स्वस्थ त्वचा के लिए विटामिन्स

Vitamins for healthy skin in hindi

Swasth twacha ke liye labhdayak vitamin in hindi


एक नज़र

  • त्वचा को स्वस्थ बनाने के लिए पोष्टिक भोजन का महत्वपूर्ण योगदान होता है।
  • अगर आप स्वस्थ त्वचा पाना चाहते हैं तो बाहरी सौंदर्य-प्रसधानों के साथ-साथ अंदरूनी पोषण पर भी ध्यान दें।
  • स्वस्थ त्वचा पाने के लिए त्वचा को साफ़ रखना बहुत ज़रूरी है।
triangle

Introduction

Vitamins_for_healthy_skin___Zealthy

विटामिनों की कमी से त्वचा अस्वस्थ हो सकती है।

कई लोग त्वचा पर क्रीम लगाकर बाहर से उसे स्वस्थ बनाने की कोशिश करते हैं मगर अपने भोजन में विटामिन पर्याप्त मात्रा पर कोई ध्यान नहीं देते जिसकी वजह से उनकी स्वस्थ त्वचा का सपना, सपना ही रह जाता है।

ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर ध्यान देने की बजाय अगर आप पोषक तत्वों को भोजन में सम्मलित करने पर ध्यान दें तो आपकी त्वचा प्राकृतिक रूप से स्वस्थ बन जायेगी।

त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने के लिए अपने भोजन में ताज़ा फल, हरी-पत्तेदार सब्ज़ियाँ, दूध, दही व अन्य पौष्टिक खाद्य पदार्थों को सम्मलित करना चाहिए।

आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं किस तरह त्वचा के स्वास्थ्य के लिए विटामिन आवश्यक है।

loading image

इस लेख़ में

 

स्वस्थ त्वचा की क्या विशेषताएँ क्या होती हैं?

What are the characteristics of healthy skin ?in hindi

Swasth twacha ki kya visheshta hoti hai?

स्वस्थ त्वचा की विशेषताएँ इस प्रकार हैं :-

  • साफ़ त्वचा (Clean and clear skin)
    स्वस्थ त्वचा पाने के लिए त्वचा को साफ़ रखना बहुत ज़रूरी है।
    हमारी त्वचा के ऊपर बहुत सी तैलीय ग्रंथियां होती हैं जिनसे तेल निकलता है।
    ये तेल त्वचा के छिद्रों से बाहर निकलता है।
    धूल और प्रदूषण की वजह से ये छिद्र बंद हो जातें है और तेल अन्दर ही रह जाता है।
    इस स्थिति में त्वचा से जुड़े रोग व संक्रमण होने का जोखिम बढ़ जाता है।
    इसलिए स्वस्थ त्वचा के लिए त्वचा का साफ़ होना ज़रूरी है।
  • लचीलापन (Facial flexibility)
    धूल और प्रदूषण की वजह से त्वचा का लचीलापन ख़त्म हो जाता है।
    कुछ लोगो की त्वचा खिचनें के बाद भी वापस अपनी पुरानी अवस्था में आ जाती है, ऐसी त्वचा को स्वस्थ त्वचा की श्रेणी में रखा जाता है।
  • उपयुक्त मात्रा में नमी (Proper hydration)
    खुश्क त्वचा में लचीलापन कम होता है क्योंकि उसमें नमी की मात्रा कम होती है।
    स्वस्थ त्वचा में नमी की मात्रा एकदम सटीक होती है।
    नमी की मात्रा को बढाने के लिए दिन में कम-कम 8 गिलास पानी अवश्य पीना चाहिए।
  • विविध विशेषताएँ (Miscellaneous properties)
    इसके अलावा स्वस्थ त्वचा की रंगत एक समान होतीं है।
    हेल्दी स्किन में झुर्रियां नहीं होती और साथ ही यह पिम्पल-रहित भी होती है।
loading image
 

कौन से विटामिन त्वचा के लिए लाभदायक हैं?

Which vitamins are beneficial for skin ?in hindi

Kaun se vitamin Swasth twacha ke liye labhdayak hai ?

विटामिन्स जो स्वस्थ त्वचा के लिए लाभदायक हैं :-

  • विटामिन ए (Vitamin A)
    विटामिन A त्वचा की देखभाल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
    ऊपरी और अंदरूनी रूप से त्वचा को विटामिन A की ज़रुरत होती है।
    हमारी त्वचा में कोलेजन (collagen) होता है जो त्वचा को लचीलापन प्रदान करता है।
    विटामिन A कोलेजन को सूरज की रौशनी के दुष्प्रभाव से बचाता है।
    इसके अलावा विटामिन A त्वचा पर लगने वाली चोटें को भी जल्दी ठीक करने में मदद करता है।
    विटामिन A के बिना त्वचा के खुश्क होने का ख़तरा बढ़ जाता है और कुछ लोगों में खुजली भी हो सकती है।
    बाज़ार में कई क्रीमें आती हैं जिनमें विटामिन A के डेरीवेटिव (derivative) होते हैं।
    विटामिन ए युक्त क्रीम्स झुर्रियों को कम करने में मदद करती हैं।
    विटामिन A की आपूर्ति के लिए आम, गाजर, शकरकंद, पालक, और अण्डों का सेवन करना चाहिए।
  • विटामिन सी (Vitamin C)
    विटामिन C शरीर के लिए तो ज़रूरी है ही लेकिन त्वचा के लिए भी यह विटामिन बेहद लाभदायक है।
    ये त्वचा में कोलेजन (collagen) को बनाने में मदद करता है जिससे झुर्रियां नहीं पड़ती।
    इसके अलावा इसका एंटी-ऑक्सीडेंट (antioxidant) प्रभाव फ्री रेडिकल्स (free radicals) को समाप्त करके त्वचा को दुष्प्रभाव से बचाता है।
    एक अध्ययन के अनुसार अगर विटामिन C के त्वचा पर इस्तेमाल से त्वचा के ऊपर से गहरे दाग, जिसे हाइपरपिगमेंटेशन (hyperpigmentation) कहते है, मिट जातें है।
    विटामिन C त्वचा की बिमारियों को ठीक करता है।
    विटामिन C प्रचुर मात्रा में खट्टे फलों (citrus fruits), ब्रोक्कोली (broccoli), टमाटर, स्ट्रॉबेरी (strawberry) और स्प्राउट्स (sprouts) में पाया जाता है।
  • विटामिन डी (Vitamin D)
    विटामिन D का उत्पादन हमारे शरीर में ही किया जाता है।
    विटामिन D का निर्माण हमारी त्वचा सूरज की रौशनी की उपस्थिति में करती है।
    विटामिन D रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने में मदद करता है।
    विटामिन D की वजन से त्वचा में पिम्प्लस होने की सम्भावना कम हो जाती है।
    बाज़ार में कई सारे विटामिन D सपलीमेंट्स (supplements) उपलब्ध हैं।
    विटामिन D के लिए अंडा, मछली, अनाज, दही, और संतरे के जूस का सेवन किया जा सकता है।
    इसके अलावा डॉक्टर की सलाह से करीब 10 मिनट धूप में बैठना चाहिए।
    धूप विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत है।
  • विटामिन ई (Vitamin E)
    विटामिन E बहुत ही प्रभावशाली एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) है जो सूरज की रोशनी के दुष्प्रभावों से त्वचा को बचाता है।
    सूरज की रोशनी से त्वचा पर धब्बे हो जाते हैं और झुर्रियां भी पड़ जाती हैं।
    विटामिन E फ्री रेडिकल्स (free radicals) को ख़त्म करता है और त्वचा की देखभाल करता है।
    विटामिन E पिम्पल्स से छुटकारा पाने का बेहतरीन उपाय है।
    उचित मात्रा में विटामिन E लेने से विटामिन ई का स्तर बना रहता है।
    विटामिन E अखरोट, वनस्पति तेल और काफी सारे फल और सब्जियों में पाया जाता है।
  • विटामिन के (Vitamin K)
    वैसे तो विटामिन K का प्रमुख कार्य खून का थक्का जमाकर खून को शरीर से बाहर निकलने से रोकना है, मगर यह त्वचा की देखभाल में भी अपना योगदान देता है।
    बाज़ार में आजकल कई क्रीम्स आती हैं जिनमें विटामिन K होता है।
    डॉक्टर इन क्रीमों का उपयोग चोट को जल्दी ठीक कराने के लिए करते हैं।
    विटामिन K त्वचा की सूजन को भी कम करता है।
    इसके अलावा विटामिन K स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks) हटाने, गहरे धब्बों को कम करने, त्वचा पर हुए निशानों को मिटाने, और आँखों के नीचे के घेरों को कम करने के काम आता है।
    पालक, गोभी, और दूध में विटामिन K पाया जाता है।
  • विटामिन बी3 (Vitamin B3)
    विटामिन B3 केवल दिमाग, रक्त कोशिकाओं (blood cells), और तंत्रिका-तंत्र (nervous system) के लिए ही लाभदायक नहीं है बल्कि यह त्वचा को स्वस्थ बनाने में भी काम आता है।
    विटामिन B3 त्वचा की उम्र को कम करता है और बाज़ार में गोरा करने का दावा करने वाली कई क्रीमों में पाया जाता है।
    यह त्वचा के ऊपर से मृत कोशिकाओं (dead cells) को हटाता है और उसे स्वस्थ एवं मुलायम बनाता है।
    खमीर, मांस, अनाज, दूध, हरी सब्ज़ियाँ और कॉफ़ी विटामिन B3 के स्त्रोत हैं।
  • विटामिन बी5 (Vitamin B5)
    इस विटामिन को पेंटोथेनिक एसिड (pantothenic acid) या पेनथिनोल (panthenol) कहा जाता है।
    विटामिन B5 भी त्वचा को स्वस्थ रखने वाली कई क्रीमों में उपस्थित होता है।
    विटामिन B5 का त्वचा में मुख्य कार्य उसकी प्राकृतिक नमी को बनाए रखना है।
    यह त्वचा में से पानी को नहीं निकलने देता और उसे नम रखता है।
    अंडा, मांस, मछली, अनाज, सोयाबीन, दूध, और दही विटामिन B5 के स्त्रोत हैं।
  • विटामिन बी9 (Vitamin B9)
    विटामिन B9 को फोलिक एसिड (folic acid) भी कहते हैं।
    फोलिक एसिड (folic acid) नयी कोशिकाओं को बनाने में मदद करता है।
    यह त्वचा पर लगी चोट को जल्दी ठीक करने में मदद करता है।
    इसके अलावा यह त्वचा को स्वस्थ रखता है।
    एक अध्ययन के अनुसार फोलिक एसिड और क्रीयटिन (creatine) का मिश्रण त्वचा पर लगाने से कोलेजन (collagen) बनने की प्रक्रिया तेज़ हो जाती है।
    फलियाँ, अनाज, साइट्रस फल, हरी सब्ज़ियाँ, और गोभी विटामिन B9 के स्त्रोत हैं।
और पढ़ें:5 पोषक तत्व, जो 15 से 65 वर्षीय महिलाओं के लिए ज़रूरी हैं
 

निष्कर्ष

Conclusionin hindi

Nishkarsh

विटामिन्स हमारी त्वचा को स्वस्थ बनाते हैं।

कुछ विटामिन नयी कोशिकाओं का निर्माण करते हैं और कुछ त्वचा को संक्रमण और बिमारियों से बचाते हैं।

विटामिन हमारी त्वचा से गहरे धब्बों को हटाकर उसे साफ़ बनाते हैं।

विटामिन कोलेजन को बनाने की प्रक्रिया में भी अपना योगदान भी देते हैं।

विटामिन A, C, D, E, K, B3, B5, और B9 त्वचा के लिए महत्वपूर्ण है।

loading image

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 21 Apr 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

विटामिन A क्या है - स्रोत, कमी के लक्षण, रोग, फायदे और नुकसान

विटामिन A क्या है - स्रोत, कमी के लक्षण, रोग, फायदे और नुकसान

योग के लाभ, आसन और प्रकार

योग के लाभ, आसन और प्रकार

अलसी के तेल के फायदे व नुकसान

अलसी के तेल के फायदे व नुकसान

ईसबगोल के फायदे और नुकसान

ईसबगोल के फायदे और नुकसान

तनाव, चिंता और आलस्य दूर करने के लिए योग

तनाव, चिंता और आलस्य दूर करने के लिए योग
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad