Pregnancy Ke dauran bhrun ki gatividhi in hindi

गर्भावस्था के दौरान भ्रूण की गतिविधि क्या, कब और कैसी होती है?

When, how and what are the baby movements during pregnancy in hindi

Pregnancy Ke dauran bhrun ki gatividhi in hindi

अपने बच्चे की किक (baby kicking), ट्विस्ट और हिचकी महसूस करना गर्भावस्था के सबसे खूबसूरत पलों में से एक होता है। यह इस बात का भी सबूत होता है कि आपके भीतर एक नया जीवन विकसित हो रहा है।

लेकिन गर्भावस्था के दौरान भ्रूण की गतिविधि (baby movement) माँ के भीतर कई सवालों और संदेहों को भी खड़ा कर देती है, जैसे कि क्या मेरा बच्चा पर्याप्त किक कर रहा है या कहीं मेरा बच्चा बहुत ज्यादा किक तो नहीं कर रहा है?


बात जब भ्रूण की गतिविधि (fetal movement) की हो, तो यह जानना ज़रूरी है कि हर बच्चा अलग होता है, इसी कारणवश हर बच्चे की गतिविधि का समय, तरीका और गणना अलग हो सकती है। बच्चे की किक (baby kicking), ट्विस्ट, मुक्के आदि के द्वारा यह जानने में सहायता मिलती है कि आपके बच्चा हरकतें कर रहा है या नहीं! इससे बच्चे के स्वास्थ्य का अंदाज़ा भी लगाया जा सकता है।

पहली तिमाही में भ्रूण की गतिविधि

Baby movement in the first trimester in hindi

Pahli timahi mein bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

गर्भावस्था के पहले कुछ दिनों और हफ्तों से लेकर तीसरे महीने के अंत तक किसी भी प्रकार की भ्रूण गतिविधि की उम्मीद न करें। इस वक़्त बच्चा बहुत छोटा होता है और आपके गर्भ के बहुत अंदर मौजूद रहता है, जिसके कारण किसी भी प्रकार की गतिविधि को महसूस कर पाना संभव नहीं है।

दूसरी तिमाही में भ्रूण की गति

Fetal movement in the second trimester in hindi

Dusri timahi mein bhrun ki gati in hindi

loading image

अधिकांश महिलाएं अपने बच्चे की पहली गति को 14वें से 26वें सप्ताह के बीच महसूस करती हैं। आपके बच्चे की किक्स आपको फड़फड़ाहट की तरह या लहरों की तरह, यहाँ तक कि बढ़ी भूख की तरह महसूस हो सकती हैं। यह भी हो सकता है कि यह आपको एक बुलबुला फटने की तरह महसूस हो।

ध्यान रखें कि हर बच्चे की गतिविधि के लय और पैटर्न अलग-अलग होंगे। दूसरों के साथ अपने बच्चे की गतिविधियों की तुलना न करें। अगर आपको लगता है कि आपका बच्चा गर्भ में बहुत अधिक सक्रिय है, तो तनाव न करें; इसका मतलब यह नहीं है कि आपका बच्चा जन्म के बाद हाइपर (hyper) होगा।

महीना 4 के दौरान भ्रूण की गति

Baby movement in the fourth month in hindi

Pregnancy ke chauthe mahine mein bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

अधिकांश महिलाओं को इस समय के दौरान बच्चे की गतिविधि के बारे में पता नहीं होगा या पहचान नहीं होगी। इस दौरान आप बच्चे की गतिविधि को मांसपेशियों की ऐंठन की तरह महसूस कर सकती हैं।

महीना 5 के दौरान भ्रूण की गति

Fetal movement in the fifth month in hindi

Pregnancy ke paanch vein mahine mein bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

यह वह महीना होता है जब ज्यादातर महिलाएं पहली बार भ्रूण को हिलता हुई महसूस करती हैं। इस दौरान शिशु के किक्स और पंच (punch) अधिक शक्तिशाली होते हैं, क्योंकि इस वक़्त उसकी मांसपेशियों को मज़बूती मिलती है।

महीना 6 के दौरान भ्रूण की गति

Baby movement in the sixth month in hindi

Pregnancy ke chhathe mahine ke dauran bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

जब आप छह महीने की गर्भवती होती हैं, तो आपका बच्चा तेज़ गति से बढ़ने लगता है। बच्चे के लेग मूवमेंट आपको एक लय में महसूस होने लगते हैं। आप अपने बच्चे के छोटे पैरों की गतिविधि आसानी से महसूस कर सकती हैं।

महीना 7 के दौरान भ्रूण की गति

Fetal movement in the seventh month in hindi

Pregnancy ke saatwein mahine mein bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

जब आप सात महीने की गर्भवती हो जाती हैं, तब भी आपके बच्चे के पास पलटी मारने और मुड़ने के लिए पर्याप्त जगह होती है। आपका भ्रूण दिन-प्रतिदिन मजबूत होता है - और उसकी गतिविधियां और अधिक सक्रिय होती जाती हैं।

महीना 8 के दौरान भ्रूण की गति

Baby movement in the eighth month in hindi

Pregnancy ke aathwein mahine mein bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

जैसे-जैसे बच्चा बड़ा होता जाता है, आपका गर्भ बच्चे के लिए एक तंग कोठरी की तरह बनता जाता है। पलटी मारना, लुढ़कना आदि अब कम होने की संभावना होने लगती है, लेकिन आप कोहनी और घुटनों के साथ मोड़-मरोड़ महसूस करना जारी रखेंगी।

यदि आपके बच्चे की गतिविधि को सहन करने में आपको असुविधा होती है, तो आप स्थान बदलने की कोशिश करें जैसे - यदि आप खड़ी हैं, तो बैठ जाएँ या लेट जाएं; इससे शिशु संभवतः अपनी स्थिति को भी बदल देगा और कुछ और करने की कोशिश करेगा।

महीना 9 के दौरान भ्रूण की गति

Fetal movement in the ninth month in hindi

Pregnancy ke nauvein mahine ke dauran bhrun ki gatividhi in hindi

loading image

नौवें महीने में आपका बच्चा लगभग पूर्ण वजन और लंबाई प्राप्त कर लेता है। इसलिए अब आप उसकी किक्स और मुक्कों को महसूस नहीं करेंगी (इस दौरान गर्भ में इसके लिए पर्याप्त जगह नहीं होती), लेकिन बड़ी गतिविधियों (जैसे कि पलटी मारना) को आप अब भी महसूस कर सकती हैं।

एक और चीज जो आप शायद महसूस कर सकती हैं, वो है बच्चे के पैर का आपकी पसलियों (ribs) से रगड़ना, जो डंक मारने जैसा महसूस हो सकता है। अपनी स्थिति में थोड़ा बदलाव करके इससे थोड़ी राहत दिला पा सकती है, जैसे कि थोड़ा लेटना, झुकना या बैठ जाना।

बच्चे के किक की गिनती कैसे करें?

How to count kicks of your baby in hindi

Bacche ki kick ki ginti kaise kare in hindi

loading image

28वें सप्ताह से लेकर गर्भावस्था के अंत तक यह सुनिश्चित करने के लिए कि सब कुछ सही रूप से आगे बढ़ रहा है, आपके डॉक्टर आपको "किक्स गिनना" या भ्रूण की हरकतों पर नज़र रखने की सलाह दे सकते हैं।

इस दौरान आपको निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना होगा :

किक को गिनने के लिए दिन में दो बार शांत समय निर्धारित करें, सुबह में एक बार, जब भ्रूण की किक और घूंसे कम होते हैं।

एक बार शाम के समय में, जब आमतौर पर बच्चे की गति में वृद्धि होती है। घड़ी देखकर गिनती शुरू करें।

किसी भी तरह की गतिविधि की गणना करें (भ्रूण की किक, मुक्के, रोल)। जब आप 10 तक पहुँचती हैं, तो गिनती करना बंद कर दें और समय नोट करें।

एक घंटे या उससे कम समय में किसी भी तरह की 10 गतिविधियां सामान्य हैं, हालांकि कभी-कभी इसमें अधिक समय भी लग सकता है।

यदि आपने एक घंटे के भीतर 10 हरकतों को महसूस नहीं किया है तो कुछ स्नैकस (snacks) या फलों का रस लें, लेट जाएं और गिनती जारी रखें।

यदि 10 तक पहुंचने में दो घंटे से अधिक समय लगता है, तो अपने चिकित्सक से संपर्क करें।

हालांकि, गतिविधि की अनुपस्थिति का मतलब यह नहीं कि कुछ गलत है, यह एक संकेत हो सकता है कि भ्रूण को अधिक निगरानी की ज़रूरत है।

आप जितना अधिक डिलीवरी की नियत तारीख के करीब होंगी, भ्रूण की गतिविधि की नियमित जाँच उतनी ही महत्वपूर्ण होगी।

9 महीने तक, आपको दिन में कई बार गिनने की ज़रूरत होगी और यदि आप भ्रूण कि हरकतों में अचानक कमी महसूस करें, तो तुरंत अपने चिकित्सक से संपर्क करें।

आप कब बच्चे की गतिविधि को महसूस करने की सबसे अधिक संभावना रखती हैं?

When you are most likely to feel your baby’s movement in hindi

Garbh me pal rahe bachche ki gati ko kab sabse adhik mahsoos kiya ja sakta hai in hindi

loading image

कई बार दिन के दौरान, आपके शरीर की गतिविधि के कारण भ्रूण सो जाता है, जिसके कारण आप बच्चे की गतिविधि को ज़्यादा महसूस नहीं कर पाती हैं। इसके अलावा, दिन के वक़्त आपका ध्यान अक्सर कई अन्य चीजों पर केंद्रित रहता है, जिसकी वजह से आप भ्रूण की गतिविधि पर ध्यान नहीं दे पाती हैं ।

लेकिन आप अपने बच्चे को सबसे अधिक सक्रिय निम्नलिखित स्थितियों में पाएँगी :

  • जब आप रात को सोने जाने वाली होंगी
  • कुछ स्नैक्स (snacks) खाने के बाद- आपके ब्लड शुगर में वृद्धि आपके बच्चे को ऊर्जा देकर उसे अधिक सक्रिय बना देती है
  • जब आप नर्वस होती हैं - एड्रेनालाईन (adrenaline) का प्रभाव आपको और आपके बच्चे को ऊर्जा देकर उसे अधिक सक्रिय बना देता है

प्रसव से ठीक पहले भ्रूण की गतिविधि में किस प्रकार के बदलाव आते हैं?

Changes in baby movements before delivery in hindi

Delivery se thik pehle kaise aap ke bachche ke movement me aane wale changes in hindi

loading image

जब आपका बच्चा प्रसव से पहले (अगर यह आपकी पहली गर्भावस्था है तो दो से तीन सप्ताह पहले , बाद के गर्भधारण में नियत तारीख के करीब), आपकी श्रोणि (pelvis) में (सिर की ओर से) नीचे हो जाता है - तो ये गतिविधि पैटर्न फिर से बदल सकते हैं। आप अपने बच्चे के सिर के हर मोड़ को स्पष्टता से महसूस करेंगी। यह आपके गर्भाशय ग्रीवा (cervix) के करीब छोटे तेज इलेक्ट्रिक ट्विंग्स (electric twings) की तरह महसूस हो सकते हैं।

प्रसव के अंतिम कुछ हफ्ते अलग-अलग महिलाओं में काफी भिन्न होते हैं - कुछ बच्चे थोड़ा कम चलते हैं, जबकि कुछ ऊर्जावान गति बनाए रखते हैं। आप अभी भी हर दिन छोटी-छोटी गतिविधियां महसूस कर पाएँगी, इसलिए यदि कभी भी गतिविधि में कमी महसूस हो तो अपने चिकित्सक से बात करें।

भ्रूण की गतिविधि में कमी कब होती है?

When does fetal activity decrease in hindi

Bhrun movement me kami kab aati hai in hindi

loading image

गर्भावस्था के दौरान ऐसे समय भी हो सकते हैं जब आप भ्रूण की गतिविधि में बदलाव महसूस करें, जो ज्यादातर मामलों में पूरी तरह से सामान्य होता है। अचानक हुए किसी भी बदलाव या गतिविधि की रिपोर्ट अपने डॉक्टर को ज़रूर करें।

निम्न स्थितियों में भ्रूण की गतिविधि में कमी हो सकती है :

1) सेक्स के बाद (After Sex)

सेक्स की गति और उसके बाद होने वाला ओरगाज़्म (orgasm) अक्सर गर्भ के अंदर पलने वाले बच्चे को सुला देते हैं।

इसके विपरीत ऐसा भी मुमकिन है कि कुछ बच्चे सेक्स के बाद अधिक सक्रिय हो जाएँ।

ये परिवर्तन पूरी तरह सामान्य और स्वस्थ हैं और किसी भी तरह से यह संकेत नहीं है कि गर्भावस्था के दौरान सेक्स सुरक्षित नहीं है (जब तक कि आपके डॉक्टर ने आपको यह नहीं बताया है कि आप सेक्स नहीं कर सकते हैं)।


2) दूसरी तिमाही में (Second trimester)

एक बार जब आप अपने बच्चे के किक्स और मुक्के महसूस कर लेती हैं और अगर आप कई घंटे या एक-दो दिन भी कोई हलचल महसूस नहीं करती, तो घबराएँ नहीं।

इस स्तर पर आपके बच्चे का आकार काफी छोटा होने के कारण नियमित रूप से गतिविधि महसूस न कर पाना बिलकुल सामान्य है।

यह भी संभव है कि भ्रूण की स्थिति के कारण या क्योंकि आप रात में बच्चे की सबसे सक्रिय अवधि के दौरान सो रही थीं, आप बच्चे की गति न महसूस कर पाएँ।

3) तीसरी तिमाही के दौरान (Third trimester)

अब आपके बच्चे के सोने और जागने का एक नियमित चक्र है।

कभी-कभी गतिविधि में खामोशी का मतलब है कि बच्चा गहरी नींद में है।

हालांकि, 9 महीने तक गतिविधि में परिवर्तन को नोट करना महत्वपूर्ण है।

अपने तीसरे ट्राइमेस्टर में दिन में कुछ बार भ्रूण की गति को गिनें और किसी भी अचानक हुए बदलाव को अपने चिकित्सक को की रिपोर्ट करें।

4) सक्रिय या व्यस्त होने के दौरान (While active or busy)

जब आप सक्रिय या व्यस्त होती हैं, तो आपको अपने बच्चे की गतिविधियों के बारे में पता होने की संभावना कम होती है।


5) नाल का गर्भाशय के सामने होना (When placenta is in front of uterus)

यदि आपकी नाल आपके गर्भाशय के सामने है, तो आपके लिए अपने बच्चे की गतिविधियों को महसूस करना इतना आसान नहीं हो सकता है।

6) शिशु का पीठ गर्भाशय की ओर होना (When baby's back is in front of uterus)

यदि आपके शिशु की पीठ आपके गर्भाशय के सामने की तरफ है, तो आपको कम हलचल महसूस हो सकती है।

बच्चे की गतिविधि के कम होने के क्या कारण हो सकते हैं?

What could be the reasons for the less movements of baby in hindi

Bacche ki gatividhi ke kam hone ke kya karan ho sakte hai in hindi

loading image

बच्चे की गतिविधि के कम होने के कारण निम्न हैं :

  • कुछ दवाओं जैसे दर्द-निवारक दवाएं या सेडाटिव्स (sedatives) आपके बच्चे की गतिविधि को कम कर सकते हैं।
  • शराब और धूम्रपान भी आपके बच्चे की गतिविधियों को प्रभावित कर सकते हैं।
  • कुछ मामलों में, यदि बच्चा अस्वस्थ है, तो भी वह कम हिल सकता है। मांसपेशियों या तंत्रिकाओं को प्रभावित करने वाली कुछ बीमारियाँ या स्थितियाँ भी आपके बच्चे की गति को कम करने का कारण बन सकती है।
zealthy contact

कॉल

zealthy whatsapp contact

व्हाट्सप्प

book appointment

अपॉइंटमेंट बुक करें