1-3हफ़्ते प्रेग्नेंट

आपका बच्चावनीला सीड़्सके आकार का है

मुझे अपनी डिलीवरी की तारीख का पता नहीं है

अपनी डिलीवरी डेट पता करें

या

गाइड और नियमित सुझाव प्राप्त करने के लिए अपनी डिलीवरी की तारीख सेव करें

अपनी डिलीवरी की तारीख सेव करें

अपनी डिलीवरी की तारीख सेव करेंcalender

Week 1-3 of your pregnancy

आपकी गर्भावस्था का पहला से तीसरा हफ्ता

Week 1-3 of your pregnancy in hindi

Aapki garbhavastha ka ek se teesra hafta in hindi

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में आप किस तिमाही (your trimester) में हैं : आप गर्भावस्था की पहली तिमाही (first trimester) में हैं।

गर्भावस्था के एक से तीसरे हफ्ते में आप कितने महीने की गर्भवती हैं: आप गर्भावस्था के पहले महीने में हैं।

कितने हफ्ते बचे हैं : 37 हफ्ते बचें हैं।

गर्भावस्था के एक से तीसरे हफ्ते में बच्चा कितना बड़ा है :

  • गर्भावस्था के एक से तीसरे सप्ताह के दौरान कोई भ्रूण नहीं है।
  • इस दौरान आपका शरीर गर्भावस्था की तैयारी कर रहा है।

आपने शायद सुना होगा कि गर्भावस्था की गिनती आपके लास्ट पीरियड (last periods) के पहले दिन से शुरू होती है।

डॉक्टर ऐसा करते हैं क्योंकि गर्भाधान (conception) के सही दिन को सही ढंग से मापना बहुत मुश्किल है।

इसका मतलब है कि पहले हफ्ते के दौरान, आप वास्तव में अभी तक गर्भवती नहीं हैं, लेकिन आपका शरीर इसके लिए पहले से ही तैयारी कर रहा था।

हालांकि इस हफ़्ते को गर्भावस्था का पहला हफ्ता माना जाता है, लेकिन वास्तव में इस दौरान आपको पीरियड् होता रहता है।

गर्भावस्था के पहले दो हफ्ते के दौरान आप बच्चे को कंसीव नहीं करती हैं।

जैसा कि हमने पहले कहा था, गर्भ धारण के पहले सप्ताह को आपके गर्भ धारण करने की तारीख से नहीं मापा जाता है।

एक नियम के रूप में, अनुमानित डिलीवरी की तारीख की गणना स्त्री रोग विशेषज्ञ द्वारा आखिरी माहवारी के पहले दिन से की जाती है, क्योंकि गर्भाधान के सटीक दिन को निर्धारित करना अक्सर असंभव होता है।

यह लगभग 2 सप्ताह बाद ओव्यूलेशन के दौरान होता है।

गर्भावस्था की गणना इस तरह से की जाती है क्योंकि अधिकतर महिलाएं ओवुलेट होने की सही तारीख नहीं जानती हैं।

ऐसे में इस बात का पता लगाना बहुत मुश्किल हो जाता है कि आखिर किस क्षण में महिला ने बच्चे को कंसीव किया है।

खासकर अगर आप गर्भवती होने की कोशिश कर रहीं हैं, तो संभवत: आप अपने ओव्यूलेशन के आस-पास कई बार संभोग कर रहे होंगे।

इसलिए जब तक आप अपने आने वाले पीरियड को मिस करते हैं और उससे प्रेग्नेंट होने का पता लग जाता है, तब तक आप शायद लगभग 4 सप्ताह की गर्भवती होंगी।

ऐसे में आपको इस लेख के माध्यम से बताते हैं कि प्रेगनन्सी के पहले से तीसरे हफ्ते के बीच माँ बनने वाली महिला क्या उम्मीद कर सकती हैं।

इस समय आपको क्या करना चाहिए :

  • अगर आप ओव्यूलेशन को लेकर अनिश्चित (uncertain) हैं, तो होम ओवुलेशन टेस्ट (ovulation test) का उपयोग करने पर विचार करें।
  • प्रीनेटल विटामिन्स लेना जारी रखें।
  • पानी भरपूर मात्रा में पिएं क्योंकि आपका सर्विकल म्यूकस (cervical mucus) जितना अधिक हाइड्रेटेड (hydrated) रहता है, शुक्राणु को वहां तक पहुँचना आसान होता है।
  • नियमित रूप से संभोग (sex) करें।
  • धूम्रपान, शराब और किसी भी अवैध दवाओं का उपयोग करना छोड़ दें।
  • अपनी पिछली दो पीरियड साइकिल की तारीख लिखें।

गर्भावस्था के एक से तीसरे हफ्ते में आपका शरीर

Your body at week 1-3 of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke ek se teesre hafte mein aapka sharir in hindi

loading image

अभी भी गर्भावस्था के शुरुआती दिन हैं, और परिवर्तन सूक्ष्म हैं।

गर्भावस्था के दूसरे सप्ताह के दौरान, आपका शरीर यह संकेत देगा कि ये ओव्युलेट के लिए तैयार है।

इन लक्षणों पर नज़र रखने से आप अपनी फर्टाइल विंडो (fertile window) का निर्धारण कर सकते हैं और गर्भाधान की संभावनाओं को बेहतर बना सकते हैं।

सबसे आम ओवुलेशन लक्षणों में से कुछ में शामिल हैं:

  • शरीर का तापमान बढ़ जाना
  • वाइट वाटर डिस्चार्ज होना
  • पेट के निचले हिस्से में ऐंठन होना
  • सेक्स की अधिक इच्छा होना

एक से तीसरे हफ्ते की गर्भावस्था के दौरान पेट (Week 1-3 pregnant belly)

अधिकतर महिलाएं प्रेगनेंसी के पहले और दूसरे हफ्ते तक ऐसे कोई प्रेगनेंसी के विशेष लक्षण का अनुभव नहीं करती हैं।

प्रेगनेंसी के शुरुआती एक दो हफ्ते में ओव्यूलेशन के कारण कुछ लक्षण दिख सकते हैं।

वहीं इस वक़्त पेट में आपको किसी भी तरह का परिवर्तन बाहरी तौर पर नहीं दिखेगा लेकिन पेट के अंदर आपका गर्भाशय अस्तर गाढ़ा (thick) हो रहा है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह एक निषेचित (fertilized) अंडे के लिए तैयार है।

हालांकि एक से तीन हफ्ते के बीच में पेट में किसी भी तरह का बाहरी तौर पर परिवर्तन नहीं होता है।

दूसरे हफ्ते की गर्भावस्था के लक्षण (Week 2 pregnant symptoms)

यह संभावना नहीं है कि आप पहले दिन से गर्भावस्था के किसी भी लक्षण का अनुभव करेंगी।

ओव्यूलेशन के कुछ लक्षण, जैसे स्तन कोमलता, शुरुआती गर्भावस्था के लक्षणों के समान हैं और गर्भावस्था के पहले दिनों में हो सकते हैं।

वहीं आप गर्भावस्था के शुरुआती या तीसरे हफ्ते में निम्न में किसी एक लक्षण का सामना कर सकते हैं :

  • उलटी अथवा मितली
  • असामान्य थकान
  • स्तनों में दर्द
  • लगातार पेशाब आना

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में आपका बच्चा

Your baby at week 1-3 of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke pehle se teesre hafte mein aapka baccha in hindi

loading image

पहले हफ्ते में महिला के पीरियड्स चल रहें होते हैं और शरीर अब प्रेगनेंसी के लिए तैयार हो रहा होता है।

वहीं दूसरे हफ्ते ओव्यूलेशन (ovulation) के दौरान एक मैच्योर फॉलिकल (follicle) फैलोपियन ट्यूब (fallopian tube) में अंडा को रिलीज़ करता है।

अगर इस समय महिला और पुरुष के बीच सेक्स होता है तो स्पर्म वजाइना से होते हुए फैलोपियन ट्यूब तक पहुंच जाता है।

गर्भाशय में मौजूद लाखों स्पर्म में से केवल एक को अंडा निषेचन (fertilization) का मौका मिलता है और आपके पार्टनर के स्पर्म को आपकी फैलोपियन ट्यूब तक अपना रास्ता बनाने में 30 मिनट से लेकर कुछ दिनों तक कहीं भी लग सकता है।

वहीं अगर फर्टिलायज़ेशन हो जाता है तो तीसरे हफ्ते में (fertilized) अंडा पहले दो कोशिकाओं (cells) में विभाजित होता है, और तीन दिन बाद यह 16 समान कोशिकाओं में विभाजित होता है।

यह कोशिका विभाजन (cell division) एक तरल पदार्थ से भरे सेल संरचना की एक जटिल गेंद (complex ball) बनाता है जिसे ब्लास्टोसिस्ट (blastocyst) कहा जाता है जो अंततः गर्भाशय की दीवारों में समा जाता है।

ब्लास्टोसिस्ट को ज़ायगोट (zygote) के रूप में भी जाना जाता है।

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में आहार, फिटनेस और माँ बनने वाली महिला के लिए टिप्स

Diet, fitness tips and diet for moms at 1-3 week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke pehle se teesre hafte mein aahar, fitness or maa banne wali mahila ke liye tips in hindi

loading image

प्रेगनेंसी के शुरुआती दौर से ही महिलाओं को पोषक तत्व से भरपूर चीज़ों का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए।

इसके साथ ही तन और मन को सक्रिय और शांत बनाये रखने के लिए व्यायाम और योग करने की भी आदत अपनी दिनचर्या में शामिल कर लेनी चाहिए।

प्रेगनेंसी के पहले से तीसरे हफ्ते में आपको क्या खाना चाहिए (What you should eat at week 1-3 of pregnancy)

  • इस वक़्त प्रेगनेंसी की संभावना को बढ़ाने के लिए आपको कोई फर्टिलिटी डाइट लेने के लिए आवश्यकता नहीं है बल्कि एक स्वास्थ्य खाद्य-पदार्थ को अपने डाइट में शामिल करें।
    एक स्वस्थ गर्भावस्था के लिए अपने शरीर को तैयार करने के लिए अपने आहार में पत्तेदार साग (leafy greens), मरकरी फ्री मछली (mercury free-fish), बीज (seeds) और नट्स (nuts), कॉम्प्लेक्स कार्ब्स (complex carbs), फल (fruits), को शामिल करना चाहिए और भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए।
  • माँ बनने वाली महिला को सबसे पहले फोलिक एसिड खाद्य-पदार्थ का सेवन ज़रूर शुरू कर देना चाहिए क्योंकि ये बच्चे में जन्म के दोषों को रोकता है जैसे कि स्पाइना बिफिडा (spina bifida)।
    कन्शेपशन के एक महीने के अंदर फॉलिक एसिड का सेवन शुरू कर देना चाहिए, और साथ ही इसे कम से कम 12 हफ्तों तक लेना चाहिए।
    आप इसे ओवर-द-काउंटर फोलेट सप्लीमेंट, फोर्टिफाइड अनाज या पालक, रोमेन लेट्यूस, सरसों का साग, ब्रोकोली, केल, बीन्स और मटर जैसी सब्जियों से प्राप्त कर सकती हैं।
    गर्भावस्था के शुरुआती दिनों से ही प्रत्येक दिन एक प्रीनेटल विटामिन लें जिसमें 600 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड हो और फोलिक एसिड युक्त आहार ज़रूर खाएं।
  • अपने आहार में दूध और दूध उत्पादों को शामिल करें क्योंकि वे कैल्शियम का एक समृद्ध स्रोत हैं और प्रेगनेंसी के दौरान ये बहुत ज़रूरी होता है।

प्रेगनेंसी के पहले से तीसरे हफ्ते में आपको क्या नहीं खाना चाहिए (What you should not eat or avoid at week 1-3 of pregnancy)

पहले हफ्ते में आप गर्भ धारण करने की कोशिश करती हैं और इस समय आपको सिगरेट सहित शराब, ड्रग्स और तम्बाकू उत्पादों से बचना अधिक महत्वपूर्ण है।

अगर आप ऐसा नहीं करती हैं होने वाले बच्चे में जन्म दोष (birth defects), सांस की समस्या, जन्म के समय कम वज़न और अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

इसलिए सिर्फ शुरुआती दौर में ही नहीं बल्कि पूरी प्रेगनेंसी के दौरान माँ बनने वाली महिला को इन सब चीज़ों से दूरी बना लेनी चाहिए।

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में कौन सा व्यायाम सबसे अच्छा है (Which exercise is best at 1-3 week of pregnancy)

  • इस दौरान होने वाली माँ को योग करना चाहिए क्योंकि योग शरीर को धीरे-धीरे फैलने और ताकत विकसित करने की अनुमति देता है।
  • वहीं इस वक़्त स्विमिंग (swimming) और वाटर एरोबिक्स (water aerobics) करने से ब्लड और ऑक्सीजन के फ्लो में बेहतर हो सकता है।
  • इसके अलावा नियमित रूप से 30 मिनट तक वॉक करना भी बहुत अच्छा हो सकता है।

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में डॉक्टर से क्या उम्मीद करें

What to expect from your doctor in the 1-3 week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke pehle se teesre hafte mein doctor se kya umeed karein in hindi

loading image

दरअसल प्रेगनेंसी के पहले से तीसरे हफ्ते के बीच में डॉक्टर से मिलने आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि इस समय आपका शरीर प्रेग्नेंट होने की तैयारी कर रहा होता है और चौथे हफ्ते के आते-आते या उसके बाद ही प्रेगनेंसी कन्फर्म होती है।

ऐसे में आपको चौथे हफ्ते से लेकर बारहवें हफ्ते के बीच डॉक्टर से मिलना चाहिए ताकि माँ बनने वाली महिला को ड्यू डेट का पता चल सके और महिला का प्रेगनेंसी को लेकर रजिस्ट्रेशन हो जाए।

पहले से तीसरे हफ्ते की गर्भावस्था के दौरान क्या अल्ट्रासाउंड या किसी अन्य परीक्षण की आवश्यकता है

Whether ultrasound or any other tests required during the first to third week of pregnancy in hindi

Pehle se teesre hafte ki garbhavastha ke dauran kya ultrasound ya any kisi parikshan ki avashyakta hai in hindi

loading image

गर्भावस्था के पहले से तीसरे सप्ताह में आपको वास्तव में अल्ट्रासाउंड की आवश्यकता नहीं होती है।

हालांकि, अगर आपकी पहले किसी तरह की जाँच नहीं हुई है या आपको पहले गर्भ धारण करने में समस्या आयी थी, तो डॉक्टर आपको अल्ट्रासाउंड कराने की सलाह दे सकते हैं।

इस दौरान एक अल्ट्रासाउंड शारीरिक असामान्यताएं का निदान करने में मदद कर सकता है, जो आपको गर्भ धारण करने में मुश्किल पैदा कर सकता है, जैसे कि फ़िब्रोइड (fibroid) या पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (polycystic ovarian syndrome)।

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में सेक्स

Sex in the first to third week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke pehle se teesre hafte mei sex in hindi

loading image

गर्भावस्था का पहला हफ्ता दरअसल आपके अंतिम पीरियड (last period) के पहले दिन से शुरू हो जाता है।

ऐसे में इस हफ्ते आपको पीरियड्स होता रहता है और इस समय आप फर्टाइल नहीं होती हैं।

इतना ही नहीं पीरियड्स के लगभग 14 दिन बाद आपके ओव्यूलेशन (ovulation) का समय आता है, ऐसे में जो दंपत्ति बच्चा चाहते हैं वो प्रेगनेंसी के दूसरे हफ्ते सेक्स करते हैं।

हालांकि इसका ये मतलब नहीं है कि आप ओव्यूलेशन के आने का इंतज़ार करें क्योंकि शुक्राणु (sperm) गर्भाशय गुहा (uterine cavity) के अंदर 5 दिनों तक रह सकता है, इसलिए यहां तक ​​कि ओव्यूलेशन से कुछ दिन पहले सेक्स करने से गर्भावस्था हो सकती है।

वहीं आपको प्रेगनेंसी के तीसरे हफ्ते में भी सेक्स करने में कोई परेशानी नहीं होती है।

गर्भावस्था के पहले से तीसरे हफ्ते में पिता के लिए टिप्स

Tips for father’s during first to third week of pregnancy in hindi

Garbhavastha ke pehle se teesre hafte mei pita ke liye tips in hindi

loading image

गर्भावस्था में महिला और पुरुष दोनों की भागीदारी अहम भूमिका निभाती है।

ऐसे में माँ बनने वाली के साथ-साथ होने वाले पिता को भी अपने स्वास्थ्य पर इस वक़्त ध्यान देने आवश्यकता होती है।

इतना ही नहीं गर्भ धारण करने की कोशिश करने से पहले पुरुष को भी अपनी पूरी जांच करानी चाहिए ताकि गर्भ धारण की कोशिश करते वक़्त किसी भी तरह की परेशानी न उत्पन्न हो।

इसके अलावा, आप अल्कोहल को सीमित करके और तम्बाकू और नशीली दवाओं का त्याग करके अपने प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार कर सकते हैं।

दरअसल जो पुरुष अत्यधिक धूम्रपान करते हैं या ड्रग्स का उपयोग करते हैं उनके स्पर्म की गुणवत्ता प्रभावित हो सकती है और गर्भ धान (conception) में समस्या उत्पन्न कर सकती है।

zealthy contact

कॉल

zealthy whatsapp contact

व्हाट्सप्प

book appointment

अपॉइंटमेंट बुक करें