अनिद्रा: एक सपने देखने वाला दुःस्वप्न

Insomnia: A dreamer's nightmare in hindi

Anidra se hone wale khatre in hindi


एक नज़र

  • अनिद्रा के शिकार लोगों के लिए उच्च रक्तचाप(BP) और ह्रदय रोग है खतरनाक।
  • अनिद्रा दूर करने के लिए स्वस्थ्य आहार और फिजिकल एक्टिविटीज है(physical activity) जरुरी।
  • डॉक्टर की सलाह के बिना नींद की गोली लेना हानिकारक हो सकता है।
  • अनिद्रा के कारण इंसान अन्य कई बिमारियों का शिकार हो सकता है।
triangle

Introduction

Anidra_se_hone_wale_khatre_in_hindi

कई बार हमे नींद तो आती है पर हम चाहकर भी सो नहीं पाते है ,और अनिद्रा के शिकार हो जाते है।

अनिद्रा (insomnia )आजकल बहुत ही कॉमन बीमारी है जिससे लोग ग्रसित हो रहे है।

अनिद्रा कहने के लिए सामान्य बीमारी है पर इसका हमारे जीवन पर बहुत ही गहरा असर होता है।

loading image

इस लेख़ में

 

अनिद्रा क्या है

What is insomnia in hindi

Anidra kya hai in hindi

अनिद्रा एक नींद विकार है, जिसमे इंसान को सोने में कठिनाइयों का सामान करना पड़ता है।

अनिद्रा के शिकार लोगों को चाहकर भी नींद नहीं आ पाती है।

जिससे रोगी को आवश्यकतानुसार आराम नहीं मिल पाता और स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

नींद नहीं आने पर इंसान अगली सुबह खुद को बहुत ही ज्यादा थका हुआ, आलस से भरा और अस्वस्थ्य महसूस करने लगता है।

अनिद्रा अन्य कई बिमारियों का कारण बनती है।

loading image
 

अनिद्रा के लक्षण

Symptoms of insomnia in hindi

Anidra ke lakshan in hindi

रात भर जागना इंसान की सेहत से खेलवाड़ करने के बराबर है क्योंकि सात से नौ घंटे की नींद एक सामान्य इंसान के लिए बेहद जरुरी है।

इंसोम्निया में नींद कम आना एक प्रमुख लक्षण है ,इसके अलावा पीड़ित में और कौन -कौन से लक्षण दिखाई देते है है ,आइये आपको बताते है -

रात में सोने में कठिनाई का होना ।

  • रात भर जागना , इच्छा से पहले जागना ।

  • थका हुआ महसूस करना ।

  • चिड़चिड़ापन, तनाव सिरदर्द।

  • फोकस नहीं कर पाने की वजह से गलतियों और दुर्घटनाओं का होना।

  • दिन में थकान और नींद आना।

  • तरोताजा महसूस नहीं करना।

और पढ़ें:अकेलापन कैसे दूर करें
 

अनिद्रा के प्रकार

Types of insomnia in hindi

Anidra ke prakar in hindi

नींद की कमी यानि की अनिद्रा अपने साथ -साथ कई अन्य समस्याओं को जन्म देता है।

इसमें व्यक्ति को नींद की मात्रा में , और नींद की गुणवत्ता दोनों में ही कमी पायी जाती है।

आमतौर पर अनिद्रा को तीन प्रकारों में विभाजित किया जाता है:-

  • क्षणिक अनिद्रा (Medical insomnia) :

    यह तब होता है जब अनिद्रा के लक्षण तीन रातों तक रहते हैं।

  • तीव्र अनिद्रा (Acute insomnia) :

    इसे अल्पकालिक अनिद्रा भी कहा जाता है। इसके लक्षण कई हफ्तों तक बने रहते हैं।

  • पुरानी अनिद्रा (Chronic insomnia) :

    अनिद्रा का यह प्रकार महीनों, और कभी-कभी वर्षों तक रहता है।

loading image
 

अनिद्रा से बचाव

Insomnia prevention in hindi

Anidra se bachav in hindi

अच्छी नींद की आदतें, जिसे नींद की स्वच्छता भी कहा जाता है, आपको रात की अच्छी नींद लेने में मदद कर सकती है जैसे-

  • सकारात्मक सोचें ,नकारात्मक मानसिकता के साथ बिस्तर पर जाने से बचें,

  • सोने और उठने का एक फिक्स्ड टाइम टेबल बना लें। दिन में झपकी लेने से बचे और रात में अच्छी नींद पाएं।

  • कैफीन, निकोटीन और शराब से बचें। शराब रात में जागने का कारण बन सकती है और आपकी नींद को ख़राब कर सकती है।

  • नियमित व्यायाम करें । विशेषज्ञों का सुझाव है कि सोने के समय से पहले 4 घंटे तक व्यायाम न करें।

  • रात में भारी भोजन न करें। हालांकि, सोने से पहले एक हल्का स्नैक(snacks) आपको सोने में मदद कर सकता है।

  • सोने की जगह को अपने अनुकूल आरामदायक बनाये ताकि आपको अच्छी नींद आए।

और पढ़ें:अच्छी नींद और मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के लिए आहार
 

अनिद्रा का निदान

Diagnosis of insomnia in hindi

Anidra ka nidan in hindi

अनिद्रा का निदान एक नींद विशेषज्ञ द्वारा व्यक्ति के चिकित्सा इतिहास और नींद के पैटर्न के बारे में सवाल पूछ-कर शुरू किया जाता है।

स्थिति को देखने के लिए एक शारीरिक परीक्षा (physical test) आयोजित की जा सकती है अन्य परीक्षणों में एक पॉलीसोमोग्राफ (Polysomograph) शामिल होता है।

यह रात भर की नींद की परीक्षा है जो नींद के पैटर्न को रिकॉर्ड करती है। इसके अलावा, एक्टिग्राफी (actygraphy) टेस्ट आयोजित की जा सकती है।

यह कलाई में पहने जाने वाले एक छोटे से उपकरण से किया जाता है।

इस टेस्ट को नींद की गति और पैटर्न को नापने के लिए किया जाता है।

और पढ़ें:अच्छी नींद के लिए घरेलू उपाय
 

अनिद्रा का इलाज

Insomnia treatment in hindi

Anidra ka ilaj in hindi

अनिद्रा का इलाज डॉक्टर्स कई चरण में करते है ,हर चरण में अलग अलग चीज़ें बताई जाती है जिससे अनिद्रा को ठीक किया जाता है,जैसे-

  • विश्राम प्रशिक्षण (Relaxation training) :

    इसमें व्यक्ति के शरीर को विभिन्न हिस्सों में व्यवस्थित रूप से तनाव और मांसपेशियों को आराम करना सिखाया जाता है।

    यह शरीर को शांत और नींद को प्रेरित करने में मदद करता है।

  • स्टिमुलस नियंत्रण (Stimulus control) :

    इसमें बेडरूम में से नींद को डिस्ट्रक्ट करने वाली चीज़ों को हटाया जाता है जिससे इंसान का नींद के प्रति लगाव बन सके और वो सही तरीके से सो सके।

  • संज्ञानात्मक व्यवहारवादी रोगोपचार (Cognitive behavioral therapy (CBT)) :

    यह गलत मान्यताओं को चुनौती देने और नींद के चारों ओर लॉजिकल, सकारात्मक सोच सिखाने का काम करता है।

  • दवाएं (Medicine) :

    अनिद्रा के लिए दवाइयां भी कारगर होती है लेकिन किसी भी दवा को लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना महत्वपूर्ण है।

और पढ़ें:अनिद्रा में क्या खाएं
 

अनिद्रा की जटिलताएं

Insomnia complications in hindi

Anidra ki complications in hindi

अच्छी नींद के लिए स्वस्थ्य आहार और फिजिकल एक्टिविटीज (physical activities) बहुत जरुरी है।

अनिद्रा आपको मानसिक और शारीरिक रूप से प्रभावित कर सकती है।

जिन लोगों को नींद अच्छी आती है, उनकी तुलना में अनिद्रा वाले लोगों के जीवन में किसी न किसी तरह की परेशानी बनी ही रहती है।

अनिद्रा की जटिलताओं में कई चीज़ें शामिल हो सकती है जैसे -

  • नौकरी या स्कूल में कम प्रदर्शन, वाहन चलाते समय दुर्घटनाओं का अधिक जोखिम।

  • इसके अलावा मानसिक और शारीरिक परेशानियों से जूझना , नकारात्मक सोच से ग्रसित हो जाना और अपने आप को असहज महसूस करना शामिल है।

  • अनिद्रा क शिकार लोगों के लिए हाई ब्लडप्रेसर (high blood pressure )और हार्ट प्रोब्लेम्स (heart problems)का खतरा बढ़ जाता है।

और पढ़ें:अनिद्रा: एक सपने देखने वाला दुःस्वप्न
 

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

Nishkarsh in hindi

अनिद्रा एक स्लीप डिसऑर्डर (sleeping disorder) है। इसमें इंसान की हालत नींद नहीं आने की वजह से ख़राब हो जाती है।

इंसान सोना तो चाहता है पर सो नहीं पाता है। अनिद्रा से पीड़ित व्यक्ति खुद को असहज महसूस करने लगता है।

अगर आपको भी अनिद्रा की शिकायत है तो इसे नज़रअंदाज़ न करें बल्कि अपने स्लीप पैटर्न्स (sleep patterns) को पहचाने और अपने डॉक्टर से मिलें।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 11 Jun 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

तनाव के कारण, लक्षण, प्रकार, बचाव और उपचार

तनाव के कारण, लक्षण, प्रकार, बचाव और उपचार

10 भारतीय मशहूर हस्तियां जो हुए थे एंग्जायटी या अवसाद के शिकार

10 भारतीय मशहूर हस्तियां जो हुए थे एंग्जायटी या अवसाद के शिकार

बेचैनी के कारण रात को नींद ना आए तो क्या करें

बेचैनी के कारण रात को नींद ना आए तो क्या करें

जानें पैरों की थकान दूर करने के उपाय

जानें पैरों की थकान दूर करने के उपाय

अचानक घबराहट होना - कारण, लक्षण और उपचार

अचानक घबराहट होना  -  कारण, लक्षण और उपचार
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad