वेजिनोसिस (bacterial vaginosis), योनि (vagina) में होने वाली एक प्रकार की सूजन है।

योनि में अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बीच संतुलन खोने यानि असंतुलित होने से एनारोबिक बैक्टीरिया (anarobic bacteria) का विकास होता है जो बैक्टीरियल वेजिनोसिस का कारण बनता है।

योनि में स्वाभाविक रूप से पाए जाने वाले अच्छे बैक्टीरिया योनि के प्राकृतिक संतुलन को बनाए रखने में मदद करते हैं।

लेकिन जब इन बैक्टीरिया की अधिक मात्रा में वृद्धि हो जाती है, तो यह इन्फेक्शन का कारण बन जाते हैं।

हालांकि, बैक्टीरियल वेजिनोसिस, महिला को किसी भी उम्र में हो सकता है, लेकिन इस बीमारी की सबसे अधिक संभावना महिलाओं को अपने प्रजनन वर्षों के दौरान होती है।

बैक्टीरियल वेजिनोसिस (bacterial vaginosis) की वजह से कई बार प्रेगनेंसी के दौरान योनि में खुजली और इन्फेक्शन हो जाती है जो गर्भावस्था से संबंधित अन्य जटिलताओं का कारण बनती है।

बैक्टीरियल वेजिनोसिस गर्भवती महिलाओं में एक खतरनाक स्थिति है क्योंकि यह समय से पहले जन्म, गर्भपात, एंडोमेट्रैटिस (endometritis), कोरिओमनीओनाइटिस (chorioamnionitis) और नवजात मेनिन्जाइटिस (neonatal meningitis) से जुड़ी है।

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (पीआईडी) के कारण भी बैक्टीरियल वेजिनोसिस की समस्या हो सकती है।

यदि पीआईडी का पता नहीं लगाया गया है और जल्दी इलाज नहीं किया गया है, तो बांझपन या अस्थानिक गर्भावस्था का खतरा बढ़ जाता है।

बैक्टीरियल वेजिनोसिस असामान्य योनि स्राव का कारण हो सकता है। बैक्टीरियल वेजिनोसिस यौन संचारित रोग नहीं है। लेकिन, यह आपके यौन-रोग की संभावना को बढ़ा देता है।

loading image

इस लेख़ में

  1. 1.बैक्टीरियल वेजिनोसिस के संकेत और लक्षण क्या हैं?
  2. 2.बैक्टीरियल वेजिनोसिस के कारण क्या हैं?
  3. 3.बैक्टीरियल वेजिनोसिस की जटिलताएँ क्या हैं?
  4. 4.बैक्टीरियल वेजिनोसिस का निदान कैसे हो सकता है?
  5. 5.बैक्टीरियल वेजिनोसिस का उपचार क्या है?
  6. 6.बैक्टीरियल वेजिनोसिस से बचाव कैसे कर सकते हैं?
  7. 7.किन परिस्थितियों में डॉक्टर को दिखाना चाहिए?
 

बैक्टीरियल वेजिनोसिस के संकेत और लक्षण क्या हैं?

What are the bacterial vaginosis signs and symptoms in hindi

Bacterial vaginosis ke symptoms in hindi

loading image

निम्नलिखित बैक्टीरियल वेजिनोसिस के संकेत और लक्षण हो सकते हैं:

  • पतला और भूरे, सफेद या हरे रंग का योनि स्त्राव
  • योनि से दुर्गंध
  • योनि में खुजली
  • पेशाब के दौरान जलन

ऐसा भी संभव है कि बैक्टीरियल वेजिनोसिस से पीड़ित महिला में इस बीमारी का कोई भी लक्षण न नज़र आये।

loading image
 

बैक्टीरियल वेजिनोसिस के कारण क्या हैं?

What are the causes of bacterial vaginosis in hindi

Bacterial vaginosis ke kaaran in hindi

loading image

आपकी योनि में स्वाभाविक रूप से पाए जाने वाले बैक्टीरिया की अतिवृद्धि से बैक्टीरियल वेजिनोसिस होता है।

योनि में कई तरह के बैक्टीरिया होते हैं। आमतौर पर, "अच्छे" बैक्टीरिया की संख्या (लैक्टोबैसिली) "खराब" बैक्टीरिया (एनारोबेस) से ज़्यादा होती है।

लेकिन अगर खराब बैक्टीरिया बहुत ज़्यादा हो जाएं, तो वे आपकी योनि में सूक्ष्म जीवों के प्राकृतिक संतुलन को बिगाड़ कर बैक्टीरियल वेजिनोसिस (bacterial vaginosis) का कारण बनते हैं।

बैक्टीरियल वेजिनोसिस के जोखिम कारकों में शामिल हैं :-

  • कई सेक्स पार्टनर या एक नया सेक्स पार्टनर होना (More than one sex partner)

डॉक्टर यौन गतिविधि और बैक्टीरियल वेजिनोसिस के बीच लिंक को पूरी तरह से नहीं समझ पाये हैं।

लेकिन, यह स्थिति उन महिलाओं में अधिक होती है, जिनके कई यौन साथी होते हैं या जिनका हाल ही में नया सेक्स पार्टनर बना है।

  • डाउचिंग (Douching)

अपनी योनि को पानी से या सफाई करने वाले एजेंट (डाउचिंग) के माध्यम से साफ करने का अभ्यास आपकी योनि के प्राकृतिक संतुलन को बिगाड़ सकता है।

यह जीवाणुओं के अतिवृद्धि का कारण बन सकता है, और बैक्टीरियल वेजिनोसिस का कारण बन सकता है।

चूंकि योनि प्राकृतिक रूप से खुद की सफाई करने में सक्षम है, इसलिए इसे अलग से साफ करने की आवश्यकता नहीं है।

  • लैक्टोबैसिली बैक्टीरिया की प्राकृतिक कमी (Natural deficiency of lactobaisili bacteria)

यदि आपकी योनि प्राकृतिक रूप से अच्छे लैक्टोबैसिली बैक्टीरिया का उत्पादन नहीं कर पाती है, तो आपको बैक्टीरियल वेजिनोसिस होने की अधिक संभावना रहती है।

 

बैक्टीरियल वेजिनोसिस की जटिलताएँ क्या हैं?

What are the complications of bacterial vaginosis in hindi

Bacterial Vaginosis se judi samasya in hindi

loading image

बैक्टीरियल वेजिनोसिस आमतौर पर जटिलताओं का कारण नहीं बनता है।

कभी-कभी, बैक्टीरियल वेजिनोसिस के कारण निम्नलिखित जटिलताएँ पैदा हो सकती हैं :

  • अपरिपक्व जन्म (Preterm birth)

गर्भवती महिलाओं में बैक्टीरियल वेजिनोसिस समय से पहले प्रसव और कम वजन वाले शिशु का जन्म का कारण बन सकता है।

  • यौन संक्रमण (Sexually transmitted infections)

बैक्टीरियल वेजिनोसिस महिलाओं को एचआईवी (HIV), दाद सिम्पलेक्स वायरस (herpes simplex virus), क्लैमाइडिया (chlamydia) या गोनोरिया (gonorrhea) जैसे यौन संक्रमणों के प्रति अधिक संवेदनशील बना देता है।

यदि आप एचआईवी से ग्रस्त हैं, तो बैक्टीरियल वेजिनोसिस आपके पुरुष साथी को वायरस पास होने का खतरा बढ़ा देता है।

  • स्त्री रोग से संबन्धित सर्जरी के बाद संक्रमण का खतरा (Infection risk after gynecologic surgery)

बैक्टीरियल वेजिनोसिस हिस्टेरेक्टॉमी (hysterectomy) या डायलेशन एंड कुररेटेज (dilation and curettage) जैसी सर्जरी के बाद संक्रमण का खतरा बढ़ा देता है।

  • पेल्विक इंफ़्लेम्मटरी डिसीस- पीआईडी (Pelvic inflammatory disease-PID)

बैक्टीरियल वेजिनोसिस कभी-कभी पीआईडी का कारण बन सकता है।

पीआईडी एक प्रकार का गर्भाशय और फैलोपियन ट्यूब का संक्रमण है।

पीआईडी बांझपन को जन्म दे सकती है।

loading image
 

बैक्टीरियल वेजिनोसिस का निदान कैसे हो सकता है?

How is bacterial vaginosis diagnosed in hindi

Bacterial vaginosis ka diagnosis in hindi

loading image

बैक्टीरियल वेजिनोसिस (bacterial vaginosis) के निदान के लिए डॉक्टर आपके मेडिकल इतिहास के बारे में जानेंगे और आपका शारीरिक परीक्षण करेंगे।

इसके अलावा कुछ अन्य सरल परीक्षण और पैल्विक परीक्षण भी कर सकते हैं :

  • आपकी योनि का पीएच (pH) या अम्लता स्तर (acidity level) की जाँच
  • बैक्टीरिया की जांच के लिए आपकी योनि स्त्राव (vaginal discharge) का नमूना लेना    
 

बैक्टीरियल वेजिनोसिस का उपचार क्या है?

What is the treatment of bacterial vaginosis in hindi

Bacterial Vaginosis ka Treatment in hindi

loading image

आपके डॉक्टर बैक्टीरियल वेजिनोसिस के इलाज के लिए एंटीबायोटिक्स लिख सकते हैं। यह एक गोली हो सकती है जिसे आप खा सकती हैं।

यह क्रीम या जेल रूप में भी हो सकती है जिसे आप अपनी योनि में डाल सकती हैं। आपको ज़्यादा से ज़्यादा 5 से 7 दिनों के उपचार की आवश्यकता होगी। भले ही आपके लक्षण दूर हो जाएँ, अपनी सभी दवाओं का कोर्स पूरा खत्म करें।

यदि आप जल्दी ही दवाइयाँ लेना बंद कर देती हैं, तो आपका संक्रमण वापस आ सकता है। चूंकि बैक्टीरियल वेजिनोसिस सेक्स के माध्यम से फैलता है, इसलिए जब तक आप दवा नहीं लेती हैं और आपके लक्षण दूर नहीं हो जाते हैं, तब तक यौन संपर्क न करें।

कई बार बैक्टीरियल वेजिनोसिस चले जाने के बाद दोबारा लौट आता है। यदि ऐसा होता है, तो आपको संभवतः अधिक समय तक एंटीबायोटिक (antibiotics) लेने की आवश्यकता होगी।

यदि आप एक आईयूडी (IUD) का उपयोग करती हैं और आपका बैक्टीरियल वेजिनोसिस वापस आ रहा है, तो आप अपने डॉक्टर से किसी अन्य प्रकार के बर्थ कंट्रोल उपाय के बारे में सलाह लें।

उपचार के तौर पर मेट्रोनिडाजोल (metronidazole) 500 या मेट्रोनिडाजोल जेल 0.75%, दी जाती है। वेजाइना में रखने के लिए एप्लीकेटर भी थेरेपी में शामिल होता है, इसके अलावा क्लिंडामाईसीन क्रीम भी विकल्प की तरह दिया जाता है।

नोट : बिना डॉक्टर की सलाह के किसी तरह की दवा न लें, यह आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

loading image
 

बैक्टीरियल वेजिनोसिस से बचाव कैसे कर सकते हैं?

What is the prevention for bacterial vaginosis in hindi

Bacterial Vaginosis ko kaise roke in hindi

loading image

बैक्टीरियल वेजिनोसिस की रोकथाम के लिए उपाय निम्न हैं :

  • ऐसा काम न करें जिससे योनि में जलन उत्पन्न हो। कोमल व पर्फ्यूम से मुक्त साबुन और अनसेन्टेड टैम्पोन (unscented tampons ) या पैड (pad) का उपयोग करें।
  • आपकी योनि को सामान्य स्नान के अलावा सफाई की आवश्यकता नहीं है। बार-बार डाउच (douch) करने से योनि का संतुलन बिगड़ जाता है और योनि संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।
  • यौन संचारित संक्रमण से बचें। एक पुरुष लैटेक्स कंडोम का उपयोग करें, और कई लोगों के साथ अंतरंग संबंध न बनाएँ।
    सेक्स पार्टनर एक ही रखें।
 

किन परिस्थितियों में डॉक्टर को दिखाना चाहिए?

When to see a doctor in hindi

Doctor ko kab dikhaye in hindi

loading image

आपके डॉक्टर बैक्टीरियल वेजिनोसिस (bacterial vaginosis) के कारण निर्धारित करने और संकेत और लक्षणों की पहचान करने में मदद कर सकते हैं।

निम्नलिखित परिस्थितियों में अपने डॉक्टर को दिखाएँ : -

  • यदि आपको हाल ही में योनि स्राव शुरू हुआ है और इस योनि स्त्राव के साथ-साथ योनि की दुर्गंध या बुख़ार भी हो।
  • यदि आपको पहले भी योनि संक्रमण हुआ है, लेकिन इस बार डिस्चार्ज (discharge) का रंग और घनापन (consistency) अलग है।
  • यदि आपके एक से अधिक सेक्स पार्टनर हैं या हाल ही में आपने नए पार्टनर के साथ संबंध बनाए हैं। कभी-कभी, यौन संचारित संक्रमण (sexually transmitted infection) के संकेत और लक्षण बैक्टीरियल वेजिनोसिस के समान होते हैं।
  • यदि आप यीस्ट इन्फेक्शन (yeast infection) के लिए ओवर-द-काउंटर उपचार ले रही हैं और इसके बावजूद आपके लक्षण बने रहते हैं।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 02 Jun 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

गर्भावस्था में क्लैमाइडिया का उपचार और रोकथाम

गर्भावस्था में क्लैमाइडिया का उपचार और रोकथाम

प्रेगनेंसी के दौरान फ्लू

प्रेगनेंसी के दौरान फ्लू

गर्भावस्था में साइटोमेगालोवायरस: कारण, लक्षण और उपचार

गर्भावस्था में साइटोमेगालोवायरस: कारण, लक्षण और उपचार

गर्भावस्था के दौरान यूरिन इन्फेक्शन (यूटीआई)

गर्भावस्था के दौरान यूरिन इन्फेक्शन (यूटीआई)
balance
article lazy ad