Tribulus terrestris - Benefits and Side Effects of the Plant | Zealthy

क्या हैं गोखरू के फ़ायदे और नुकसान

Tribulus terrestris - benefits and side effects of the plant based medicine in hindi

Tribulus terrestris ke benefits aur side effects kya ho sakte hain in hindi

Quick Bites

  • गोखरू एक औषधीय पौधा है जिसमें अनेक गुण होते हैं।
  • इस पौधे का हर हिस्सा किसी न किसी रोग के उपचार में काम आता है।
  • पुरुष बांझपन के उपचार में गोखरू मुख्य रूप से इस्तेमाल होता है।
  • महिलाओं की सेक्स संबंधी परेशानियों में भी इसका इस्तेमाल होता है।

गोखरू एक प्रकार का पौधा है जो वैसे तो विशेषकर भारत के हरियाणा और राजस्थान के गर्म और सूखे इलाकों में पाया जाता है।

लेकिन इस पौधे को ट्रिबुलस टेरेस्ट्रिस (tribulus terrestris), पंक्चर वाइन (puncture vine), कालट्रोप (caltrop), येलो वाइन (yellow vine) और गोयतहेड (goathead) के नाम से भी विश्व के विभिन्न हिस्सों में जाना जाता है।

इस पौधे की विशेषता यह है कि यह दुनिया के गर्म देशों विशेषकर ट्रोपिकल (tropical) क्षेत्रों में उगता है और इस पौधे का हर हिस्सा यानि फूल, जड़, पत्ते और तना सबका प्रयोग दवाइयों के लिए किया जाता है।

समय-समय पर होने वाली मेडिकल जगत की रिसर्च से यह भी पता लगता है कि गोखरू का इस्तेमाल सेक्स्युएल हेल्थ को बढ़ाने के लिए भी किया जाता रहा है।

इस पौधे का प्रयोग न केवल प्रजनन प्रणाली में आई कमी को ठीक करने के लिए किया जाता है बल्कि हृदय संबंधी रोग व शरीर में सर्क्युलेटरी सिस्टम में होने वाली परेशानियों में भी बड़े पैमाने पर किया जाता है।

आइये इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

I need guidance in choosing best doctor

Our medical experts will help you in booking appointment with highly experienced doctors near you

loading image

In this article/\

  1. गोखरू किस प्रकार लाभकारी हो सकता है
  2. गोखरू के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान
  3. निष्कर्ष
 

1.गोखरू किस प्रकार लाभकारी हो सकता है

What are the benefits of tribulus terrestris in hindi

Gokhru ka sharir mein kya fayde ho sakte hain in hindi

गोखरू के इस्तेमाल से होने वाले लाभ :

  • पुरुष बांझपन उपचार (Male infertility treatment)
    जब पुरुष को सेक्सुअल प्रक्रिया में कमी महसूस होने पर शुक्राणु की जांच या वीर्य परीक्षण करवाने पर कोई परेशानी आती है तब इसे पुरुष बांझपन के प्रमुख लक्षण माना जाता है।
    इस कारण इरेक्टाइल डिस्फ़ंक्शन (erectile dysfunction) की परेशानी भी हो सकती है।
    इस स्थिति में गोखरू का रस या चूर्ण फायदा कर सकता है।
  • शारीरिक कमजोरी का उपचार (Physical weakness treatment)
    जब पुरुष के स्पर्म के काउंट या मोटेलिटी में कमी आ जाती है तब पुरुष भावनात्मक रूप से और परिणामस्वरूप शारीरिक रूप से कमजोर महसूस करने लगते हैं।
    इसके लिए चिकित्सक की सलाह से गोखरू का रस या चूर्ण लगभग तीन महीने तक लेने से यह समस्या हल हो सकती है।
  • महिला यौन समस्या का हल (Treatment of female sexual problem)
    गोखरू के इस्तेमाल से महिलाओं को होने वाली विभिन्न समस्याओं जैसे सेक्स की इच्छा में कमी होना, योनि में चिकनाहट में कमी आदि में आराम मिल सकता है।
    इसके अलावा गोखरू स्किन संबंधी समस्या जैसे एग्ज़ीमा और इसके अलावा छाती में असमय उठने वाला दर्द का भी अच्छा इलाज कर सकता है।

Read more:10 Best IVF doctors in Dehradun with High Success Rate

Request callback to get cost estimate

 

2.गोखरू के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान

Side-effects of tribulus terrestris in hindi

Gokhru ke istemal ke kya side effect ho sakte hain in hindi

गोखरू के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान :-

  1. गोखरू के लंबे समय तक इस्तेमाल से किसी भी महिला या पुरुष के शरीर में शुगर लेवल कम हो सकता है। इसलिए डाइबिटिक मरीज़ो को इसे न लेने की सलाह दी जाती है।
  2. जिन लोगों को कुछ ही समय में सर्जरी करवानी हो, उन्हें उसके लगभग दो हफ्ते पहले से गोखरू का इस्तेमाल बंद करना ठीक रहेगा। इसके बाद भी अगर लेनी हो तब डॉक्टर की सलाह के बाद ही शुरू करनी चाहिए।
  3. कुछ लोगों को गोखरू के इस्तेमाल से जहां एक ओर एनर्जी लेवल बढ़ जाता है वहीं दूसरी ओर उनकी नींद के पैट्रन में अंतर आने से उन्हें परेशानी हो सकती है।
  4. जो लोग हाई ब्लड प्रेशर के मरीज़ हों उनके द्वारा गोखरू का लंबे समय तक इस्तेमाल उन्हें हृदय संबंधी रोग की परेशानी भी दे सकता है।
  5. गोखरू का इस्तेमाल करते समय प्रमुख सावधानी यह रखनी चाहिए कि कभी भी किसी गर्भवती महिला और स्तनपान करवाने वाली महिला को इसका सेवन नहीं करवाना चाहिए।

Read more:10 Best IVF Doctors in Indore with High Success Rate

 

3.निष्कर्ष

Conclusionin hindi

Nishkarsh

गोखरू मूल रूप से भारत के गर्म क्षेत्रो में उगने वाला एक औषधीय पौधा है जिसका उपयोग मुख्य रूप से महिला व पुरुष की यौन व सेक्स संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए किया जाता है।

लेकिन इसका प्रयोग बिना चिकित्सक की सलाह के नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके लाभ के साथ विभिन्न साइड इफेक्ट भी होते हैं।

Last updated article label: 10 Jan 2020

Was this article helpful? Tap on heart to say yes

Ask an expertASK AN EXPERT

Call

Whatsapp

Book appointment