TESA male infertility | Zealthy

टेसा प्रक्रिया क्या है? पुरुष बांझपन मे टेसा की ज़रूरत, खर्च, फ़ायदे और जोख़िम

What is TESA procedure? What is the need, cost, benefits and risks of TESA in male infertility in hindi

TESA kya hai, kab kiya jaata hai, iske faayde aur risks kya hain aur TESA men kitna kharch hota hai in hindi

एक नज़र


  • पुरुष बांझपन के कारण निःसंतानता के इलाज के लिए टेसा एक कारगर उपाय है।

  • टेसा एक आसान और एक गैर-सर्जिकल प्रक्रिया है।

  • जहां टेसा के कई फायदे हैं वहीं कुछ जोखिम भी हैं।

  • टेसा कम लागत वाली और अच्छे परिणाम देने वाली तकनीक है।

पुरुष बांझपन समस्याओं और निःसंतानता के इलाज के लिए टेसा-टेस्टीकुलर स्पर्म एसपिरेशन (TESA -Testicular Sperm Aspiration) एक ऐसी चिकित्सा प्रक्रिया है, जिसके द्वारा स्पर्म एक्स्ट्राक्शन (sperm extraction) किया जाता है।

इस प्रक्रिया में तरल पदार्थ के साथ शुक्राणु को निकालने के लिए अंडकोष में एक सुई डाली जाती है।

इन स्पर्म्स का इस्तेमाल इंट्रासाइटोप्लास्मिक स्पर्म इंजेक्शन आईवीएफ और आईयूआई (Intracytoplasmic Sperm Injection - IVF and IUI) जैसे सहायक प्रजनन तकनीकों (Assisted Reproductive Techniques) में किया जाता है।

टेसा एक उन्नत तकनीक है जिसमें अपरिपक्व शुक्राणु का उपयोग भी अंडे को फर्टिलाइज करने के लिए किया जा सकता है।

 

1.किन परिस्थितियों में टेसा का सुझाव दिया जाता है?

In what situations TESA is suggested? in hindi

TESA ki zarurat kyon padti hai in hindi

  1. टेसा तब किया जाता है जब किसी पुरुष के स्पर्म टेस्ट्स में इनमें से एक पाया जाता है :-
  • एज़ोस्पर्मिया (azoospermia) शुक्राणु की पूर्ण अनुपस्थिति

  • नॉन-ऑब्सट्रक्टिव एज़ोस्पर्मिया (non-obstructive azoospermia)  असामान्य शुक्राणु उत्पादन

  • ओलिगोस्पर्मिया (oligospermia) शुक्राणुओं की कम मात्रा

  • एस्थेनोजोस्पर्मिया शुक्राणुओं में आवश्यक गतिशीलता (sperm motility) की कमी

  • नेक्रोज़ोस्पर्मिया (necrozoospermia) मृत शुक्राणुओं वाली एक स्थिति

     2. यदि व्यक्ति का विभिन्न जेनिटल सर्जरी का एक लंबा इतिहास रहा हो :-

  • पुरुष नसबंदी -पुरुषों के स्थायी गर्भनिरोधक के लिए सर्जरी

  • लिंग के फेनुलम को हटाने से फ्रेनुलम ब्रेव / ब्रीचिंग की स्थिति को सही करने के लिए की गयी सर्जरी

  • लिंग को सर्जिकल प्रक्रिया से हटाना 

  • पुरुष मूत्रमार्ग को हटाने के लिए सर्जरी 

  1. रेट्रोगेड एजाकुलेशन (retrograde ejaculation) की समस्या वाले पुरुष- मूत्रमार्ग से बाहर आने के बजाय मूत्राशय के अंदर एजाकुलेशन की स्थिति।
 

2.टेसा की प्रक्रिया क्या है?

What is the procedure of TESA? in hindi

TESA ka process kya hai in hindi

टेसा की प्रक्रिया काफी सरल है।

यह इस प्रकार की जाती है :-
1. सबसे पहले, रोगी को सामान्य एनेस्थीशिया के लिए इंजेक्शन लगाया जाता है।

एनेस्थीसिया के बाद, एक बहुत छोटे और चिकनी सुई को सक्शन सिरिंज (suction syringe) के साथ अंडकोष के आसपास इंजेक्ट किया जाता है।

2. शुक्राणु और छोटे टिशूज को सुई के माध्यम से निकाला जाता है।

निकाले गए शुक्राणु और टिशूज प्रयोगशाला में भेजे जाते हैं।

फिर से शुक्राणु और टिशूज को स्पर्म प्रोसेसिंग(sperm processing) के लिए प्रयोगशाला में परीक्षण किया जाता है।

3. इसके बाद, प्रोसेस्ड स्पर्म को धोया जाता है और और स्वस्थ स्पर्म को गर्भाधान (insemination) के लिए तैयार किया जाता है।

 

3.टेसा उपचार के वक़्त आप कैसा महसूस करते हैं?

How do you feel during the TESA procedure? in hindi

TESA ke waqt aap kaisa feel karenge in hindi

  • एनेस्थीसिया के वक़्त या परीक्षण के दौरान, आप एक थोड़े से समय के लिए दर्द महसूस करेंगे जब डॉक्टर आपकी बांह में आईवी (IV) लाइन डालेंगे। इसके अलावा आप दर्द महसूस नहीं करेंगे।

  • आपको चोट लगने का भी अनुभव हो सकता है।

  • इस्तेमाल की गई पट्टी के माध्यम से आपको थोड़ी मात्रा में रक्तस्राव भी दिखाई देगा। यह सामान्य है और आप अपने डॉक्टर से चर्चा कर सकते हैं कि आप कितना रक्तस्राव की उम्मीद कर सकते हैं।

  • आपके डॉक्टर दर्द और संक्रमण की संभावना को कम करने के लिए दर्द निवारक और एंटीबायोटिक्स दे सकते हैं।

 

4.टेसा के लाभ क्या हैं?

Benefits of TESA in hindi

TESA ke fayde kya hain in hindi

टेसा शुक्राणु पुनः प्राप्ति के प्रभावी तरीकों में से एक है। इसके लाभ इस प्रकार हैं :-

  • टेसा एक आसान और एक गैर-सर्जिकल प्रक्रिया है।

  • यह एक सही और प्रभावी लागत वाली तकनीक है।

    यह महिला को सुपरओयूलेशन (superovulation) के महंगे इंजेक्शन की आवश्यकता को कम करता है।

  • टेसा के दौरान किसी भी रक्त वाहिका (blood vessel) को छूने की ज़रूरत नहीं होती।

    इसलिए यह एक कम दर्दनाक प्रक्रिया है।

  • यह समय बचाता है क्योंकि टेसा  की पूरी प्रक्रिया को मुश्किल से 30-45 मिनट की आवश्यकता होती है।

  • यदि आप अपने बच्चे को जन्म देने के लिए शुक्राणु दाता की तलाश नहीं कर रहे हैं, तो टीईएसए सबसे अच्छा है क्योंकि यह आपको जैविक पिता होने की खुशी देता है।

 

5.टेसा के जोखिम क्या हैं?

Risk factors of TESA? in hindi

TESA ke risks kya hain in hindi

आईवीएफ (IVF), आईसीएस आई (ICSI) और आईयूआई (IUI) जैसे असिस्टेड रिप्रोडक्टिव टेक्नोलॉजी के तरीकों में टेसा उपयोग किया जाता है।

टेसा से जुड़े जोखिम इस प्रकार हैं :-

  • टेसा से अत्यधिक इंटरनल ब्लीडिंग का ख़तरा रहता है।

  • टेस्टिकल टिश्यू (testicular tissue) को नुकसान पहुंचाने का जोखिम भी टीईएसए में रहता है।

  • इंट्रा-टेस्टिकुलर हेमेटोमा (intra-testicular hematoma)- अंडकोशिका दर्द और आघात भी एक संभावित खतरा है।

  • टेसा की एक सर्जरी के बाद 104 डिग्री फ़ारेनहाइट तक बुख़ार हो सकता है। 

  • टीईएसए उपचार किए जाने के बाद कम से कम कुछ दिनों के लिए मतली और उल्टी की भावना होती है।

 

6.टेसा उपचार की लागत क्या है?

What is the cost of TESA treatment? in hindi

TESA men kitna kharch hota hai in hindi

टेसा बहुत लागत प्रभावी है।

इसकी लागत लगभग 15000 रुपये से 25000 रुपये के बीच पड़ती है।

 

7.निष्कर्ष

Conclusion in hindi

Nishkarsh in hindi

टीईएसए उपचार पुरुष बांझपन के इलाज के तरीकों में से एक है।

कम खर्च और कम समय लेने वाली इस तकनीक में बुख़ार, उल्टी आदि खतरे भी मामूली से हैं।

यदि कोई पुरुष शुक्राणु की पूर्ण अनुपस्थिति या शुक्राणुओं की कम मात्रा जैसी तकलीफ़ों से ग्रस्त है और वह अपने बच्चे को जन्म देने के लिए शुक्राणु दाता से स्पर्म नहीं लेना चाहता, तो टीईएसए एक बेहतरीन विकल्प है क्योंकि यह आपको जैविक पिता होने की खुशी देता है।