रात में होने वाली चिंता को कैसे दूर करें

How to ease anxiety at night in hindi

raat mein hone wali chinta kaise door kare


एक नज़र

  • चिंता चाहे घर की हो या ऑफिस की, हमेशा हमें नुकसान ही पहुंचाती है।
  • अत्यधिक चिंता से हमारा मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों ही प्रभावित होते हैं।
  • रात में एंग्जायटी की वज़ह से नींद प्रभावित होती है।
  • रेगुलर एक्सरसाइज, प्राणायाम और पॉजिटिव थिंकिंग से चिंता से छुटकारा मिलता है।
triangle

Introduction

raat_mein_hone_wali_chinta_kaise_door_kare

आज जहां हम सभी किसी न किसी काम को लेकर व्यस्त रहते हैं। ऐसे में काम को लेकर चिंता होना आम बात है।

कई बार जब यह चिंता बहुत बढ़ जाती है जिसकी वजह से यह हमारी नींद पर भी बुरा असर डालने लगती है और हमें नींद भी ढंग से नहीं आती। इसका असर यह होता है कि हम मानसिक रूप से और कमजोर हो जाते हैं।

इसलिए हमें रात में होने वाली चिंताओं को के कम करने की पूरी कोशिश करनी चाहिए।

loading image

इस लेख़ में

 

रात में होने वाली चिंता के लक्षण

Signs you are having anxiety at night in hindi

raat mei hone wali chinta ke lakshan

loading image

कई बार जब चिंता अधिक हो जाती है तो हमें सोने में परेशानी होती है।

इसी परेशानी के कारण अकसर लोगों को नींद नहीं आती, एकदम से घबराहट होने लगती है, या पूरा शरीर अचानक पसीने से तर हो जाता है, या पेट में कोई न कोई परेशानी रहती है।

कभी हमें रात में नींद नहीं आती है तो कभी हम सोते ही रह जाते हैं।

सोते वक्त हमारे सिर में दर्द और सिर भारी सा लगता है और किसी न किसी कारण हमें चिंता होती रहती है।

अगर आपको अपने आप में भी इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं तो आप भी एंग्जायटी (anxiety) से पीड़ित हैं।

loading image
 

एंग्जायटी के कारण क्या हैं

What are the causes of anxiety in hindi

anxiety ke karan kya hain

loading image

एंग्जायटी आमतौर पर अत्यधिक चिंता करने से होती है लेकिंन इसके और भी कारण हो सकते हैं।

आमतौर पर जिन्हें रात में सोने में परेशानी होती है वो लोग एंग्जायटी से पीड़ित होते हैं ।

ऐसा अकसर अत्यधिक सोचने के कारण, या अत्यधिक नकारात्मक विचारों (negative thoughts) की वजह से होता है।

इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति दिल सम्बंधित बीमारी, या किसी और मानसिक बीमारी से जूझ रहा है तो भी उसे एंग्जायटी हो सकती है। कई बार नशे की लत भी एंग्जायटी का मुख्य कारण बन जाती है।

और पढ़ें:अकेलापन कैसे दूर करें
 

एंग्जायटी का इलाज कैसे करें

How to treat anxiety in hindi

anxiety ka ilaj kaise kare

loading image

एंग्जायटी के इलाज के लिए सबसे जरूरी यह जानना है कि वह किस कारण हुई है।

आप जब भी डॉक्टर के पास अपने इलाज के लिये जाएंगे तो वह सबसे पहले यह देखेगा की आप किसी अन्य बीमारी जैसे कि दिल या दिमाग की कोई बीमारी, से तो नहीं जूझ रहे या फिर आपको नशे की लत तो नहीं।

ऐसी स्थिति में वह फिर पहले आपकी बीमारी ठीक करेगा जिससे आपकी एंग्जायटी अपने आप खत्म हो जाएगी।

आप एंग्जायटी से निजात पाने के लिए साइकोथेरेपी (psychotherapy) का भी सहारा ले सकते हैं ।

loading image
 

एंग्जायटी से बचने के लिए जीवनशैली में क्या परिवर्तन लाएं

What changes in lifestyle should be made to cure anxiety in hindi

anxiety se bachne ke liye jeevanshaili mei kis tarah ka kare badlaw

loading image

एंग्जायटी, हमारे दिमाग की अति व्यस्तता और अधिक चिंता के कारण होती है।

हम अगर अपने दिमाग को शांत रखेंगे तो एंग्जायटी भी कम कर सकेंगे।

एंग्जायटी कम करने के लिए और उससे बचने के लिए हमें नियमित रूप से योग, प्राणायाम करना चाहिए, जितना हो सके उतनी सकारात्मक सोच रखनी चाहिए और अत्यधिक चिंता करने से बचना चाहिए।

इसके साथ ही ध्यान लगाना, लम्बी सांसे लेना, सन्तुलित और पौष्टिक आहार लेना, नियमित सोना और जल्दी उठना आदि कुछ और परिवर्तन हैं जो हमारे जीवन में एंग्जायटी को दूर भगाते हैं।

और पढ़ें:अच्छी नींद और मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के लिए आहार
 

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

रात में नींद न आना और चिंता होना हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

ऐसे में नियमित दिनचर्या अपनाएं क्योंकि नींद की कमी से मस्तिष्क पूरी क्षमता के साथ काम नहीं कर पाता।

अनिद्रा से एंग्जायटी और डिप्रेशन का खतरा बढ जाता है।

इसके साथ ही एक्सरसाइज और योगाभ्यास करें।

इस समस्या से बचने के लिए ध्यान भी फायदेमंद होता है।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 06 Jun 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

तनाव के कारण, लक्षण, प्रकार, बचाव और उपचार

तनाव के कारण, लक्षण, प्रकार, बचाव और उपचार

10 भारतीय मशहूर हस्तियां जो हुए थे एंग्जायटी या अवसाद के शिकार

10 भारतीय मशहूर हस्तियां जो हुए थे एंग्जायटी या अवसाद के शिकार

बेचैनी के कारण रात को नींद ना आए तो क्या करें

बेचैनी के कारण रात को नींद ना आए तो क्या करें

जानें पैरों की थकान दूर करने के उपाय

जानें पैरों की थकान दूर करने के उपाय

अचानक घबराहट होना - कारण, लक्षण और उपचार

अचानक घबराहट होना  -  कारण, लक्षण और उपचार
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad