रजोनिवृत्ति महिलाओं की कामेच्छा कम करती है

Menopause lowers women libido in hindi

Menopause se kam hoti hai mahilao mein sex ki ichha in hindi


एक नज़र

  • मेनोपॉज या रजोनिवृति 45 से 55 की उम्र के बीच महिलाओं में होने वाली सामान्य प्रक्रिया है।
  • मेनोपॉज के दौरान महिलाओं में शारीरिक व मानसिक रूप से अनेक बदलाव देखे जाते हैं।
  • प्रजनन हार्मोन में कमी के कारण महिलाओं में सेक्स के प्रति रूचि में कमी आने लगती है।
triangle

Introduction

Menopause_se_kam_hoti_hai_mahilao_mein_sex_ki_ichha

महिलाओं की कामेच्छा या सेक्स ड्राइव पर कई चीज़ें असर डालती हैं, जिनमें उम्र के साथ शरीर में आने वाले बदलाव एक मुख्य कारण होते हैं।

ऐसे ही बदलावों में से एक है रजोनिवृति या मेनोपॉज (menopause) जिसमें महिलाओं में मासिक धर्म या पीरियड्स आना बंद हो जाता है।

जिसके कारण शारीरिक बदलाव के साथ- साथ मानसिक स्वास्थ्य पर असर भी पड़ता है।

इन्ही बदलावों में से एक है कामेच्छा में कमी।

loading image

इस लेख़ में

 

क्या है रजोनिवृत्ति

What is menopause in hindi

Menopause kya hota hai in hindi

यह महिलाओं में 45 से 55 साल के बीच की उम्र में होने वाली एक प्राकृतिक प्रक्रिया है

जिसमें प्रजनन हार्मोन (reproductive hormones) जैसे एस्ट्रोजन (estrogen), प्रोजेस्‍टेरोन (progesterone ), ल्‍यूटिनिजिंग हार्मोन (luteinizing hormone) का शरीर में उत्पादन होना कम होने लगता है और धीरे- धीरे मासिक धर्म (periods) बंद हो जाते हैं।

loading image
 

रजोनिवृत्ति के लक्षण

Symptoms of menopause in hindi

Menopause ke lakshan kya hai in hindi

हर महिला में मेनोपॉज के लक्षण अलग-अलग तरीके से दिखाई देते हैं।

किसी महिला में अचानक पीरियड्स बंद हो जाते है, तो किसी में पूरी तरीके से मेनोपॉज की स्थिति आने में 1-2 साल लग जाते हैं।

कुछ स्त्रियों में तो यह स्थिति 45 साल की उम्र से पहले ही आ जाती है।

महिलाओं को कुछ संकेतों से समझ जाना चाहिए कि मेनोपॉज का वक्त आ चुका है।

कुछ आम लक्षण होते हैं:-

और पढ़ें:अजवाइन, प्याज़ एवं लहसुन बढ़ाते है यौन इच्छा
 

रजोनिवृत्ति में महिलाओं में कामेच्छा में कमी के कारण

Reasons of lowering of libido in menopause in women in hindi

Menopause mein mahilaon mein sex ki ikcha ki kami ka karan in hindi

मेनोपॉज या रजोनिवृत्ति की स्थिति आने के समय शरीर में कई प्रकार के हार्मोनल परिवर्तन होने लगते हैं जिसकी वजह से महिलाओं को काफी सारे शारीरिक और मानसिक बदलावों का अनुभव होता है।

इसकी वजह से स्त्रियों में सेक्स करने की इच्छा कम होने लगती है।

मेनोपॉज की वजह से सेक्स इच्छा में कमी आने के अनेक कारण हो सकते हैं :-

loading image
 

निष्कर्ष

Conclusionin hindi

माहवारी का पूर्ण रूप से बंद होने पर कुछ महिलाओं को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती है लेकिन कुछ स्त्रियों को काफी कष्ट का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में पुरुष साथी को महिला साथी की स्थिति को समझते हुए उसके भावनात्मक सहारा देना चाहिए और ज़रुरत पड़ने पर डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

यह समझना चाहिए कि मेनोपॉज एक नेचुरल प्रोसेस है, जिसका हर महिला को अपने जीवन में सामना करना पड़ता है।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 11 Sep 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

कंडोम मिथक: कंडोम का प्रयोग असुविधाजनक और कठिन होता है

कंडोम मिथक: कंडोम का प्रयोग असुविधाजनक और कठिन होता है

महिलाओं के लिए चरम सुख के फायदे

महिलाओं के लिए चरम सुख के फायदे

कंडोम मिथक: अधिक सुरक्षा के लिए मेल और फ़ीमेल कंडोम एक-साथ इस्तेमाल करने चाहिए

कंडोम मिथक: अधिक सुरक्षा के लिए मेल और फ़ीमेल कंडोम एक-साथ इस्तेमाल करने चाहिए

क्या हर महिला का हाइमन अलग-अलग दिखता है

क्या हर महिला का हाइमन अलग-अलग दिखता है

सामान्य योनि स्राव और असामान्य योनि स्राव में क्या अंतर है

सामान्य योनि स्राव और असामान्य योनि स्राव में क्या अंतर है
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad