इकोस्प्रिन 75 एमजी टैबलेट - उपयोग, खुराक, चेतावनी और साइड-इफेक्ट्स

Ecosprin 75 mg tablet - uses, dosage, warnings and side-effects in hindi

ecosprin 75mg tablet – upyog, khuraq, chetavani aur side effects in hindi

इकोस्प्रिन टैबलेट भारत में व्यापक रूप से इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं में से एक है। इस दवा का उपयोग दिल की समस्याओं जैसे स्ट्रोक और कार्डियक अरेस्ट के लिए किया जा सकता है। इकोस्प्रिन टैबलेट शरीर द्वारा उत्पादित साइक्लो-ऑसीजनेस (cyclo-oxygenase) एंजाइम को अवरुद्ध करती है जो प्रोस्टाग्लैंडीन कैमिकल्स (prostaglandin chemicals) के उत्पादन के लिए जिम्मेदार है।

इस एंजाइम से शरीर में सूजन और दर्द होता है, इकोस्प्रिन जैसी प्रभावी दवाओं से इस दर्द को नियंत्रित किया जा सकता है। इकोस्प्रिन 75 एमजी टैबलेट का उपयोग बहुत तेज दर्द और लगातार बुख़ार रहने की स्थिति‍ में भी किया जा सकता है।

आज इस लेख में इकोस्प्रिन टैबलेट के क्या प्रयोग है, ये कैसे काम करती है, इकोस्प्रिन की खुराक, इकोस्प्रिन के दुष्प्रभाव और इकोस्प्रिन टैबलेट से संबंधित सवाल जवाब के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे।

मैं कन्फ्युज हूँ, मुझे मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट उपचार की योजना तैयार करने में आपकी सहायता करेंगे

i’m confused, i need help

इस लेख़ में/\

  1. इकोस्प्रिन टैबलेट के उपयोग क्या हैं?
  2. इकोस्प्रिन टैबलेट कैसे काम करती है?
  3. इकोस्प्रिन टैबलेट की खुराक क्या होनी चाहिए?
  4. इकोस्प्रिन टैबलेट से संबंधित सावधानियां क्या हैं?
  5. इकोस्प्रिन टैबलेट के साइड-इफेक्ट्स क्या हैं?
  6. इकोस्प्रिन टैबलेट के विकल्प क्या हैं?
 

1.इकोस्प्रिन टैबलेट के उपयोग क्या हैं?

What are the uses of ecosprin tablet in hindi

Ecosprin Tablet ke upyog kya hai in hindi

इकोस्प्रिन टैबलेट एक नॉन-स्टेरायडल एंटी इंफ्लेमेट्री दवा - एनएसएआईडी (non-steroidal anti-inflammatory drug - NSAIDs) है जो स्टेटिन नामक दवाओं से संबंधित है। यह दवा आसानी से मेडिकल काउंटर पर उपलब्ध होती है।

इकोस्प्रिन टैबलेट का उपयोग हृदय रोगों और डिस्लिपिडेमिया के इलाज के लिए किया जाता है।

इकोस्प्रिन एवी 75 (ecosprin av 75) टैबलेट शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर और लिपोप्रोटीन को कम करने के साथ ही फैटी लीवर और धमनियों के आकार में कमी करने में मदद करती है।

दिल का दौरा, स्ट्रोक या कोरोनरी हृदय रोग के जोखिम को कम करने के लिए इकोस्प्रिन टैबलेट का प्रभावी रूप से उपयोग किया जाता है।

बेशक, दवा बाजार में आसानी से उपलब्ध है लेकिन आपको डॉक्टर की सलाह के बिना दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

इकोस्प्रिन टैबलेट के उपयोग (Uses of Ecosprin Tablet)

  • ज्‍वॉइंट पेन (Joint Pain)

ज्वॉइंट पेन की समस्या से परेशान रोगियों के लिए इकोस्प्रिन दवा बहुत मददगार है।

इस दवा में मौजूद घटक रोगियों में ज्वॉइंट पेन को कम करने में मदद करते हैं।

  • पीरियड क्रैम्प्स (Periods Cramp)

इकोस्प्रिन 75 मिलीग्राम टैबलेट शरीर में प्रोस्टाग्लैंडीन के स्तर में कमी के साथ पीरियड क्रैम्प्स और मासिक धर्म के दर्द को कम करने में मदद करती है।

  • बुखार (Fever)

एंटी इंफ्लेमेट्री गुण होने के कारण इकोस्प्रिन दर्द, सूजन और बुख़ार को कम करने में मदद करती है।

  • ऑस्टियोआर्थराइटिस (Osteoarthritis)

इकोस्प्रिन ऑस्टियोआर्थराइटिस के दर्द, सूजन और जोड़ों में अकड़न का इलाज करने में मदद करती है।

  • रुमेटीइड गठिया (Rheumatoid arthritis)

इकोस्प्रिन टैबलेट को रुमेटीइड गठिया के उपचार का एक प्रभावी स्रोत माना जाता है क्योंकि यह सूजन के स्तर को कम करने में मदद करती है।

  • दिल का दौरा (Heart attack)

दिल के दौरे के रोगियों में हृदय जोखिम को कम करने के लिए इकोस्प्रिन एक प्रभावी विकल्प माना जाता है।

और पढ़ें:अनवांटेड 72 टैबलेट - डोज़, उपयोग फ़ायदे और दुष्प्रभाव

कॉलबैक का अनुरोध करें और पाएँ मूल्य का उचित आकलन

 

2.इकोस्प्रिन टैबलेट कैसे काम करती है?

How does ecosprin tablet work in hindi

Ecosprin tablet kaise kaam karti hai in hindi

इकोस्प्रिन, सूजन से राहत देकर असामान्य रक्त के थक्के के जोखिम को कम करती है और रक्त के प्रवाह को सुचारू रूप से बढ़ाती है। इकोस्प्रिन में मौजूद घटक एटोरवास्टेटिन (atorvastatin) रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

इससे डिस्लिपिडेमिया (dyslipidemia) को नियंत्रित करने और हृदय रोगों के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है।

यह प्रोस्टाग्लैंडिंस को अवरुद्ध करने का भी काम करता है जिससे रोगी को गंभीर सूजन, दर्द और चोट लगने पर लालिमा आने जैसे लक्षणों से राहत मिलती है।

इकोस्प्रिन टैबलेट का मुख्य घटक एस्पिरिन होता है जो रक्त के थक्के बनने से रोकता है, रक्त को पतला करने और रक्त वाहिकाओं के माध्यम से रक्त प्रवाह को सुचारू बनाता है।

और पढ़ें:अश्वगंधा - डोज़, उपयोग फ़ायदे और दुष्प्रभाव

 

3.इकोस्प्रिन टैबलेट की खुराक क्या होनी चाहिए?

What should be the dose of ecosprin tablet in hindi

Ecosprin tablet ki khurak kya honi chahiye in hindi

इकोस्प्रिन टैबलेट के अलग-अलग डोज होते हैं जो 75 एमजी, 150 एमजी, और 325 एमजी टैबलेट के रूप में उपलब्ध हैं।

इकोस्प्रिन टैबलेट की खुराक निम्न होनी चाहिए :

  • इकोस्प्रिन 150 एमजी रक्त के थक्के जमने को रोकने में मदद करती है।
    यह एक पेन किलर है जो मांसपेशियों को रिलैक्स करने में मदद करती है।
    इस डोज़ का उपयोग प्लेटलेट्स एकत्रीकरण को कम करने के लिए भी किया जाता है।
    इकोस्प्रिन 150 एमजी एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम, बुख़ार, रूमेटिक फीवर, गठिया और दर्द में दी जा सकती है।
  • इकोस्प्रिन एवी 75 एमजी दवा कॉन्डिसिप्लिडिमिया (condyslipidemia) और हृदय रोगों के उपचार में मदद करती है।
    इस डोज़ का उपयोग एलडीएल को बढ़ाने और अपचय की समस्या को कम करने के लिए भी किया जा सकता है।

इकोस्प्रिन खुराक के लिए याद रखने वाले महत्वपूर्ण बिंदु :

  • इकोस्प्रिन एवी 75 कैप्सूल की एक छूटी हुई खुराक का सेवन अगली खुराक के समय से पहले जितनी जल्दी हो सके किया जाना चाहिए।
    यदि पहले से ही अगली खुराक का समय हो चुका हो तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें।
  • इकोस्प्रिन एवी 75 कैप्सूल की अधिकता की स्थिति में रोगियों को तुरंत डॉक्टरों से परामर्श करना चाहिए।
  • दिनभर में सिर्फ एक खुराक बच्चों, वयस्कों और वृद्ध लोगों के लिए निर्धारित है।
  • वयस्कों और वृद्ध लोगों के लिए, इकोस्प्रिन टैबलेट को 50-650 मिलीग्राम तक लेने की सलाह दी जाती है।
    यह सुनिश्चित करना चाहिए कि चिकित्सक द्वारा निर्देशित खुराक का सेवन किया जाए।
  • इकोस्प्रिन 5 से 10 मिनट में असर दिखाने लगती है और इसका असर कम से कम 4-6 घंटे तक रहता है।
  • बच्चों के लिए, खुराक को 80-100 मिलीग्राम तक देने की सिफारिश की जाती है।

और पढ़ें:कॉम्बिफ्लेम टैबलेट - डोज़, उपयोग फ़ायदे और दुष्प्रभाव

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

i need guidance in choosing the best doctor
 

4.इकोस्प्रिन टैबलेट से संबंधित सावधानियां क्या हैं?

What are the precautions related to ecosprin tablet in hindi

Ecosprin tablet se sambandhit savdhaniya in hindi

इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करते समय मादक पदार्थों का सेवन ना करें, अन्यथा रक्तस्राव हो सकता है। दवा की खुराक डॉक्टर द्वारा निर्देशित ही लें, कम या ज्यादा डोज़ ना लें।

इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करने के दौरान गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल साइड-इफेक्ट्स हो सकता है। ऐसी स्थिति में डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

अगर किसी को पेप्टिक अल्सर रोग हो या इतिहास में रहा हो तो मरीज़ों को इकोस्प्रिन का उपयोग करने से बचना चाहिए। यदि किसी तरह की कोई एलर्जी है या बीमारी है तो डॉक्टर को जरूर बताएं।

इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करते समय निम्न बातों का ध्यान रखें :

  • एलर्जी (Allergies)

मरीज़ को यदि एस्पिरिन या अन्य एनएसएआईडी से एलर्जी है इकोस्प्रिन दवा के सेवन से बचना चाहिए।

  • किडनी या लिवर की समस्या (Kidney or Liver diseases)

किडनी या लिवर की समस्या वाले रोगियों के लिए इकोस्रिस न प्रतिकूल और हानिकारक हो सकती है।

डॉक्टर आमतौर पर उन रोगियों को इकोस्प्रिन टैबलेट देने की सलाह नहीं देते हैं, जिन्हें लिवर और किडनी संबंधी विकार हैं।

  • अस्थमा (Asthma)

इकोस्प्रिन टैबलेट को आमतौर पर अस्थमा और अन्य श्वसन विकारों से संबंधित रोगियों को नहीं दिया जाता।

  • गैस्ट्रो बीमारी (Gastro ailments)

यह दवा उन रोगियों को नहीं सुझाई जाती है जिनको गैस्ट्रो बीमारी जैसे पेप्टिक अल्सर होता है।

ऐसे मामलों में इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करने से आंतरिक रक्तस्राव होने की संभावना बढ़ सकती है।

  • गर्भावस्था (Pregnancy)

जब तक यह आवश्यक हो गर्भावस्था में इकोस्प्रिन की गोलियों से बचना चाहिए।

गर्भावस्था के अंतिम तीन महीनों के दौरान इकोस्प्रिन टैबलेट का उपयोग करना भ्रूण के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

  • स्तनपान (Breastfeeding)

यदि आवश्यक हो तो स्तनपान के दौरान इस दवा का सेवन ना करें, जब तक डॉक्टर ना सुझाएं।

  • रेयेस सिंड्रोम (Reye's syndrome)

इन्फ्लुएंजा या वैरिकाला संक्रमण जैसे सिंड्रोम होने पर बच्चों को इकोस्प्रिन का सेवन नहीं करना चाहिए।

  • हार्ट फेल्योर (Heart failure)

जिन रोगियों को हृदय रोग है या हिस्ट्री रही है उन्हें इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।

ऐसा इसलिए है क्योंकि इकोस्प्रिन टैबलेट की उच्च खुराक से मरीज़ के शरीर में सोडियम और पानी की कमी हो सकती है।

  • ड्राइविंग (Driving)

मरीज़ों को इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करने के बाद नींद आने लगती है।

ऐसे में दवा के सेवन के बाद ड्राइविंग से बचना चाहिए।

  • इन चीजों से रखें दूर (Keep away from these things)

इस दवा को 20 से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच के तापमान पर रखा जाना चाहिए।

साथ ही इसे गर्मी, नमी और डायरेक्ट धूप से दूर रखना चाहिए।

इस दवा को पालतू जानवरों और बच्चों की पहुंच से भी दूर रखा जाना चाहिए।

और पढ़ें:क्रोसिन एडवांस टैबलेट - डोज़, उपयोग फ़ायदे और दुष्प्रभाव

 

5.इकोस्प्रिन टैबलेट के साइड-इफेक्ट्स क्या हैं?

What are the side-effects of ecosprin tablet in hindi

Ecosprin tablet ke dushprabhav in hindi

इकोस्प्रिन टैबलेट के साइड-इफ़ेक्ट्स निम्न हैं :

  • अन्य दवाओं की तरह इकोस्प्रिन टैबलेट के भी कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। इसलिए इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सावधानीपूर्वक चर्चा करनी चाहिए।
  • इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करते समय शराब और सिगरेट सेवन रोगियों के लिए घातक हो सकता है।
  • मधुमेह और निम्न रक्तचाप के रोगियों को भी इकोस्प्रिन दवा के कुछ साइड-इफ़ेक्ट्स हो सकते हैं।
  • इकोस्प्रिन से कुछ रोगियों को भी एलर्जी का अनुभव होता है जैसे कि मूत्र संक्रमण, तेज पीठ दर्द, सीने में दर्द, त्वचा का पीला पड़ना या लिवर रोगों का होना।
  • इकोस्प्रिन के कुछ अन्य दुष्प्रभावों में सिरदर्द, पेट में दर्द, कब्ज, कमज़ोरी और थकान शामिल हैं।
    यदि रोगी में साइड-इफेक्‍ट के लक्षण 1 से 2 दिन में नहीं कम होते तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

और पढ़ें:क्लोमिड टैबलेट - डोज़, उपयोग, फ़ायदे और दुष्प्रभाव

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

i need guidance in choosing the best doctor
 

6.इकोस्प्रिन टैबलेट के विकल्प क्या हैं?

What are the substitutes of ecosprin tablet in hindi

Ecosprin Tablet ke vikalp kya hai in hindi

इकोस्प्रिन 75 एमजी टैबलेट के निम्न लोकप्रिय विकल्प मौजूद हैं :

  • एस्पिरिन (aspirin) 75 MG टैबलेट- ज़ाइडसकैडिल (zydus cadil)
  • स्प्रिंटास (sprintas) 75 एमजी गोली- इंटास फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड (Intas Pharmaceuticals Ltd)
  • स्प्रिन (sprin) 75 एमजी टैबलेट- एल्केम लैबोरेटरीज लिमिटेड (Alkem Laboratories Ltd)
  • आसा (asa) 75 एमजी गोली- ज़ाइडसकैडिला (zydus cadila)
  • लोप्रिन (loprin) 75 एमजी गोली- यूनिकेम लेबोरेटरीज लिमिटेड (unichem laboratories Ltd)

इस प्रकार, इकोस्प्रिन टैबलेट एक महत्वपूर्ण एनएसएआईडी है जिसका उपयोग विभिन्न स्थितियों के उपचार में किया जाता है।

एस्पिरिन इकोस्प्रिन दवा का एक महत्वपूर्ण घटक है और यह बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। यह गर्भावस्था से जुड़ी जटिलताओं जैसे प्री-एक्लेमप्सिया (pre-eclampsia) को रोकने में भी मदद करता है।

बेशक, यह दवा कई लाभ देती है, लेकिन मरीज़ को हमेशा अपने डॉक्टर से इकोस्प्रिन टैबलेट लेने से पहले पुष्टि कर लेनी चाहिए। दवाओं से संबंधित अधिक जानकारी के लिए, आप Zealthy.in पर जा सकते हैं।

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: 17 Mar 2020

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

विशेषज्ञ सलाहASK AN EXPERT

अक्सर पूछे गए प्रश्न

इकोस्प्रिन टैबलेट क्यों दी जाती है?

इकोस्प्रिन टैबलेट तेज जोड़ों के दर्द, बुख़ार, माइग्रेन, दांत दर्द, मासिक धर्म में दर्द, नर्व्स पेन, गले में खराश जैसी स्थितियों के उपचार में उपयोगी है। यह दवा रोगियों में दिल के दौरे और स्ट्रोक की संभावना को रोकती और कम करती है।

इकोस्प्रिन टैबलेट कैसे ले सकते हैं?

खाने के साथ इकोस्प्रिन टैबलेट का सेवन करना चाहिए। दवा को चबाया या पीसा नहीं जाना चाहिए।

इकोस्प्रिन टैबलेट रोज़ाना ले सकते हैं?

डॉक्टर से परामर्श करके ही दवा लेनी चाहिए। रोज़ाना इसके सेवन से आंतरिक रक्तस्राव हो सकता है।

इस दवा का उपयोग करना सुरक्षित है?

यदि सही मात्रा में या डॉक्टर द्वारा निर्देशित हो तो इसका सेवन सुरक्षित है।

क्या इकोस्प्रिन रक्त को पतला करने का काम करता है?

इकोस्प्रिन टैबलेट एक एंटीप्लेटलेट दवा है जो रक्त का पतला करती है।

हृदय विकारों में इकोस्प्रिन के क्या लाभ हैं?

इकोस्प्रिन की खुराक स्टेंट रिप्लेसमेंट या कोरोनरी धमनी बाइपास प्रक्रियाओं के बाद रोगियों को निर्धारित की जाती हैं।

कॉल

व्हाट्सप्प

अपॉइंटमेंट बुक करें