रूपा और कृष्णा की सफल आई.वी.एफ यात्रा

कृष्णा और रूपा की कहानी

आप कितने वर्षों से गर्भ धारण करने का प्रयास कर रहे थे, और एक सफल गर्भवस्था से पूर्व आपने कौन-कौन से उपचार कराए?

हमारी शादी 2015 में हुई, शादी के दो साल के बाद, हम अपना परिवार आगे बढ़ने के बारे में सोचने लगे, एक साल लगातार कोशिश करने के बाद मैं कंसीव नहीं कर पाई, तब हमनें कई डॉक्टर दिखाए और दवाइयाँ भी खाई, और सालों की तपस्या के बाद हमें, आई.वी.एफ द्वारा हमें सफलता मिली।

तनाव से लड़ने के लिए, आप वो करें, जिससे आपको ख़ुशी मिलती है। पॉजिटिव रिजल्ट की ज्यादा टेंशन ना लें, और अगर Zealthy क्लिनिक से इलाज़ करवा रहे हैं तो, आप बेफिक्र हो सकते हैं, क्योंकि आप सुरक्षित हाथों में है, और आपको सफलता ज़रूर मिलेगी।

रूपा

आपको किन-किन परिस्तिथियों का सामना करना पड़ा? अपनी प्रेरणा पूर्ण सफल यात्रा के बारे में हमें बताएँ?

शादी के तुरंत बाद हम अपना परिवार आगे बढ़ाना के लिए नहीं तैयार थे। जॉब की वजह से शादी के बाद भी, मैं अपने पति से दूर, दूसरे शहर में रहती थी, और लगभग एक साल के बाद मैंने अपना ट्रांसफर करवाया, और अपने पति के साथ रहने लगी।

हम फैमिली प्लानिंग के लिए, एक साल और रुकना चाहते थे, ताकि हम दूसरे को ज्यादा वक़्त दे सके। फिर जब घरवालों ने बच्चे की खुशख़बरी सुनने की इच्छा ज़ाहिर की, तब हमें भी लगा की शायद अब सही वक़्त आ गया है। उसके बाद मैंने लगभग डेढ़ साल तक कंसीव करने की कोशिश की, पर हमें कोई पॉजिटिव रिजल्ट नहीं मिला।

मार्च 2017 में हमने गयनेकोलॉजिस्ट से कंसल्ट किया, डॉक्टर ने मेरे कुछ ब्लड टेस्ट और स्कैनिंग कि और साथ ही मेरे पति का भी कुछ मेडिकल जाँच किया, मगर कोई विशेष कारण का पता नहीं चला। तब डॉक्टर ने कहा कि शायद मेरे इर्रेगुलर पीरियड्स की वजह से मुझे यह परेशानी हो रही है और मुझे कंसीव करने में प्रॉब्लम आ रही है।

डॉक्टर ने मुझे पीरियड्स रेगुलर करने के लिए कुछ दवाइयाँ दी, जो मुझे 3 महीने तक लेना था। जब दवाइयों की वजह से पीरियड्स रेगुलर हो गए, तो मुझे लगा कि शायद अब मैं आराम से कंसीव कर पाऊँगी, पर एक साल और कोशिश करने के बाद भी जब कोई लाभ नहीं हुआ तब हमने फर्टीली स्पेशलिस्ट को दिखने का निर्णय लिया।

पर हम इस बात से परेशान थे कि कौन से डॉक्टर को हमें दिखाना चाहिए, जो अच्छे से हमारा इलाज कर पाएँ। फिर अप्रैल 2018 में, हमने फर्टिलिटी स्पेशलिस्ट से संपर्क करने का फैसला किया। डॉक्टर ने हमारे कुछ टेस्ट करवाए पर, लेकिन इस बार भी कोई कारण पता नहीं चला । डॉक्टर ने हमने बताया कि बहुत सारे कपल्स को इस प्रकार का प्रॉब्लम होता है, जिनके इनफर्टिलिटी की वजह पता नहीं चलती, जिसे अनक्सप्लेनेड इनफर्टिलिटी कहा जाता है । डॉक्टर ने हौसला देते हुए कहा, की घबरायें नहीं, इसका इलाज संभव है, और उन्होंने हमें आई.यू.आई की सलाह दी ।

हम मगर उस समय इस ट्रीटमेंट के लिए तैयार नहीं थे, इसलिए हमनें 6 महीने और नेचुरल तरीके से कंसीव करने की कोशिश की, पर लाभ ना मिलने पर, हम वापस दूसरे डॉक्टर के पास गए और अपना आई.यू.आई ट्रीटमेंट करवाया। हमने उम्मीद थी कि हमारा यह ट्रीटमेंट सफल होगा, पर हमें इस बार निराशा हाथ लगी और हमारा ट्रीटमेंट फेल हो गया। इसके बावजूद हमने अपने उम्मीद को जगाए रखा।

इसके बाद हमने Zealthy के फर्टिलिटी स्पेशलिस्ट से संपर्क किया। उन्होंने जाँच के बाद हमें आई.वी.एफ की सलाह दी, और ट्रीटमेंट के एक - एक स्टेप अच्छे से समझाया और हमें विश्वास दिलाया की हमें अपने बच्चे का सुख जरुर मिलेगा।

मेरी आई.वी.एफ प्रक्रिया शुरू हुई, मुझे कुछ इंजेक्शंस भी लगाए गए ताकि अंडो का प्रोडक्शन अच्छे से हो पाए, फिर सारी प्रोसेस होने के बाद, एम्ब्रियो ट्रांसफर किया गया और 3 सप्ताह के बाद, प्रेगनेंसी टेस्ट किया और भाग्य वश टेस्ट पॉजिटिव आया। मेरे सालों का इंतजार ख़त्म हुआ। नौ महीने के बाद, 26 फरवरी 2020 को मैंने एक बेटी को जन्म दिया। मैं बता नहीं सकती जब मैंने अपनी बेटी को गोद में लिया तब मैं कितनी खुश थी।

हमनें एक पपी अडॉप्ट कर लिया था। इस नए मेहमान के पीछे मैं व्यस्त रहती थी, और घर में हमेशा ख़ुशी का माहौल भी रहता था।

रूपा

किस प्रकार Zealthy के आई.वी.एफ फर्टिलिटी विशेषज्ञों और उनकी केयर टीम ने, आपकी यात्रा के दौरान मदद की?

Zealthy के केयर टीम ने हर मोड़ पर हमारा साथ दिया, उन्होंने ना सिर्फ अपने क्लिनिक के बेस्ट फर्टिलिटी स्पेशलिस्ट से मेरा अपॉइंटमेंट करवाया, बल्कि इलाज के वक़्त हर तरह से सहायता की, वह हमें टेस्ट और फॉलो-उप के रिमाइंडर भी फ़ोन पर भेज देते थे, ताकि हमसे कुछ भी मिस ना हो जाए।

बांझपन की समस्या से जूझ रहे अन्य जोड़ों को आप क्या सलाह देना चाहेंगे? वह इस तनाव युक्त स्थिति का सामना किस प्रकार कर सकते हैं?

तनाव से लड़ने के लिए, आप वो करें जिससे आपको ख़ुशी मिलती है। पॉजिटिव रिजल्ट की ज्यादा टेंशन ना लें, और अगर Zealthy क्लिनिक से इलाज़ करवा रहे है तो, आप बेफिक्र हो सकते है, क्योंकि आप सुरक्षित हाथों में है, और आपको सफलता ज़रूर मिलेगी।

इनफर्टिलिटी ट्रीटमेंट के वक़्त और किन-किन चीज़ो से आपको मदद मिली?

ट्रीटमेंट शुरू होने के बाद, मुझे अपना जॉब छोड़ना पड़ा था। दिन भर घर में अकेले रहते-रहते में बोर हो जाती थी, इसलिए हमनें एक पपी अडॉप्ट कर लिया था। इस नए मेहमान के पीछे मैं व्यस्त रहती थी, और घर में हमेशा ख़ुशी का माहौल भी रहता था। रात को डिनर के बाद, मैं और मेरे पति उससे वॉक पर भी ले जाते थे।

1 लोगों को यह कहानी मददगार लगी

पोस्टेड ऑन- 03 Jul 2020

सफल चिकित्सा की और कहानियाँ पढ़ें

अस्वीकरण: इस साइट पर दिखने वाले प्रशंसापत्र हैं व्यक्तिगत अनुभव, वास्तविक जीवन के अनुभवों को दर्शाते हैं उन लोगों के लिए जिन्होंने हमारे उत्पादों और / या सेवाओं का उपयोग किया है किसी तरह या अन्य। हालांकि, वे व्यक्तिगत परिणाम हैं और परिणाम भिन्न होते हैं। हम यह दावा नहीं करते कि वे विशिष्ट हैं परिणाम जो उपभोक्ता आम तौर पर हासिल करेंगे। प्रशंसापत्र जरूरी सभी के प्रतिनिधि नहीं हैं जो हमारे उत्पादों और / या सेवाओं का उपयोग करेंगे।