नई नौकरी के तनाव को कैसे कम करें

How to deal with stress in a new job in hindi

nayi naukri ke tanav ko kam karne ke tarike


एक नज़र

  • कई बार हम किसी नए काम या नई नौकरी की शुरुआत में सफलता और असफलता को लेकर तनाव में आ जाते हैं।
  • नई नौकरी शुरू करते वक़्त तनाव से बचना चाहिए।
  • अत्यधिक तनाव से हमारी कार्य कुशलता पर बहुत असर पड़ता है।
  • नई नौकरी में जितना हो सके, खुश रहने की कोशिश करनी चाहिए।
triangle

Introduction

nayi_naukri_ke_tanav_ko_kam_karne_ke_tarike

नई नौकरी हमेशा हम सभी के मन में एक अजीब सी उत्सुकता पैदा करती है।

नौकरी के बारे में, वहां के लोगों के बारे में, या फिर काम के बारे में हमारे मन में कई सवाल बार-बार आते हैं।

ऐसे में कई बार ऐसा होता है कि हम नर्वस होकर टेंशन में आ जाते हैं।

इसलिए ये बहुत जरूरी है कि हम अत्यधिक तनाव से बचें और शांत रहने की कोशिश करें।

loading image

इस लेख़ में

 

नई नौकरी में खुद पर भरोसा रखें

Trust yourself in a new job in hindi

nayi naukri mei khud par rakhen bharosa

नई नौकरी के शुरुआती दिनों में हम काफी प्रेशर में आ जाते हैं और खुद पर भरोसा नहीं कर पाते।

हम अपने आप को उस काम के लिए सही नहीं समझते।

ऐसे में हमें ये ध्यान रखना चाहिए कि उस काम के लिए हम चुने गए हैं।

हमें अपने ऊपर पूरा भरोसा रखना चाहिए और अपना बेस्ट देने की कोशिश करनी चाहिए।

loading image
 

नई नौकरी में अपनी तुलना अपने सहकर्मियों से कभी न करें

Do not compare yourself with your colleagues at a new job in hindi

nayi naukri mei apni tulna apne sahakarmiyon se karne se bache

हम जब भी किसी नई नौकरी की शुरुआत करते हैं, तो अक्सर पहले दिन से ही दूसरों की तरह अपने काम में माहिर होने की कोशिश करते हैं।

हालांकि कि ऐसा करना बिल्कुल भी सही नहीं होता।

आपको ये समझना चाहिए कि आप उस काम को अभी शुरू कर रहे हैं, जिन्हें बाकी काफी वक्त से कर रहे हैं।

कई बार दूसरों से अपनी तुलना करने के चक्कर में हम तनावग्रस्त हो जाते हैं और ढंग से काम नहीं कर पाते।

हमें ये सोचना चाहिए कि बाकी सभी ने भी कभी न कभी शुरुआत की होगी और वो भी हमारी तरह ही काम करते होंगे।

कोई भी पूरी तरह निपुण नहीं होता इसलिए लगातार मेहनत करते जाइए और आगे बढ़ते जाइए।

और पढ़ें:अकेलापन कैसे दूर करें
 

नई नौकरी में धैर्य रखें, चीजें जल्द ही सामान्य हो जाएंगी

Be patient in the new job, things will soon become normal in hindi

nayi naukri mei dhairya rakhna hai zaruri, jald hi chizein ho jayengi samanya

अक्सर देखा जाता है कि नई नौकरी में इंसान धैर्य नहीं रखता और पहले दिन से ही सबके साथ घुलने-मिलने में लग जाता है।

इतना ही नहीं कई लोग तो जॉब के पहले दिन से ही सभी के नज़रों में छा जाने की कोशिश करने में लग जाते हैं और ऐसे में जब वे सफल नहीं हो पाते तो तनाव में आ जाते हैं।

ऐसा करके इंसान खुद का ही नुकसान करता है इसलिए आपको धीरज रखनी चाहिए और थोड़ा इंतज़ार करना चाहिए।

ये किताबी या फिल्मी दुनिया नहीं है, यहां हर चीज़ में थोड़ा वक्त लगता है। भरोसा रखें और मन लगाकर काम करें।

loading image
 

नई नौकरी में किसी ऐसे व्यक्ति की तलाश करें, जिसके साथ आप सहज हो सकें

Find a person in a new job, with whom you can be comfortable in hindi

nayi naukri mein kisi aese vyakti ki talash karein, jiske sath aap sehaj ho sake

अक्सर नई नौकरी की शुरुआत के दिनों में सबसे बड़ा डर होता है कि हमारे सहकर्मी हमसे सही ढंग से बात करेंगे या नहीं।

नई नौकरी में हमें सभी से एक साथ बात करने की बजाए पहले किसी एक व्यक्ति के साथ सहज होने की कोशिश करनी चाहिए।

इससे आप धीरे-धीरे सभी के साथ आराम से घुलमिल पाएं और सभी के साथ नार्मल हो जाएं।

और पढ़ें:अच्छी नींद और मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के लिए आहार
 

किसी को भी सब कुछ मालूम नही होता, इसलिए नई नौकरी में मदद मांगने में संकोच न करें

Nobody knows everything, so don’t hesitate to ask for help in a new job in hindi

kisi bhi insaan ko sb kuchh maloom nahi hota, isliye nayi naukri mei madad mangne se sankoch n karein

जब भी हम नई नौकरी की शुरुआत करते हैं तो अक्सर हम ये दिखाने की कोशिश करते हैं कि हमें सब कुछ पता है।

हम हमेशा दूसरों से मदद मांगने से शर्माते हैं।

जिसकी वजह से हम काम को गलत कर बैठते हैं या तनाव में आ जाते हैं या फिर कर ही नहीं पाते हैं।

ऐसे में हमें ये समझना चाहिए कि किसी से मदद मांगने से हमारा कोई नुकसान नहीं होगा बल्कि हमारी समस्या का समाधान हो जायेगा।

इसलिए कभी भी किसी से मदद मांगने या कुछ पूछने से शर्माएं नहीं।

और पढ़ें:अच्छी नींद के लिए घरेलू उपाय
 

निष्कर्ष

Conclusion in hindi

nishkarsh in hindi

नई नौकरी में जाने का जितना उत्साह होता है, उतनी ही वहां के वातावरण और लोगों के बारे में सोचकर हमारी चिंता भी बढ़ती है।

किसी भी जॉब को ज्वाइन करने से पहले थोड़ी बहुत चिंता सामान्य है परन्तु हमें ध्यान रखना चाहिए ये चिंता और ना बढ़े।

वरना हम व्यर्थ ही तनाव ग्रस्त हो जाएंगे और अपना नुक्सान कर लेंगे।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 22 May 2019

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

तनाव के कारण, लक्षण, प्रकार, बचाव और उपचार

तनाव के कारण, लक्षण, प्रकार, बचाव और उपचार

10 भारतीय मशहूर हस्तियां जो हुए थे एंग्जायटी या अवसाद के शिकार

10 भारतीय मशहूर हस्तियां जो हुए थे एंग्जायटी या अवसाद के शिकार

बेचैनी के कारण रात को नींद ना आए तो क्या करें

बेचैनी के कारण रात को नींद ना आए तो क्या करें

जानें पैरों की थकान दूर करने के उपाय

जानें पैरों की थकान दूर करने के उपाय

अचानक घबराहट होना - कारण, लक्षण और उपचार

अचानक घबराहट होना  -  कारण, लक्षण और उपचार
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad