Combiflam tablet ke dose, upyog, fayde aur side-effects in hindi

कॉम्बिफ्लेम टैबलेट - डोज़, उपयोग फ़ायदे और दुष्प्रभाव

Combiflam tablet - Dose, use, benefits and side-effects in hindi

Combiflam tablet ke dose, upyog, fayde aur side-effects in hindi

कॉम्बिफ्लेम टैबलेट एक प्रभावी दर्द निवारक दवा है जिसके उपयोग से दर्द और सूजन से राहत मिलती है, लेकिन ये दर्द के कारणों को ठीक नहीं करता। कॉम्बिफ्लेम की संरचना आइबूप्रोफेन और पैरासिटामोल घटकों (components) से हुई है।

कॉम्बिफ्लेम के कुछ दुष्प्रभाव भी होते हैं जैसे - पेट दर्द, मतली और अपच आदि। सही तरह से दूध या खाने के साथ इसे लेने से इन समस्याओं से बचा जा सकता है। कॉम्बिफ्लेम सिरदर्द, मासिक धर्म के दर्द और गठिया (arthritis) को भी ठीक करता है। प्रत्येक औषधीय गोली के हल्के से लेकर गंभीर दुष्प्रभाव भी होते हैं। इसी तरह, कॉम्बिफ्लेम अगर सावधानी से नहीं लिया जाए, तो रक्तस्राव की जटिलताओं और लीवर डैमेज का कारण बन सकता है।

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

loading image

इस लेख़ में/\

  1. कॉम्बिफ्लेम की खुराक क्या होनी चाहिए
  2. कॉम्बिफ्लेम की संरचना में कौन से घटक शामिल हैं?
  3. कॉम्बिफ्लेम टैबलेट की सलाह कब दी जा सकती है ?
  4. कॉम्बिफ्लेम की गोली कैसे करती है काम?
  5. कॉम्बिफ्लेम के दुष्प्रभाव से कैसे बचें ?
  6. कॉम्बिफ्लेम के साइड इफेक्ट्स क्या हैं ?
  7. पूछे गए प्रश्न
 

1.कॉम्बिफ्लेम की खुराक क्या होनी चाहिए

What should be the dose of Combiflam? in hindi

Combiflam ki khurak kya honi chahiye in hindi

कॉम्बिफ्लेम के सेवन के तुरंत बाद ये प्रभावी हो जाता है।

कॉम्बिफ्लेम की खुराक दर्द की गंभीरता और स्थिति पर निर्भर करती है।

यदि रोगी असहनीय दर्द से पीड़ित है तो डॉक्टर उच्च खुराक दे सकते हैं।

हल्के दर्द के लिए डॉक्टर से परामर्श के बाद कॉम्बिफ्लेम की हल्की खुराक उपयुक्त है।

डॉक्टर की सलाहानुसार ही ये दवा लें, अन्यथा ओवरडोज खतरनाक और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

डॉक्टर आपके स्वास्थ्य, एलर्जी और मेडिकल इतिहास आदि को मद्देनज़र रखते हुए ही कॉम्बिफ्लेम की खुराक सुनिश्चित करते हैं।

कॉलबैक का अनुरोध करें और पाएँ मूल्य का उचित आकलन

 

2.कॉम्बिफ्लेम की संरचना में कौन से घटक शामिल हैं?

Combiflam is made up of which components? in hindi

Combiflam kisse bana hai in hindi

कॉम्बिफ्लेम की संरचना दो तरह के दर्द निवारक ड्रग्स से हुई है। यह कंपोजिशन दर्द को शांत करने में मदद करता है।

यह असंतुलन हार्मोन और एंजाइमों को भी नियंत्रि‍त करता है, जो सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार होते हैं।

कॉम्बिफ्लेम की संरचना में शामिल दो तरह के दर्द निवारक ड्रग्स निम्न हैं :

आइबूप्रोफेन (Ibuprofen) : कॉम्बिफ्लेम टैबलेट में 400 मिलीग्राम आइबूप्रोफेन मौजूद होता है।

ये एंटी इंफ्नेमेट्री ड्रग है, ये कुछ मिनटों के भीतर माइग्रेन, मासिक धर्म में ऐंठन, बुख़ार और शरीर के दर्द और सूजन को दूर करने में मदद करती है।

पैरासिटामोल (Paracetamol) : इसके अलावा कॉम्बिफ्लेम टैबलेट में 325 मिलीग्राम पैरासिटामोल मौजूद होता है।

ये घटक एसिटामिनोफेन, दवाओं के एपीएपी वर्ग के अंतर्गत आता है।

ये मध्यम दर्द और बुख़ार को शांत करने में मदद करती है।

 

3.कॉम्बिफ्लेम टैबलेट की सलाह कब दी जा सकती है ?

What are the situations in which combiflam can be suggested? in hindi

Combiflam tablet ka sevan kab kiya ja sakta hai in hindi

कॉम्बिफ्लेम की गोली एंटी-इंफ्लेमेटरी (anti-inflammatory) गुणों से भरपूर होती है जो सूजन और दर्द में राहत देती है।

कुछ अन्य स्थितियों में भी कॉम्बिफ्लेम की सलाह दी जा सकती है।

निम्न स्थितियों के लिए कॉम्बिफ्लेम की सलाह दी जा सकती है :

  • बुख़ार (Fever)

बुख़ार में कॉम्बिफ्लेम अस्थायी रूप से दर्द और सूजन से राहत देने में मदद कर सकती है लेकिन ये बुख़ार के कारण को ठीक नहीं करती।

ऐसे में डॉक्टर की सलाह के बिना कॉम्बिफ्लेम ना लें।

  • दर्द (Pain)

एक मरीज़ को हल्के से मध्यम दर्जे का दर्द महसूस हो सकता है और उसी के अनुसार कॉम्बिफ्लेम की दवा दी जाती है।

कॉम्बिफ्लेम एक बहुउद्देशीय टैबलेट है।

यह कुछ घंटों के भीतर दर्द, सिरदर्द और शरीर में दर्द जैसे विभिन्न दर्द का इलाज करने में मदद करता है।

  • मासिक धर्म का दर्द (Menstrual Cramps)

पेट और मासिक धर्म की ऐंठन में दर्द से राहत पाने के लिए कॉम्बिफ्लेम बेहद मददगार होती है।

  • ऑस्टियोआर्थराइटिस (Osteoarthritis)

ऑस्टियोआर्थराइटिस यानि रूमेटाइड आर्थराइटिस से संबंधित लक्षणों के उपचार में कॉम्बिफ्लेम उपयोगी है।

  • गाउट (Gout)

कॉम्बिफ्लेम से गाउट के दर्द और सूजन से राहत मिलती है।

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

loading image
 

4.कॉम्बिफ्लेम की गोली कैसे करती है काम?

How combiflam tablet works? in hindi

Combiflam tablet kaise karti hai kaam in hindi

शरीर में प्रोस्टाग्लैंडिंस के उत्पादन के लिए जिम्मेदार साइक्लोऑक्सीजिनेज (COX 2) एंजाइम के संयोग को कॉम्बिफ्लेम की गोली अवरुद्ध करती है।

प्रोस्टाग्लैंडिंस के कारण सूजन और जोड़ों में दर्द होता है।

इसलिए ऑस्टियोआर्थराइटिस, जोड़ों में सूजन, माइग्रेन, सूजन, मासिक धर्म में दर्द और बुख़ार जैसी गंभीर स्थितियों को कॉम्बिफ्लेम की मदद से नियंत्रित किया जा सकता है।

कॉम्बिफ्लेम के घटक सभी एंजाइमों या तत्वों के उत्पादन में बाधा डालते हैं, जो सूजन को उत्तेजित करते हैं।

प्रोटियोलिटिक एंजाइम, साइक्लोऑक्सीजिनेज, फ्री रेडिकल्स और प्रोस्टाग्लैंडीन के कारण सूजन होती है।

यह सीधे तापमान का असंतुलन बनाए रखने और कम करने के लिए जिम्मेदार मस्तिष्क के संबंधित हिस्से पर काम करता है।

इसका असर आधे से एक घंटे में शुरू हो जाता है और इसका प्रभाव औसतन 4-6 घंटे की अवधि तक रहता है।

 

5.कॉम्बिफ्लेम के दुष्प्रभाव से कैसे बचें ?

How to avoid the side-effects of combiflam? in hindi

Combiflam ke dushprabhav se kaise bache in hindi

कॉम्बिफ्लेम टैबलेट लेने पहले निम्न बातों का रखें ध्यान :

  • कॉम्बिफ्लेम टैबलेट को डॉक्टर के परामर्श के बिना नहीं लेना चाहिए।
  • ध्यान रखें कि मरीज़ को कॉम्बिफ्लेम टैबलेट से एलर्जी न हो।
  • रोगी को ये सुनिश्चित करना चाहिए कि कॉम्बिफ्लेम या इसके घटकों से उसे कोई एलर्जी ना हो।
  • दवा के सेवन के बाद रोगी को अपने शरीर में होने वाले प्रतिकूल परिवर्तनों की सूचना डॉक्टर को तुरंत देनी चाहिए जैसे कि चेहरे पर सूजन, त्वचा पर खुजली, लाल चकत्ते, अस्थमा का दौरा, पेट में रक्तस्राव, या नाक में जलन।
  • टेबलेट का सेवन करने से पहले पेट के रक्तस्राव या आंत के अल्सर के रोगी को डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।
  • लिवर और किडनी के रोगियों को यह दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।
  • हृदय रोग, हार्ट फेल्योर या स्ट्रोक के मरीज़ों को दवा के सेवन के बाद कोई दुष्प्रभाव होता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • पोर्फिरीरिया से पीड़ित रोगी को कॉम्बिफ्लेम के सेवन से पहले डॉक्टर से परामर्श करनी चाहिए।
  • यदि कोई सांस की समस्या से पीड़ित है, तो एलर्जी से बचने के लिए कॉम्बिफ्लेम के घटकों के संबंध में पहले अपनी जांच करवाएं।
  • इस दवा के सेवन करने के बाद पानी अधिक मात्रा में पीना चाहिए।
    इसके साथ ही दूध या खाने के साथ ही दवा सेवन करें अन्यथा कई तरह की स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानियाँ हो सकती हैं।
  • गर्भधारण की कोशिश में हैं तो कॉम्बिफ्लेम ना लें।
  • कॉम्बिफ्लेम के सेवन के दौरान शराब का सेवन ना करें।
  • पहले से किसी दवा का सेवन कर रहे हैं तो कॉम्बिफ्लेम लेने से पहले डॉक्टर को बताएं।

मुझे सही डॉक्टर के चुनाव में मदद चाहिए

हमारे मेडिकल एक्सपर्ट आपको अनुभवी व नज़दीकी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट बुक कराने में मदद करेंगे

loading image
 

6.कॉम्बिफ्लेम के साइड इफेक्ट्स क्या हैं ?

What are the side-effects of combiflam? in hindi

Combiflam ke side-effects kya hai in hindi

जैसे हर दवा के फायदे और नुकसान होते हैं। वैसे ही कॉम्बिफ्लेम के भी कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हैं।

जैसे- हल्की सीने में जलन, अपच की समस्या, मतली होना, पेट दर्द और थकान।

कॉम्बिफ्लेम के कुछ अन्य दुष्प्रभाव, जो काफी कम नज़र आते हैं :

  • मतली और उल्टी
  • त्वचा पर खुजली
  • गैस्ट्रिक और मौखिक अल्सर
  • मूत्र के साथ खून आना
  • तेज पेट दर्द
  • कब्ज
  • कम मूत्र उत्पादन
  • त्वचा और आंखों में पीलापन
  • भूख में कमी
  • खून की उल्टी
  • अनिद्रा

कुछ स्थितियों में कॉम्बिफ्लेम के दुष्प्रभाव निम्न हैं :

  • क्रोनिक कुपोषण (Chronic malnutrition)

गंभीर प्रतिकूल प्रभावों के जोखिम को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता है।

नैदानिक ​​शोधों (clinical researches) के आधार पर, रोगी में स्वास्थ्य दुष्प्रभावों से बचने के लिए खुराक में वैकल्पिक समायोजन (adjustement) और वैकल्पिक दवाओं (alternative medicines) की आवश्यकता होती है।

  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रक्तस्राव (Gastrointestinal bleeding)

कॉम्बिफ्लेम का लंबे समय तक उपयोग गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रक्तस्राव को उत्तेजित कर सकता है, खासकर जिनकी उम्र अधिक है और जिन लोगों को गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संबंधित समस्याएं हैं।

  • क्रोनिक एलकोहलिज़्म (Chronic alcoholism)

यदि रोगी एल्कोहल का सेवन करता है तो उसे लिवर की समस्या हो सकती है, ऐसे रोगियों के लिए कॉम्बिफ्लेम खतरनाक है।

  • एनीमिया (Anemia)

यदि कोई एनीमिक है, तो इस दवा के सेवन के लिए विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है, क्योंकि इससे स्थिति बिगड़ने का ख़तरा हो सकता है।

  • इंपेयर्ड लीवर (Impaired Liver)

यदि किसी को लीवर की ख़राबी और लीवर से जुड़ी विभिन्न बीमारियां हो रही हैं, तो कॉम्बिफ्लेम देने के दौरान रोगी को अतिरिक्त देखभाल की आवश्यकता होती है।

इन दवाओं के साथ कॉम्बिफ्लेम का सेवन हो सकता है खतरनाक :

  • मेथोट्रेक्सेट के साथ अगर कॉम्बिफ्लेम की खुराक ली जाए तो लीवर क्षति, सांस लेने में तकलीफ़ और रक्तस्राव हो सकता है।
  • कॉम्बिफ्लेम और कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स दवाओं के मिश्रण से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रक्तस्राव का ख़तरा बढ़ सकता है।
  • एस्पिरिन के साथ कॉम्बिफ्लेम लेने पर कॉम्बिफ्लेम का प्रभाव कम हो सकता है।
    इससे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रक्तस्राव, पेट में दर्द और मल में रक्त जैसी समस्याओं का ख़तरा भी हो सकता है।
  • एंटीहाइपरटेंसिव के साथ कॉम्बिफ्लेम लेने से लीवर डैमेज हो सकता है।

कॉम्बिफ्लेम वेरिएंट दवाएं:

  • कॉम्बिफ्लेम टैबलेट
  • कॉम्बिफ्लेम सिरप
  • कॉम्बिफ्लेम जैल
  • कॉम्बिफ्लेम पेन रिलीफ स्प्रे
  • कॉम्बिफ्लेम डोज़ सस्पेंशन फॉर्म (6 महीने की उम्र से ऊपर के शिशु को दिया जा सकता है।

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि:: 13 Feb 2020

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

विशेषज्ञ सलाहASK AN EXPERT

अक्सर पूछे गए प्रश्न

एक्सपायरी डेट की कॉम्बिफ्लेम गोली खाने के क्या नुकसान हैं?

एक बार अवधि समाप्त होने पर कॉम्बिफ्लेम टैबलेट का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं है। यदि कोई दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें।

क्या कॉम्बिफ्लेम टैबलेट लत है?

नहीं, कॉम्बिफ्लेम टैबलेट बिल्कुल भी लत नहीं है। यह केवल कुछ घंटों के लिए दर्द को शांत करती है क्योंकि कॉम्फिफ्लेम की गोली मुख्य कारण का इलाज नहीं कर सकती।

क्या कॉम्बिफ्लेम का सेवन खाली पेट करना सुरक्षित है?

आइबूप्रोफेन, कॉम्बिफ्लेम और अन्य एनएसएआईडी जैसी दवाएं रोगी के पेट में इर्रिटेशन पैदा कर सकती हैं। इसीलिए इसे खाने या दूध के साथ लेना सुरक्षित है।

क्या कॉम्बिफ्लेम बच्चों के लिए सुरक्षित है?

कॉम्बिफ्लेम का लंबे समय तक सेवन करने के कारण लीवर में ख़राबी हो सकती है।

क्या गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान कॉम्बिफ्लेम लेना सुरक्षित है?

हां, कॉम्बिफ्लेम टैबलेट का उपयोग स्तनपान या गर्भावस्था के दौरान भी करना सुरक्षित है। हालांकि, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कॉम्बिफ्लेम टैबलेट नहीं दी जाती। गर्भावस्था के दौरान किसी भी दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है।

कॉम्बिफ्लेम टैबलेट के परिणामों को देखने के लिए कितने समय तक इंतजार करना पड़ता है?

कॉम्बिफ्लेम टैबलेट खाने के आधे घंटे के भीतर अपना असर दिखाना शुरू कर देती है।

दर्द को प्रभावित करने में कॉम्बिफ्लेम की खुराक का समय क्या है?

कॉम्बिफ्लेम टैबलेट का असर खाने के आधे घंटे बाद से 6 घंटे तक रहता है।

क्या कॉम्बिफ्लेम टैबलेट के सेवन के बाद ड्राइविंग सुरक्षित है?

कॉम्बिफ्लेम की खुराक से व्यक्ति को चक्कर आना, नींद आना और उबासी महसूस हो सकती है। इसलिए, कॉम्बिफ्लेम टैबलेट के सेवन के बाद ड्राइविंग करने से बचना चाहिए।

कॉल

व्हाट्सप्प

अपॉइंटमेंट बुक करें