एक्जिमा के लिए नीम का तेल (neem ka tel)

Neem oil for eczema in hindi

एक्जिमा की अचूक दवा है नीम


एक नज़र

  • एक्जिमा की अचूक दवा है नीम का तेल।
  • नीम का तेल एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध होता है।
  • एक्जिमा के लिए फायदेमंद होता है नीम का तेल और हल्दी।
triangle

Introduction

Eczema_ke_liye_kaise_karein_neem_ke_tel_ka_istemal_in_hindi

एक्जिमा त्वचा संबंधी एक बीमारी है, जिसमें त्वचा पर लाल रैशेज़ हो जाते हैं और तेज़ खुजली होती है। दरअसल, एक्जिमा एक इंफ्लेमेट्री (inflammatory) स्किन डिसीज़ है, जिसमें त्वचा पर अत्यधिक खुजली होती है, इससे त्वचा फटी-फटी सी हो जाती है और साथ ही दरारें भी पड़ जाती है। हालांकि, एक्जिमा से राहत पाने के लिए बाजार में कई तरह की क्रीम मौजूद हैं, जो इसे ठीक करने का दावा करते हैं लेकिन एक्जिमा से प्रभावित त्वचा पर सब तरह के प्रोडक्ट का इस्तेमाल अच्छा नहीं होता है।

ऐसे में एक्जिमा की स्थिति से निपटने के लिए घरेलू उपायों की मदद लेना एक अच्छा विचार हो सकता है। इसमें आपकी मदद कर सकता है नीम का तेल (neem ka tel)। एक्ज़िमा के लिए जड़ी बूटी के रूप में 'सर्व रोग निवारीणी' नीम के तेल का इस्तेमाल करना बहुत लाभदायक हो सकता है।

loading image

इस लेख़ में

 

नीम का तेल क्या है

What is neem oil in hindi

एक्जिमा की अचूक दवा नीम

loading image

नीम, जिसे अज़ारिचटा इंडिका (Azadirachta indica) के रूप में भी जाना जाता है, एक ऐसा पौधा है, जिसका नाम इसलिए रखा गया है क्योंकि यह सभी रोगों से मुक्ति प्रदान करता है, और भारतीय और अफ्रीकी महाद्वीपों में हजारों वर्षों से उपयोग किया जाता है। फूल,पत्ते,बीज और छाल सहित पौधे के विभिन्न भागों का उपयोग तीव्र और पुरानी बिमारियों के इलाज के लिए किया जाता है और साथ ही कीटनाशक के रूप में भी किया जाता है।[1]

2,000 से अधिक वर्षों के लिए, नीम के पेड़ को दुनिया में सबसे उपयोगी और बहुमुखी पौधों में से एक माना गया है।यही कारण है कि नीम के पत्ते के साथ-साथ नीम का तेल भी बहुत फायदेमंद होता है और त्वचा से जुड़ी बीमारियाँ जैसे एक्जिमा, सोरायसिस और डर्मटाइटिस से निजात दिलाने में सहायता करता है। [2]

और पढ़ें:10 बेहतरीन एक्जिमा ट्रीटमेंट क्रीम
 

एक्जिमा के लिए नीम का तेल क्यों होता है फायदेमंद

Why neem oil is beneficial for eczema in hindi

neem ka tel for ekjima

loading image

नीम का तेल टैनिन(Tannin), फ्लेवोनॉइड डेरिवेटिव (Flavonoids derivatives) और अन्य समृद्ध लिपिड (lipid) से भरा होता है ,जो सूखी और चिड़चिड़ी त्वचा को शांत करने में बेहद मददगार होता है। इस प्रकार से सूखा एक्जिमा का इलाज करने में नीम का तेल सहायता करता है। यहां तक कि चिकित्सा की सिद्ध प्रणाली में (भारत में सबसे पुरानी औषधीय प्रणालियों में से एक), नीम के तेल और पत्तियों का व्यापक रूप से त्वचा रोगों के इलाज के लिए उपयोग किया जाता था। यह न केवल इन्फेक्शन को ठीक करता है और बल्कि स्किन को एक बार फिर जीवंत बनाता है।

एक्जिमा के लिए नीम के तेल के फायदे :-

  • नीम का तेल एंटी-इंफ्लेमेटरी होता है :नीम का तेल सूजन को कम करने में उपयोगी होता है।
  • एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है : जो बैक्टीरिया एक्जिमा का कारण बनता है, उसे ठीक करने में मदद करता है।
  • एंटी-हिस्टामाइन प्रॉपर्टीज़ से भी समृद्ध होता है : ये एलर्जी रिएक्शंस को प्रभावी ढंग से रोक सकता है।
  • नीम एक एनाल्जेसिक है : एक्जिमा से तुरंत आराम दिलाता है और साथ ही इसके दर्द को भी कम करता है।

अब जानते हैं कि एक्जिमा के लिए फायदेमंद होने वाले नीम के तेल का इस्तेमाल किस-किस प्रकार किया जा सकता है।

और पढ़ें:14 घरेलू उपाय जो तैलीय त्वचा से दिलाएंगे छुटकारा
 

एक्जिमा के लिए करें नीम के तेल और हल्दी का इस्तेमाल

Use turmeric and neem oil for eczema in hindi

एक्जिमा की अचूक दवा क्या है

loading image

नीम के तेल का उपयोग दुनिया भर में लोगों द्वारा किया जाता है। चूंकि इसकी व्यापक रूप से एक प्रभावी एंटीसेप्टिक के रूप में ये पहचाना जाता है, जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के त्वचा विकारों के इलाज के लिए किया जा सकता है। विशेष रूप से, नीम का तेल एक्जिमा(neem oil for ezema) के लिए एक प्रभावी उपचार के रूप में स्वीकार किया गया है। ऐसे में आइए जानते हैं कि एक्जिमा के लिए नीम के तेल और हल्दी का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है।

इसके लिए आपको चाहिए :-

  • 1 बड़ा चम्मच नीम पाउडर (पत्तियों को सूरज के नीचे सुखाएं और फिर उन्हें कुचल दें)
  • 3-4 बूंद नीम का तेल
  • 1 चम्मच हल्दी पाउडर
  • 1 चम्मच कच्चा शहद

अब क्या करें :-

  • सबसे पहले एक बाउल लें और उसमे सभी चीज़ों को मिलाकर एक पेस्ट बना लें।
  • अब पेस्ट को प्रभावित जगह पर लगाएं।
  • इसे धोने से पहले 20 मिनट तक सूखने दें।
  • जब तक लक्षण कम नहीं हो जाते हैं तब तक उपयोग करें।

क्यों होता है फायदेमंद :-

हल्दी में एंटी-बैक्टीरियल (anti-bacterial) और एंटिफंगल (anti-fungal) गुण होते हैं। जो एक्ज़िमा के दौरान होने वाली को कम करता है जबकि शहद आपकी त्वचा को मॉइस्चराइज़ रखता है, जिससे एक्ज़िमा के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है।

loading image
 

एक्जिमा के लिए करें नीम के तेल और नारियल तेल का इस्तेमाल

Use coconut oil and neem oil for eczema in hindi

एक्जिमा रोग को जड़ से इलाज है नीम

loading image

जिस प्रकार से बालों के लिए जोजोबा ऑयल और नारियल का तेल बहुत अच्छा होता है, ठीक उसी प्रकार से त्वचा के लिए भी नारियल का तेल और नीम का तेल बहुत प्रभावी होता है। कई तरह की स्किन से जुड़ी समस्याओं का रामबाण इलाज होता है। ऐसे में आइए जानते हैं कि एक्जिमा के लिए नीम का तेल (neem ka tel)और नारियल का तेल कैसे इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसके लिए आपको चाहिए :-

  • 1 बड़ा चम्मच नारियल तेल
  • 3-4 बूंद नीम का तेल

अब क्या करें :-

  • सबसे पहले नीम के तेल और नारियल के तेल को मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को प्रभावित जगह पर लगाएं।
  • फिर इसे रात भर छोड़ दें और अगले दिन इसे धो लें।
  • जब तक सूजन नहीं जाती तब तक आप ऐसा कर सकते हैं।

क्यों होता है फायदेमंद :-

नारियल तेल त्वचा संक्रमण और सूजन को कम करने के लिए जाना जाता है।[3] नारियल तेल ऐंटिफंगल (anti-fungal) और एंटी-बैक्टीरियल (anti-bacterial) है। अन्य तेलों की तुलना में, ये आपकी स्किन में बहुत आसानी से अब्सॉर्ब हो सकता है और इसे मॉइस्चरायज़ रख सकता है। जब ये नीम के तेल के साथ मिल जाता है तो एक्ज़िमा के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।

और पढ़ें:आँखों के नीचे डार्क सर्कल
 

एक्जिमा के लिए लें नीम के तेल का बाथ

Take neem oil bath for eczema in hindi

neem ka tel kya hai

loading image

नीम का तेल(neem ka tel) ,त्वचा की स्थिति में मदद करने के लिए अच्छी तरह से प्रसिद्ध है, इसलिए यह कोई आश्चर्य नहीं है कि इसका उपयोग हजारों वर्षों से प्राकृतिक त्वचा देखभाल में किया गया है। पोषक तत्वों और लिपिड से समृद्ध होने के कारण ये ड्राई और इर्रिटेटेड स्किन के इलाज में मदद करने में मदद करता है। आइए, अब जानते हैं कि नीम के तेल का इस्तेमाल और किस तरह से कर सकते हैं।

इसके लिए आपको चाहिए :-

  • 10 बूंद नीम का तेल
  • मुट्ठी भर नीम के पत्ते

अब क्या करें :

  • सबसे पहले नीम के पत्तों को उबाल लें।
  • फिर इसे नीम के पानी को एक कटोरे में डालें।
  • अब पानी से भरे अपने बाथटब में नीम का पानी और नीम का तेल डालें।
  • अब अपने आप को कम से कम 20 मिनट के लिए औषधीय पानी में भिगोएं।
  • नहाने के बाद नीम युक्त मॉइस्चराइज़र लगाएं।

क्यों होता है फायदेमंद :

अपने नहाने के पानी में नीम को शामिल करने से इसकी मॉइस्चराइजिंग गुण बढ़ जाती है। हालांकि, ये ध्यान रखें कि पानी बहुत गर्म न हो।ठंडे या गुनगुने पानी में स्नान करने की कोशिश करें क्योंकि इससे आपकी त्वचा आगे नहीं सूखती और एक्ज़िमा से आपकी स्किन का बचाव हो सकता है।

इन उपायों के अलावा आप नीम और तुलसी के पत्तों को पानी में तब तक उबालें, जबतक पानी की मात्रा घटकर आधी न हो जाए। फिर उस पानी में नीम के तेल की कुछ बूंदे मिलाकर प्रभावित जगह पर लगा सकते हैं, इससे भी आपको आराम मिलेगा।

loading image
 

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

neem ka tel in hindi

कई त्वचा विशेषज्ञ एक्जिमा के लिए नीम के तेल को प्राकृतिक फैटी एसिड और विटामिन ई सामग्री के रूप में उपयोग करने की सलाह देते हैं। ये नमी को लॉक करने में मदद करने वाली त्वचा की सुरक्षात्मक बाधाओं को बहाल करने में मदद करते हैं, और फटी, सूखी और खट्टी त्वचा को शांत करते हैं। इसका मतलब यह वास्तव में एक एक्जिमा उपचार के रूप में अच्छी तरह से काम करता है, गंभीर रूप से शुष्क त्वचा को हाइड्रेट और संरक्षित करने में मदद करता है। हालांकि, एक्जिमा से बचने के लिए त्वचा का ख्याल रखना भी आवश्यक है

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

references

संदर्भ की सूचीछिपाएँ

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 21 Sep 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

फेशियल हेयर लाइट करने के सरल तरीके

फेशियल हेयर लाइट करने के सरल तरीके

एक्जिमा के कारण, लक्षण, प्रकार और उपचार

एक्जिमा के कारण, लक्षण, प्रकार और उपचार

संवेदनशील त्वचा के लिए स्कीन केयर प्रोडक्ट्स

संवेदनशील त्वचा के लिए स्कीन केयर प्रोडक्ट्स

नाक पर काले धब्बे से छुटकारा पाने के तरीके

नाक पर काले धब्बे से छुटकारा पाने के तरीके

ब्लैकहेड्स के लिए सबसे अच्छा स्क्रब

ब्लैकहेड्स के लिए सबसे अच्छा स्क्रब
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad