Introduction

क्रोसिन एडवांस टैबलेट - डोज़, उपयोग फ़ायदे और दुष्प्रभाव

Crocin advance tablet - dose, use, benefits and side-effects in hindi

Crocin advance tablet ke dose, upyog, fayde aur side-effects in hindi

क्रोसिन एडवांस एक हल्की दर्द निवारक और एंटीपायरेटिक दवा है जिसका उपयोग सिरदर्द, सर्दी या बुख़ार जैसे विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के लिए किया जाता है।

इसकी सिफ़ारिश गले में खराश, शरीर में दर्द, गठिया, दांत दर्द, मांसपेशियों में दर्द और पीरियड क्रैम्प के लिए भी किया जाता है। पेरासिटामोल दवा को खाने के बाद यह तेजी से शरीर पर प्रभाव डालता है।

डॉक्टर्स द्वारा दर्द से राहत के लिए कभी-कभी ट्रीटमेंट के दौरान सबसे पहले क्रोसिन एडवांस दी जाती है। क्रोसिन हार्ट कंडीशन, उच्च रक्तचाप, सेंसेटिव पेट और मधुमेह के रोगियों और बुजुर्गों के लिए भी उपयुक्त है।

लिवर और किडनी वाले मरीज़ों को इसे लेने से पहले अपने डॉक्टरों से परामर्श करना चाहिए। इस लेख से आप क्रोसिन एडवांस टैबलेट, इसकी संरचना, उपयोग, लाभ, खुराक, साइड इफेक्ट्स और सावधानियों के बारे में जानेंगे।

मैं कन्फ्युज हूँ, मुझे मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट उपचार की योजना तैयार करने में आपकी सहायता करेंगे

loading image

इस लेख़ में/\

  1. क्रोसिन एडवांस टैबलेट क्या है?
  2. क्रोसिन एडवांस टैबलेट का कंपोजिशन क्या है?
  3. क्रोसिन एडवांस टैबलेट का उपयोग कब किया जाता है?
  4. क्रोसिन एडवांस टैबलेट के लाभ क्या हैं?
  5. क्रोसिन एडवांस टैबलेट की खुराक क्या होनी चाहिए?
  6. क्रोसिन एडवांस टैबलेट से जुड़ी सावधानियां क्या हैं?
  7. क्रोसिन एडवांस टैबलेट के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?
  8. क्रोसिन एडवांस टैबलेट से कब बचें?
 

1.क्रोसिन एडवांस टैबलेट क्या है?

What is crocin advance tablet in hindi

Crocin advance tablet kya hain in hindi

क्रोसिन एडवांस टैबलेट एक ठोस और तरल दोनों रूपों में विभिन्न प्रकार के वैरिएंट में उपलब्ध एनाल्जेसिक ड्रग है जिसे रोगी के दर्द और बुख़ार के लक्षणों को कम करने के लिए उपयोग किया जाता है।

इस दवा में दर्द निवारक गुण होने के कारण इसका उपयोग मांसपेशियों में दर्द के इलाज के लिए किया जाता है, जिसमें पीठ में दर्द, गठिया, पैर में ऐंठन और दांत दर्द शामिल हैं।

डॉक्टर्स मासिक धर्म से पहले और दौरान गंभीर ऐंठन से राहत देने के लिए क्रोसिन एडवांस देते हैं।

इस टैबलेट का उपयोग सर्जरी करवा चुके कैंसर रोगियों भी कर सकते हैं क्योंकि ये रोगियों के दर्द को कम करने में मदद करती है।

मैं कन्फ्युज हूँ, मुझे मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट उपचार की योजना तैयार करने में आपकी सहायता करेंगे

loading image
 

2.क्रोसिन एडवांस टैबलेट का कंपोजिशन क्या है?

What is the composition of crocin advance tablet in hindi

Crocin advance tablet kisse bana hai in hindi

क्रोसिन एडवांस टैबलेट में पेरासिटामोल 500 एमएम, एल्गिनिक एसिड और कैल्शियम कार्बोनेट शामिल है। क्रोसिन के विभिन्न स्वरूपों में अलग-अलग रचना शामिल हो सकती है।

 

3.क्रोसिन एडवांस टैबलेट का उपयोग कब किया जाता है?

When crocin advance tablet is used in hindi

Crocin advance tablet ka prayog in hindi

क्रोसिन एडवांस टैबलेट का मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द, गठिया और दांत दर्द के इलाज के लिए किया जा सकता है।

निम्नलिखित स्थितियों में इस दवा को लिया जा सकता है :

  • बुखार (Fever)

क्रोसिन को बुख़ार के लक्षणों जैसे शरीर के अधिक तापमान और दर्द को कम करने के लिए लिया जा सकता है। हालांकि, यह बुख़ार के कारणों का इलाज नहीं करता।

  • ठंड (Cold)

क्रोसिन एडवांस को सर्दी, बंद नाक, गले में खराश, नाक या साइनस के कारण थकावट जैसी विभिन्न स्थितियों में लिया जा सकता है।

  • सिरदर्द (Headache)

सिरदर्द वयस्कों और बच्चों दोनों में आम है। माइग्रेनस से लेकर हर तरह के सिरदर्द में ये दवा राहत देती है। इस दवा को दर्द से राहत पाने के लिए कैफीन और एस्पिरिन के साथ लिया जाता है।

  • मांसपेशियों में दर्द (Muscle aches)

आमतौर पर मांसपेशियों में दर्द मांसपेशियों पर तनाव के कारण होता है। क्रोसिन को कंधे, गर्दन और पीठ से जुड़े मांसपेशियों के दर्द से राहत देने के लिए लिया जाता है।

  • मासिक धर्म में ऐंठन (Menstrual cramps)

महिलाओं में मासिक धर्म चक्र से जुड़े दर्द और ऐंठन को दूर करने के लिए क्रोसिन ली जा सकती है।

  • पोस्ट इम्यूनाइजेशन पाइरेक्सिया (Post immunization pyrexia)

टीका लगने के बाद होने वाले दर्द और बुख़ार से राहत के लिए क्रोसिन एडवांस टैबलेट ली जा सकती है।

  • गठिया (Arthritis)

क्रोसिन एडवांस टैबलेट का हिप, हाथ या घुटने के गठिया के दर्द वाले मरीज़ इस्तेमाल कर सकते हैं। यह हल्के गठिया में दर्द को कम करने में मदद करता है लेकिन सूजन और लाली को दूर नहीं करता है।

  • सर्जिकल दर्द (Surgical pain)

सर्जरी के बाद होने वाले दर्द से निपटने में क्रोसिन का इस्तेमाल किया जा सकता है।

  • दांत दर्द (Toothache)

हल्के से गंभीर दांत दर्द के इलाज के लिए क्रोसिन एडवांस टैबलेट का उपयोग किया जा सकता है।

कॉलबैक का अनुरोध करें और पाएँ मूल्य का उचित आकलन

 

4.क्रोसिन एडवांस टैबलेट के लाभ क्या हैं?

What are the benefits of crocin advance tablet in hindi

Crocin Advance tablet ke labh in hindi

क्रोसिन एडवांस टैबलेट सफलतापूर्वक रोगी के सेंट्रल नर्वस सिस्टम पर कुशलतापूर्वक काम करती हैं।

यह दवा दर्द और सूजन को कम करने का काम करती है।

ये दवा बुख़ार के दौरान शरीर के तापमान को बढ़ाने वाले प्रोस्टाग्लैंडीन को रिलीज होने से रोकता है।

क्रोसिन मस्तिष्क में एंजाइम फ़ंक्शन को रोकती है जिससे दर्द और बुख़ार का इलाज करने में मदद मिलती है।

इस दवा से ब्रेन में रिसेप्टर्स सक्रिय हो जाते हैं जो दर्द देने वाले संकेत को रोकते हैं।

गर्भावस्था में ये दवा पीठ दर्द के लिए बेहतर है।

इस दवा के दुष्प्रभाव कम हैं और इसका असर 30 मिनट में दिखना शुरू हो जाता है।

 

5.क्रोसिन एडवांस टैबलेट की खुराक क्या होनी चाहिए?

What should be the dose of crocin advance tablet in hindi

Crocin advance tablet ki khurak in hindi

कम समय के लिए क्रोसिन का सेवन एक सुरक्षित और असरकारक दवा है।

क्रोसिन एडवांस गोली का प्रभाव औसतन 4-6 घंटे तक रहता है, इसलिए हर 4 से 6 घंटे के बाद ही दूसरी गोली लेने की सलाह दी जाती है।

5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए अधिकतम खुराक 120 एमजी है और प्रति दिन 1 टैबलेट से अधिक नहीं देनी होती।

इस दवा को मौखिक रूप से लेना ज्यादा फायदेमंद होता है।

क्रोसिन की ओवरडोज़ शरीर के लिए हानिकारक प्रभाव पैदा कर सकती है।

ये प्रभाव रोगी की स्वास्थ्य स्थिति के आधार पर एक रोगी से दूसरे में भिन्न होते हैं।

ओवरडोज होने पर डॉक्टर को तुरंत सूचित करें।

दवा ओवरडोज होने पर भूख में कमी, चक्कर आना, मतली, पेट दर्द जैसे लक्षण हो सकते हैं।

इसके अलावा त्वचा और आंख का पीला होना और गहरे रंग का मूत्र आना शामिल है।

कॉलबैक का अनुरोध करें और पाएँ मूल्य का उचित आकलन

 

6.क्रोसिन एडवांस टैबलेट से जुड़ी सावधानियां क्या हैं?

What are the precautions for crocin advance tablet in hindi

Crocin Advance tablet lete waqt kya rakhe dhyan in hindi

क्रोसिन एडवांस टैबलेट 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों और उन रोगियों को नहीं दिया जाता है जो अन्य पेरासिटामोल युक्त उत्पाद ले रहे हैं।

डॉक्टर की सलाह के बिना तीन दिनों से अधिक समय तक दवा नहीं लेनी चाहिए और प्रतिदिन 4 ग्राम से अधिक नहीं होनी चाहिए।

ध्यान रहें, दवा का ओवरडोज़ लिवर को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है।

जिन रोगियों को पेरासिटामोल या उत्पाद में किसी भी अन्य सामग्री से एलर्जी है, उन्हें भी क्रोसिन एडवांस लेने की सलाह नहीं दी जाती है।

क्रोसिन को लेने से पहले लिवर या किडनी की बीमारी वाले मरीज़ों को डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

 

7.क्रोसिन एडवांस टैबलेट के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

What are the side-effects of crocin advance tablet in hindi

Crocin Advance Tablet ke side-effects kya hai in hindi

क्रोसिन एडवांस टैबलेट कुछ रोगियों में कुछ साइड इफेक्ट्स का भी कारण बन सकती है।

लेकिन हमेशा ये इफेक्ट्स नहीं होते।

कुछ दुष्प्रभाव दुर्लभ, लेकिन गंभीर हो सकते हैं।

यदि कोई रोगी निम्नलिखित दुष्प्रभावों में से किसी से पीड़ित है और यदि वे कम नहीं होते हैं तो डॉक्टर से तुरंत परामर्श किया जाना चाहिए।

जैसे -

  • त्वचा पर होने वाली एलर्जी जैसे कि चकत्ते, सूजन, और खुजली
  • सूजा हुआ चेहरा
  • चकत्ते
  • सांसों की कमी
  • जी मिचलाना
  • लिवर को होने वाले नुकसान
  • श्वास अवरोध
  • रक्त कोशिकाओं की असामान्यताएं
  • लिवर की विषाक्तता
  • किडनी की पुरानी बीमारी
  • स्टीवंस-जॉन्सन सिंड्रोम (Stevens-Johnson Syndrome)
  • गुर्दे की समस्याएं
  • उल्टी अथवा मितली
  • दस्त या लूज मोशन
  • गैस और पेट फूलना
  • थकान और चक्कर आना
  • एनीमिया
  • दृष्टि का धुंधला होना

कॉलबैक का अनुरोध करें और पाएँ मूल्य का उचित आकलन

 

8.क्रोसिन एडवांस टैबलेट से कब बचें?

When to avoid crocin advance tablet in hindi

Crocin Advance Tablet se kab bacche in hindi

पेरासिटामोल (paracetamol) क्रोसिन सहित कई संयोजन दवाओं में निहित है।

यदि आप कुछ दवाओं का एक साथ उपयोग करते हैं तो आपके शरीर में अनजाने में बहुत अधिक पेरासिटामोल मौजूद हो सकता है।

डॉक्टर या फार्मासिस्ट के परामर्श के बिना किसी अन्य खांसी, सर्दी, एलर्जी, या दर्द की दवा का उपयोग न करें।

किसी भी लेने से पहले सुनिश्चित करें कि आप जो दवा ले रहे हैं वो पेरासिटामोल, एसिटामिनोफेन (acetaminophen) या एपीएपी (APAP) है या नहीं।

इस दवा को लेते समय शराब पीने से बचें क्योंकि यह पेरासिटामोल लेते समय लिवर की क्षति का ख़तरा बढ़ा सकता है।

निम्न स्वास्थ्य-संबंधी स्थितियों में क्रोसिन के उपयोग से बचें:

  • लिवर रोग (Liver disease)

अगर रोगी लिवर रोगों से पीड़ित हो तो क्रोसिन नहीं लिया जाना चाहिए।

  • स्तनपान (Breastfeed)

स्तनपान के दौरान नई माताएं क्रोसिन लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श करें।

  • किडनी रोग (Kidney disease)

दर्द निवारक दवाओं के अत्यधिक उपयोग के कारण बिगड़ा हुआ किडनी फंक्शन होने पर क्रोसिन एडवांस टैबलेट लेने से बचें।

  • गर्भावस्था (Pregnancy)

गर्भवती महिलाएं क्रोसिन एडवांस टैबलेट लेने से बचें। सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही इस दवा का सेवन करें।

  • कुपोषण (Malnutrition)

क्रोसिन एडवांस टैबलेट का उपयोग कुपोषण से पीड़ित रोगियों में सावधानी के साथ किया जाना चाहिए।

क्रोसिन एडवांस टैबलेट के कुछ विकल्प हैं :

  • पैसिवेल 500 एमजी गोली (Paciwel 500 mg Tablet)
  • बेबीमोल 500 एमजी गोली (Babymol 500 mg Tablet)
  • पैरालैब 500 एमजी गोली(Paralab 500 mg Tablet)
  • रेक्सिमोल 500 एमजी टैबलेट (Reximol 500 mg tablet)
  • टॉरपोल 500 एमजी टैबलेट (Tarpol 500 mg tablet)
  • पैराटास 500 एमजी गोली (Paratas 500 mg tablet)
  • इफिमोल 500 एमजी टैबलेट(Ifimol 500 mg tablet)
  • टी-98 500 एमजी गोली (T-98 500mg Tablet)
  • जीपर रैपीड़ 500 एमजी गोली (Xipar Rapid 500mg Tablet)

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि:: 25 Feb 2020

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

विशेषज्ञ सलाहASK AN EXPERT

कॉल

व्हाट्सप्प

अपॉइंटमेंट बुक करें