शीघ्रपतन के लक्षण, कारण और उपचार

Symptoms, causes and treatment of premature ejaculation in hindi

Shighrapatan ke lakshan or karan


एक नज़र

  • लगभग 30% -40% पुरुष शीघ्रपतन का सामना कभी-न-कभी अपने जीवन में करते है।
  • शीघ्रपतन एक ऐसी स्थिति को कहते हैं जब संभोग के दौरान पुरुष का अपनी साथी की तुलना में बहुत जल्दी या शीघ्र इजैक्यूलैशन हो जाता है।
  • जो पुरुष बहुत जल्द ही एजैक्युलेट करते हैं, वे मनोवैज्ञानिक रूप से परेशान हो सकते हैं।
triangle

Introduction

Shighrapatan_ke_lakshan_or_karan

प्रीमैच्योर इजैक्यूलैशन (premature meaning in hindi) , में इजैक्यूलैशन का मतलब होता है लिंग के ज़रिए पुरुष के शरीर से सीमेन का स्राव। वहीं शीघ्रपतन एक ऐसी स्थिति को कहते हैं जब संभोग के दौरान पुरुष का अपनी साथी की तुलना में बहुत जल्दी या शीघ्र इजैक्यूलैशन हो जाता है।

इस स्थिति को समय से पहले चमोत्कर्ष पर पहुँचना (premature climax) या शीघ्र स्खलन (early ejaculation) के रूप में भी जाना जाता है।

ये एक तरह का यौन रोग होता है, जो किसी पुरुष के यौन जीवन की गुणवत्ता पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है। प्रजनन के साथ कभी-कभी जटिलता हो सकती है, लेकिन समय से पहले स्खलन (पीई) (Premature ejaculation (PE) पुरुषों और उनके साथी दोनों के लिए यौन संतुष्टि को प्रतिकूल रूप से प्रभावित कर सकता है।

ये पुरुषों के लिए से जुड़ा एक सामान्य मुद्दा है। लगभग 30% -40% पुरुष इस समस्या का सामना कभी-न-कभी अपने जीवन में किसी समय करते है।

हालांकि अगर ये समस्या यह कभी-कभार हो तो चिंता की कोई बात नहीं है लेकिन अकसर अगर ऐसा होता है तो आपको इस ओर ध्यान देने की आवश्यकता है।

मनोवैज्ञानिक और जैविक दोनों कारक शीघ्रपतन में भूमिका निभा सकते हैं। हालांकि कई पुरुषों को इसके बारे में बात करने में शर्मिंदगी महसूस होती है, लेकिन शीघ्रपतन एक सामान्य और उपचार योग्य स्थिति है।

दवाएं (medications), परामर्श (counselling) और यौन तकनीक (sexual tecchniques) की मदद से इस समस्या का उपचार संभव है या इनमें से एक संयोजन (combination) की मदद से आपके और आपके साथी के लिए सेक्स को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

loading image

इस लेख़ में

 

शीघ्रपतन के प्रकार

Types of premature ejaculation in hindi

Shighrapatan ke prakar

शीघ्रपतन को इस प्रकार वर्गीकृत किया जा सकता है: -

प्राथमिक और आजीवन शीघ्रपतन (Primary or lifelong premature ejaculation)

जैसा की नाम से ही समझा जा सकता है कि इस तरह का शीघ्रपतन आजीवन एक पुरुष को परेशान करता है।
जीवन में पहली बार यौन संबंध स्थापित करने से लेकर जीवन भर ये समस्या बनी रहती है।

द्वितीयक या अधिग्रहित शीघ्रपतन (Secondary or acquired premature ejaculation)

शुरुआत से आपको शीघ्रपतन की समस्या का अनुभव नहीं होता है लेकिन अगर अचानक आपको सेक्स के दौरान शीघ्रपतन की समस्या होने लगे तो इसे एक्वायर्ड या अर्जित शीघ्रपतन कहते हैं।

loading image
 

शीघ्रपतन के लक्षण क्या हैं?

Premature ejaculation symptoms in hindi

Shighrapatan ke lakshan

जो पुरुष बहुत जल्द ही एजैक्युलेट करते हैं, वे मनोवैज्ञानिक रूप से परेशान हो सकते हैं।

इस संदर्भ में 152 पुरुषों और उनके सहयोगियों पर किए गए एक अध्ययन के परिणाम बताते हैं कि पुरुषों की प्रीमैच्योर एजैक्युलेशन की समस्या से महिला साथी पुरुष की तुलना में कम चिंतित होती हैं।

शीघ्रपतन के प्रमुख लक्षणों में शामिल हैं : -

  • स्खलन (ejaculation), जो नियमित रूप से सेक्स के दौरान मिनटों में या पेनिस को महिला के वैजाइना में डालते ही हो जाता है
  • एजैक्युलेशन पर कंट्रोल नहीं होने की वजह से यौन सुख में कमी आना
  • सेक्स शुरू होते ही, या सेक्स करने से पहले वीर्य का निकल जाना
  • अपराध बोध, शर्मिंदगी या हताशा की भावनाएँ उत्पन्न होना
और पढ़ें:अजवाइन, प्याज़ एवं लहसुन बढ़ाते है यौन इच्छा
 

शीघ्रपतन के कारण क्या हैं?

Premature ejaculation causes in hindi

Shighrapatan ke karan

शीघ्रपतन के सही कारण का अब तक पता नहीं चल सका है।

हालांकि इसे पहले मनोवैज्ञानिक कारणों से जोड़कर देखा जाता था, लेकिन अब डॉक्टर इसके पीछे मनोवैज्ञानिक और जैविक कारकों को ज़िम्मेदार मानते हैं।

शीघ्रपतन से जुड़े मनोवैज्ञानिक कारकों में शामिल है : -

  • शुरुआती यौन अनुभव
  • यौन शोषण
  • शरीर की खराब छवि
  • डिप्रेशन
  • शीघ्रपतन की चिंता करना

कुछ अन्य कारकों में शामिल है : -

एरेक्टाइल डिस्फ़ंक्शन (Erectile dysfunction)

जो पुरुष एरेक्टाइल डिस्फ़ंक्शन यानि स्तंभन दोष से पीड़ित होते हैं वो सेक्स के दौरान जल्दी एजैक्युलेट कर सकते हैं।

चिंता(Anxiety)

शीघ्रपतन की समस्या का सामना करने वाले पुरुषों में भी चिंता की समस्या होती है, जो यौन प्रदर्शन या अन्य मुद्दों से जुड़ी होती है।

रिश्ते से जुड़ी समस्याएं (Relationship Problem)

कई बार आपसी संबंध में किसी तरह की परेशानी के कारण भी शीघ्रपतन हो सकता है।

कई जैविक कारक (biological factors) शीघ्रपतन में योगदान कर सकते हैं, जिनमें शामिल हैं: -

  • असामान्य हार्मोन का स्तर
  • मस्तिष्क रसायनों के असामान्य स्तर, जिसे न्यूरोट्रांसमीटर कहा जाता है
  • प्रोस्टेट (prostate) या मूत्रमार्ग (urethra) की सूजन और संक्रमण
  • अनुवांशिक कारक
loading image
 

शीघ्रपतन रोकने के उपाय

Prevention of premature ejaculation in hindi

Shighrapatan rokne ke upay, shighrapatan kaise rok sakte hain,

अगर आप इस समस्या से बचाव करना चाहते हैं तो इसके लिए आप और आपके साथी के सहयोग की आवश्यकता है।

कुछ तकनीकों को अपनाकर आप स्वयं से इससे अपना बचाव कर सकते हैं या शीघ्रपतन को रोक सकते हैं।

शीघ्रपतन के उपाय निम्नलिखित हैं : -

  • सेक्स करने से दो घंटे पहले तक हस्तमैथुन करें
  • लिंग में उत्तेजना को कम करने के लिए मोटे कंडोम का उपयोग करें
  • यौन संबंध बनाते समय पार्टनर को अपने ऊपर रखे ताकि जब आप स्खलन के निकट पहुंचे तो वो दूर हो सके
  • गहरी साँस लेकर एजैक्युलेटरी रिफ्लेक्स को रोकने की कोशिश करें
और पढ़ें:ओरल सेक्स दे सकता है कई बिमारियों को न्योता
 

शीघ्रपतन का परीक्षण

Diagnosis of premature ejaculation in hindi

Shighrapatan ka nidan

शीघ्रपतन (shigrapatan in english) का निदान विशिष्ट लक्षणों के आधार पर किया जाता है।

ऐसे में आपको अपने डॉक्टर के साथ सेक्स से जुड़ी हिस्ट्री का उल्लेख करना होगा और खुले रूप से अपनी परेशानियों के बारे में बताने की ज़रूरत होगी।

ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर के साथ खुलकर बात करने की आवश्यकता ताकि डॉक्टर को आपकी सेक्स लाइफ के बारे में सभी जानकरी मिल सके और समस्या का निदान बेहतर तरीके से कर पाने में संभव हो सके।

अगर आपके सेक्स हिस्ट्री के आधार पर भावनात्मक और मानसिक कारणों को समझने भी समस्या आती है, जो शीघ्रपतन का कारण बन सकता है, तो आपके डॉक्टर आपकी जांच कर सकते हैं।

वहीं आपके डॉक्टर आपके प्रोस्टेट (prostate) की जांच कर सकते हैं या न्यूरोलॉजिकल परीक्षण (neurological tests) (आपके तंत्रिका तंत्र के परीक्षण) कर सकते हैं।

ये जाँच के शारीरिक समस्या निर्धारित करने के लिए की जाती है, जो शीघ्रपतन पैदा कर सकती है।

loading image
 

शीघ्रपतन का इलाज

Premature ejaculation treatment in hindi

Shighrapatan ka ilaj hindi mein

शीघ्रपतन के लिए सामान्य उपचार के विकल्पों में व्यवहार तकनीक (behavioral techniques), सामयिक एनेस्थेटिक्स (topical anesthetics), दवाएं (medications) (virya rokne ki tablet) और परामर्श (counseling) शामिल हैं।

हालांकि आपके लिए कौन सा उपाय सही होगा ये समझने में समय लग सकता है।

व्यवहार उपचार और ड्रग थेरेपी सबसे प्रभावी कोर्स हो सकता है।

निम्न तरीकों से शीघ्रपतन का इलाज किया जा सकता है : -

व्यवहार तकनीक (Behavioral techniques)

कुछ मामलों में, शीघ्रपतन के लिए इलाज के लिए सरल कदम उठाना भी फायदेमंद हो सकता है, जैसे कि संभोग से एक या दो घंटे पहले हस्तमैथुन (masturbating) करना ताकि आप सेक्स के दौरान स्खलन में देरी कर सकें।
आपके डॉक्टर भी कुछ समय के लिए संभोग से बचने और अन्य प्रकार के यौन खेल पर ध्यान केंद्रित करने की सलाह दे सकते हैं ताकि आपके सेक्स के दौरान शीघ्रपतन होने के दबाव से ध्यान आपका हट जाए।

पेल्विक फ्लोर व्यायाम (Pelvic floor exercises)

कमज़ोर पेल्विक फ्लोर मांसपेशियां स्खलन (ejaculation) में देरी करने की आपकी क्षमता को क्षीण कर सकती हैं।
पेल्विक फ्लोर व्यायाम (केगेल व्यायाम) इन मांसपेशियों को मज़बूत करने में मदद कर सकते हैं।

ठहराव-निचोड़ तकनीक (The pause-squeeze technique)

आपके डॉक्टर आपको और आपके साथी को पॉज़-स्क्वीज़ तकनीक नामक एक विधि के उपयोग के लिए निर्देश दे सकता है।

ये विधि निम्नानुसार काम करती है : -

लिंग की उत्तेजना सहित हमेशा की तरह यौन गतिविधि शुरू करें, जब तक कि आप स्खलन के लिए लगभग तैयार महसूस न करें।

फिर आप अपने साथी को पेनिस को 30 तक स्क्वीज़ करने को कहे और फिर हस्तमैथुन की प्रक्रिया को रोक दें

स्खलन होने से पहले कई बार इस प्रक्रिया को दोहराए

कंडोम (Condoms)

कंडोम से पेनिस की सेन्सिटिविटी कम हो सकती है, जिससे स्खलन में देरी हो सकती है।
"क्लाइमैक्स कंट्रोल" कंडोम में भी बाजार में उपलब्ध हैं।
इन कंडोम में सुन्न करने वाले एजेंट जैसे बेंजोकेन या लिडोकाइन होते हैं या स्खलन में देरी करने के लिए अधिक लैटेक्स (lattex) से बने होते हैं।

काउंसिलिंग (Counseling)

इस संदर्भ में आपके संबंधों और अनुभवों के बारे में मानसिक चिकित्सक (mental health provider) के साथ बात करना शामिल है।
काउंसलिंग सेशन आपकी चिंता को कम करने और तनाव से निपटने के बेहतर तरीके खोजने में मदद कर सकते हैं।
अगर दवा के साथ काउंसिलिंग की मदद ली जाए तो परिणाम बेहतर मिलते हैं।

loading image
 

शीघ्रपतन की दवा

Medicines for premature ejaculation in hindi

Shighrapatan ki dawa , shighrapatan kaise roke, shighrapatan ka ilaj hindi mein

दवाएं, जिनका इस्तेमाल कर आपको शीघ्रपतन की समस्या से निजात मिल सकता है उनमें कुछ टोपिकल और कुछ ओरल दवाओं का इस्तेमाल करना शामिल है।

शीघ्रपतन की दवा निम्न है : -

टोपिकल एनास्थेटिक (Topical anesthetics)

एनास्थेटिक क्रीम और स्प्रे जिसमें एक सुन्न एजेंट (numbing agent) होता है, जैसे कि बेंज़ोकेन (benzocaine), लिडोकाइन (lidocaine) या प्रिलोकाइन (prilocaine), का उपयोग कभी-कभी शीघ्रपतन के इलाज के लिए किया जाता है।

मौखिक दवाएं (Oral medications)

कई दवाओं (वीर्य रोकने की टैबलेट) के कारण ऑर्गेज़म देर से हो सकता है।

यद्यपि इन दवाओं (shighrapatan ki medicine in hindi) में से कोई भी विशेष रूप से समय से पहले एजैक्युलेशन का उपचार करने के लिए खाद्य और औषधि प्रशासन द्वारा अनुमोदित नहीं है, कुछ को इस उद्देश्य के लिए उपयोग किया जाता है, जिसमें एंटीडिपेंटेंट्स (antidepressants), एनाल्जेसिक्स (analgesics) और फॉस्फोडिएस्टरेज़ -5 इनहिबिटर (phosphodiesterase-5 inhibitors) शामिल हैं।

इसके अलावा आप शीघ्रपतन रोकने की पतंजलि दवा (shighrapatn ki patanjali dawa) जैसे यौवनामृत वटी का उपयोग भी कर सकते हैं।

हालांकि इस ओर रूख करने से पूर्व अपने डॉक्टर से बात ज़रुर कर लें।

ये शीघ्रपतन की आयुर्वेदिक दवा (shighrapatan ki ayeurvedic dawa) है जिसके इस्तेमाल से फायदा हो सकता है।

और पढ़ें:कंडोम मिथक: अधिक सुरक्षा के लिए मेल और फ़ीमेल कंडोम एक-साथ इस्तेमाल करने चाहिए
 

शीघ्रपतन में क्या खाना चाहिए?

What to eat in premature ejaculation in hindi

Shighrapatan mein kya khana chahiye

एक शोध से ये बात सामने आई है की मैग्नीशियम (magnesium) ज़िंक (zinc) यौन स्वास्थ्य के साथ-साथ शीघ्रपतन में भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं।

ऐसे में आपको अपने डाइट में उन खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए, जो मैग्नीशियम और ज़िंक से समृद्ध होते हैं, जो आपको ऑर्गेज़म तक पहुंचने में समय लगाने में मदद कर सकते हैं।

उन खाद्य पदार्थों में शामिल हैं:

  • कद्दू के बीज
  • सोयाबीन
  • दही
  • पालक
  • गेहूं के बीज का अनाज
  • बादाम
  • राजमा
  • चना
  • तिल के बीज
  • डार्क चॉकलेट
  • लहसुन
  • मटर

शीघ्रपतन पूरी तरह से सामान्य प्रकार की यौन शिकायत है, जो लगभग सभी पुरुषों को कभी-न-कभी प्रभावित करती है।

ऐसे में कुछ उपचारों को अपनाकर आप इसे खुद से कंट्रोल करने की कोशिश कर सकते हैं।

लेकिन अगर समय से पहले स्खलन जारी रहता है, तो ज़रूरत इस बात की है कि आप समय रहते इनके कारणों को समझने लिए और इस समस्या से संबंधित इलाज के विकल्पों का पता लगाने के लिए अपने डॉक्टर से मिले।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 03 Apr 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

कंडोम मिथक: कंडोम का प्रयोग असुविधाजनक और कठिन होता है

कंडोम मिथक: कंडोम का प्रयोग असुविधाजनक और कठिन होता है

महिलाओं के लिए चरम सुख के फायदे

महिलाओं के लिए चरम सुख के फायदे

कंडोम मिथक: अधिक सुरक्षा के लिए मेल और फ़ीमेल कंडोम एक-साथ इस्तेमाल करने चाहिए

कंडोम मिथक: अधिक सुरक्षा के लिए मेल और फ़ीमेल कंडोम एक-साथ इस्तेमाल करने चाहिए

क्या हर महिला का हाइमन अलग-अलग दिखता है

क्या हर महिला का हाइमन अलग-अलग दिखता है

सामान्य योनि स्राव और असामान्य योनि स्राव में क्या अंतर है

सामान्य योनि स्राव और असामान्य योनि स्राव में क्या अंतर है
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad