नियमित मैमोग्राम से स्तन कैंसर का अतिव्यापन (ओवर डायग्नोसिस) हो सकता है

Regular mammograms may lead to overdiagnosis of breast cancer in hindi

kya mammogram test ke result galat bhi aa sakte hain


एक नज़र

  • 50-70 वर्ष की महिलाओं को मैमोग्राफी का लाभ सबसे अधिक होता हैं।
  • मैमोग्राफी के परिणामस्वरूप स्तन कैंसर से मृत्यु दर में 20% की कमी आई हैं।
  • फाल्स पॉजिटिव मैमोग्राम (False-positive mammogram) से महिलाओं में तनाव बढ़ जाता हैं।
  • फाल्स नेगेटिव मैमोग्राम (False-negative mammogram) आने से कैंसर ट्रीटमेंट देर से शुरू होता है।
triangle

Introduction

नियमित_मैमोग्राम_से_स्तन_कैंसर_का_अतिव्यापन__ओवर_डायग्नोसिस__हो_सकता_है

हर साल लगभग 40,000 महिलाओं की स्तन कैंसर से मृत्यु होती है। हालाँकि नियमित मैमोग्राम कराने से स्तन कैंसर का जोखिम कम होता है, लेकिन यह स्तन कैंसर के जोखिम को पूरी तरह से दूर नहीं करता है।

मैमोग्राफी के लाभ उम्र के अनुसार भिन्न होते हैं लेकिन 50-70 वर्ष की महिलाओं को मैमोग्राफी का लाभ सबसे अधिक होता हैं।

आज के समय में मैमोग्राम को स्तन स्क्रीनिंग का सबसे अच्छा टेस्ट माना जाता हैं जिसके द्वारा स्तन कैंसर (breast cancer) का पता लगाया जा सकता हैं।

loading image

इस लेख़ में

 

स्तन कैंसर का अतिव्यापन (ओवर डायग्नोसिस)

Overdiagnosis of breast cancer in hindi

Mammogram ka overdiagnosis kab hota hai

जैसे हर मेडिकल टेस्ट के रिजल्ट्स 100 % सही होने का आसार नहीं होते, उसी प्रकार मैमोग्राम टेस्ट के रिजल्ट भी गलत आ सकते हैं।

किसी महिला को स्तन कैंसर है या नहीं , मैमोग्राम टेस्ट कभी-कभी गलत परिणाम भी दिखा सकता हैं।

स्तन स्क्रीनिंग मैमोग्राम हर 5 में से 1 स्तन कैंसर नहीं डायग्नोज़ कर पाते हैं। मैमोग्राम के परिणाम दो तरह से गलत हो सकते है जिसके कारण स्तन कैंसर का ओवर डायग्नोसिस हो जाता हैं:

  1. फाल्स पॉजिटिव (False positive)
  2. फाल्स नेगेटिव (False negative)
loading image
 

फाल्स नेगेटिव मैमोग्राम

False negative mammogram in hindi

Mammogram ka kab false negative result aata hai

मैमोग्राम टेस्ट फाल्स नेगेटिव रिपोर्ट आने पर स्क्रीनिंग में कोई भी असामान्यता दिखाई नहीं देती (स्तन कैंसर के लक्षण नहीं दिखाई देते) जबकि स्तन कैंसर मौजूद होता है।

फाल्स नेगेटिव मैमोग्राम महिलाओं को स्वस्थ स्तन होने के आसार दिखाता जबकि वास्तव में ऐसा होता नहीं हैं।

फाल्स नेगेटिव मैमोग्राम आने से कैंसर ट्रीटमेंट देर से शुरू होता है।

फाल्स नेगेटिव रिपोर्ट निम्न स्थितियों में आती हैं:

  • हैवी ब्रेस्ट (heavy breast) वाली महिलाओं में ऐसा परिणाम आने की ज्यादा सम्भावना होती हैं
  • छोटे आकार की गांठ जो स्क्रीनिंग में नहीं आ पाई
  • कैंसर टिश्यू का ऐसी जगह पर होना जो स्क्रीन पर नहीं दिख सकती
  • युवा महिलाओं में ऐसा परिणाम आने की ज्यादा सम्भावना होती है क्योंकि युवा उम्र में स्तन हैवी होते हैं। उम्र बढ़ने के साथ स्तनों में हैवीनेस (heaviness) कम होती जाती है
और पढ़ें:एरोला और निप्पल से जुड़े तथ्य
 

फाल्स पॉजिटिव मैमोग्राम

False-positive mammogram in hindi

mammogram ka result kab false positive aata hai

फाल्स पॉजिटिव मैमोग्राम आने पर स्तन कैंसर के लक्षण दिखाई देते हैं जबकि वास्तव में स्तन कैंसर नहीं होता हैं।

फाल्स पॉजिटिव मैमोग्राम रिपोर्ट तब आती है जब एक रेडियोलॉजिस्ट को मैमोग्राम में असामान्यता दिखाई देती है लेकिन वास्तव महिला को स्तन कैंसर नहीं होता है।

ऐसी निम्न स्थितियों में हो सकता हैं:-

  • युवा महिलाओं में
  • हैवी ब्रेस्ट (heavy breast) वाली महिलाओं में
  • एस्ट्रोजेन (estrogen) लेने वाली महिलाओं में
  • परिवार में स्तन कैंसर की हिस्ट्री वाली महिलाओं में
  • 10 साल में एक बार मैमोग्राम करवाने वाली लगभग आधी महिलाओं में
  • जो महिलायें पहली बार मैमोग्राम करवाती हैं
loading image
 

निष्कर्ष

Conclusionin hindi

फाल्स पॉजिटिव फाल्स नेगेटिव रिपोर्ट मैमोग्राम के मामलों में कुछ अन्य टेस्ट करने पड़ते है, इनसे पता लगाया जा सकता है कि स्तन कैंसर है या नहीं, जैसे:

  • डायग्नोस्टिक मैमोग्राम (Diagnostic mammograms)
  • अल्ट्रासाउंड (Ultrasound)
  • एमआरआई - मैग्नेटिक रेसोनेंस इमेजिंग (MRI - Magnetic Resonance Imaging)
  • स्तन बायोप्सी (Breast biopsy)

मैमोग्राम टेस्ट के रिजल्ट्स के परिणाम एक महिला के स्वास्थ्य पर निर्भर करते हैं।

महिलाओं को यह बताना महत्वपूर्ण है कि इस बात का यह मतलब नहीं बनता कि मैमोग्राम करवाना अनावश्यक हैं या संभावित रूप से हानिकारक हैं।

नियमित रूप से मैमोग्राम करवाने से आप ब्रेस्ट कैंसर के जोखिम को कम कर सकते हैं।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 10 Oct 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

स्तन संक्रमण (मैस्टाइटिस) के घरेलू उपचार

स्तन संक्रमण (मैस्टाइटिस) के घरेलू उपचार

शुरुआत में स्तन कैंसर का पता लगाने के लिए 3डी मैमोग्राफी

शुरुआत में स्तन कैंसर का पता लगाने के लिए 3डी मैमोग्राफी

सीने में दर्द के लिए योग-7 सर्वश्रेष्ठ योगासन

सीने में दर्द के लिए योग-7 सर्वश्रेष्ठ योगासन

सीने पर खुजली का क्या कारण है और इससे कैसे बचें

सीने पर खुजली का क्या कारण है और इससे कैसे बचें

एरोला और निप्पल से जुड़े तथ्य

एरोला और निप्पल से जुड़े तथ्य
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad