समय से पहले रजोनिवृत्ति

Premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause in hindi


एक नज़र

  • रजोनिवृत्ति की औसत आयु 51 के आस-पास है।
  • 40 वर्ष की आयु से पहले रजोनिवृत्ति शुरुआत को असामयिक रजोनिवृत्ति कहते हैं।
  • असामयिक मेनोपौज़, कई स्वास्थ्य समस्याओं के जोखिम को बढ़ा देती है।
  • असामयिक रजोनिवृत्ति भावनात्मक रूप से विनाशकारी हो सकती है।
triangle

Introduction

Samay_se_pahle_menopause_in_hindi

रजोनिवृत्ति (Menopause) तब होती है जब एक महिला के शरीर में ओवुलेशन की प्रक्रिया बंद होने के बाद माहवारी रुक जाती है।

ज्यादातर महिलाएं 45 और 55 की उम्र के बीच रजोनिवृत्ति तक पहुँचती हैं। रजोनिवृत्ति की शुरुआत की औसत आयु 51 के आस-पास है।

लगभग एक प्रतिशत महिलाओं को 40 वर्ष की आयु से पहले रजोनिवृत्ति का अनुभव होता है। यह असामयिक रजोनिवृत्ति के रूप में जाना जाता है।

41 से 45 साल की उम्र में मेनोपौज़ को प्रारंभिक रजोनिवृत्ति कहा जाता है। असामयिक रजोनिवृत्ति के कई कारण होते हैं, आइये देखें :

loading image

इस लेख़ में

 

असामयिक रजोनिवृत्ति के कारण

Causes of premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause ke karan in hindi

समय से पहले रजोनिवृत्ति के कुछ संभावित कारणों में शामिल हैं:-

  • ऑटोइम्यून (autoimmune) स्थितियाँ :

    लगभग 10 से 30 प्रतिशत प्रभावित महिलाओं में ऑटोइम्यून बीमारी, जैसे कि हाइपोथायरायडिज्म (hypothyroidism), रियूमटोइड अर्थिरिटिस (rheumatoid arthritis) क्रोहन रोग (Crohn’s disease) आदि के कारण समय से पहले रजोनिवृत्ति हो जाती है।
  • आनुवंशिक (genetic) स्थिति :

    5 से 30 प्रतिशत महिलाओं में असामयिक मेनोपौज़ की वज़ह आनुवंशिक स्थिति पाई गयी है।

    एक महिला अगर असामयिक रजोनिवृत्ति की अवस्था से गुज़र रही है तो इसका कारण उनके ख़ुद के परिवार का इतिहास हो सकता है।

  • अज्ञात कारण :

    अधिकांश मामलों (60%) में, इसका कारण नहीं जाना जा सकता है।
और पढ़ें:अजवायन से पाएं पीरियड्स के दर्द से छुटकारा
 

असामयिक मेनोपौज़ के लक्षण

Symptoms of premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause ke lakshan in hindi

समय से पहले रजोनिवृत्ति के लक्षण अक्सर वही होते हैं जो प्राकृतिक रजोनिवृत्ति से गुज़रने वाली महिलाओं द्वारा अनुभव किए जाते हैं और इसमें शामिल हो सकते हैं:-

  • अनियमित या मिस्ड पीरियड्स।

  • ऐसी माहवारी जो सामान्य से अधिक ज़्यादा या कम हो।

  • हॉट फ्लेशेस (Hot flashes)।

नोट :

  • ये लक्षण एक संकेत है कि अंडाशय कम एस्ट्रोजन का उत्पादन कर रहे हैं।

उपरोक्त लक्षणों के अलावा, कुछ महिलाओं को इन तकलीफ़ों का भी अनुभव हो सकता है :

  • योनि का सूखापन (योनि भी पतली और कम लचीली हो सकती है)।

  • मूत्राशय का चिड़चिड़ापन और मूत्राशय पर नियंत्रण की कमी। (Bladder irritability and loss of bladder control)

  • भावनात्मक परिवर्तन जैसे चिड़चिड़ापन, अवसाद।

  • सूखी त्वचा, आँखें या मुँह।

  • नींद की कमी।

  • सेक्स ड्राइव में कमी।

loading image
 

असामयिक रजोनिवृत्ति का ख़तरा कब बढ़ता है

What increases risk of premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause ke khatra kab aadik hota hai in hindi

यदि आप 40 वर्ष से कम उम्र की हैं और निम्नलिखित में से किसी भी स्थिति का अनुभव करती हैं, तो आपको अपने चिकित्सक से यह निर्धारित करने के लिए मिलना चाहिए कि क्या आप असामयिक रजोनिवृत्ति से गुज़र रही हैं:-

  • आप कीमोथेरेपी या रेडिएशन थेरेपी (chemotherapy/ radiation therapy) से गुज़र चुकी हैं।

  • आपको या परिवार के किसी सदस्य को हाइपोथायरायडिज्म (hypothyroidism), ग्रेव्स रोग (Graves' disease) या ल्यूपस (lupus) जैसे ऑटोइम्यून डिसऑर्डर (autoimmune disorder) है।

  • आपने एक वर्ष से अधिक समय तक गर्भवती होने का असफल प्रयास किया है।

  • आपकी माँ या बहन ने भी असामयिक रजोनिवृत्ति का अनुभव किया है।

और पढ़ें:अनियमित माहवारी का इलाज
 

असामयिक मेनोपौज़ की जांच

Diagnosis of premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause ki jaanch in hindi

समय से पहले मेनोपौज़ के ट्रीटमेंट के लिए, डॉक्टर शारीरिक परीक्षण के अलावा ब्लड टेस्ट का ऑर्डर दे सकते हैं।

ब्लड टेस्ट से गर्भावस्था और थायराइड की बीमारी की जांच करने में मदद मिलती है।

आपके एस्ट्राडियोल स्तर (estradiol levels) को मापने के लिए भी कुछ टेस्ट्स ज़रूरी हो सकते हैं।

एस्ट्राडियोल (सेक्स हार्मोन) का निम्न स्तर, यह संकेत दे सकता है कि आपके अंडाशय विफल होने लगे हैं।

जब एस्ट्राडियोल का स्तर 30 से नीचे होता है, तो यह संकेत दे सकता है कि आप रजोनिवृत्ति में हैं।

हालांकि, समय से पहले मेनोपौज़ का ट्रीटमेंट के लिए उपयोग किया जाने वाला सबसे महत्वपूर्ण परीक्षण वो रक्त परीक्षण है जो फोल्लिकल स्टिमुलेटिंग हार्मोन-एफएसएच (follicle stimulating hormone –FSH) को मापता है।

एफएसएच आपके अंडाशय में एस्ट्रोजेन का उत्पादन का कारण बनता है।

जब आपके अंडाशय एस्ट्रोजेन के अपने उत्पादन को धीमा कर देते हैं, तो एफएसएच के स्तर में वृद्धि होती है।

जब आपका एफएसएच स्तर 40 mIU / mL से अधिक हो जाता है, तो यह आमतौर पर इंगित करता है कि आप रजोनिवृत्ति में हैं।

loading image
 

असामयिक रजोनिवृत्ति के प्रभाव

Effects of premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause ke khatre in hindi

सभी रजोनिवृत्त महिलाओं की तरह, समय से पहले मेनोपौज़ में महिलाओं को कम एस्ट्रोजन के स्तर का अनुभव होता है क्योंकि अंडाशय इस हार्मोन के उत्पादन को रोकते हैं।

एस्ट्रोजन का निम्न स्तर एक महिला के स्वास्थ्य में परिवर्तन का कारण बन सकता है और ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) जैसी बीमारियों के जोखिम को बढ़ा सकता है।

एस्ट्रोजन की कमी के साथ जुड़े अन्य स्वास्थ्य जोखिमों में कोलोन और ओवरी के कैंसर, दांतों की हानि और मोतियाबिंद शामिल हैं।

एस्ट्रोजेन के कई सुरक्षात्मक लाभ हैं, जो एक महिला को तब तक प्राप्त होते हैं जब तक उसका मासिक चक्र नियमित रहता है।

रजोनिवृत्ति के बाद एक महिला को यह सुरक्षा कवच मिलना बंद हो जाता है और वो ऊपर बताई गयी बीमारियों का शिकार बन सकती है।

समय से पहले मेनोपौज़, ऊपर बताई गयी स्वास्थ्य समस्याओं के जोखिम को और भी अधिक बढ़ा देता है।

और पढ़ें:अनियमित माहवारी या अनियमित पीरियड
 

असामयिक रजोनिवृत्ति के उपचार

Treatment of premature menopause in hindi

Samay se pahle menopause ke upchar in hindi

एक बार यदि ओवरीज़ काम करना बंद कर दे, तो कोई ऐसा उपचार उपलब्ध नहीं है जिनसे वो फिर से काम करना शुरू कर दें।

कुछ मामलों में, अज्ञात कारणों से, अंडाशय अनायास फिर से काम करना शुरू कर सकते हैं।

कुछ अध्ययनों के अनुसार, लगभग 10 महिलाओं में से एक जो प्रेमच्युर ओवरियन इन्सफ़्फ़िसिनसी-पीओआई (premature ovarian insufficiency POI) का शिकार होती हैं, अज्ञात कारणों से गर्भवती हो जाती हैं।

समय से पहले रजोनिवृत्ति वाली महिलाओं में पोस्टमेनोपॉज़ल (postmenopausal) जीवन की लंबी अवधि होती है, जिसका अर्थ है कि उन्हें ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporisis) और हृदय रोग का ख़तरा अधिक होता है।

इस कारण से यह सलाह दी जाती है कि वे हार्मोन थेरेपी तब तक लें जब तक कि वे रजोनिवृत्ति (लगभग 51 वर्ष की आयु) की सामान्य उम्र तक न पहुंच जाएं।

यह संयुक्त एस्ट्रोजन (oestrogen) और प्रोजेस्टोजन (progestogen) गर्भनिरोधक गोली या रजोनिवृत्ति हार्मोन थेरेपी (menopausal hormone therapy MHT) के रूप में हो सकती है।

और पढ़ें:इन 6 टिप्स से जानें पीरियड साइकिल नियमित है या नहीं
 

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

Nishkarsh in hindi

समय से पहले मेनोपौज़ भावनात्मक रूप से विनाशकारी हो सकती है।

महिलाओं के सामने कई मुद्दों खड़े हो सकते हैं, जैसे कि संतान न होने की संभावना, समय से पहले बूढ़े होने का डर, आत्मसम्मान की समस्या आदि।

मनोवैज्ञानिक परामर्श (psychological counseling) इस मामले में बेहद कारगर साबित हो सकता है और महिलाओं को समय से पहले रजोनिवृत्ति से लड़ने के लिए भावनात्मक रूप से तैयार कर सकता है।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 26 Jun 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

पीरियड्स में हेवी ब्लीडिंग या मासिक धर्म का अधिक दिनों तक आना

पीरियड्स में हेवी ब्लीडिंग या मासिक धर्म का अधिक दिनों तक आना

अनियमित पीरियड्स के लिए गुलाब की चाय के फायदे

अनियमित पीरियड्स के लिए गुलाब की चाय के फायदे

अनियमित माहवारी या अनियमित पीरियड

अनियमित माहवारी या अनियमित पीरियड

डिसमेनोरिया क्या है

डिसमेनोरिया क्या है

इन 6 टिप्स से जानें पीरियड साइकिल नियमित है या नहीं

इन 6 टिप्स से जानें पीरियड साइकिल नियमित है या नहीं
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad