शरीर के लिए विटामिन डी कितना जरूरी है

How important is vitamin D for our body in hindi

kitna zaroori hain vitamin D hamare sharir ke liye in hindi


एक नज़र

  • विटामिन डी शरीर की रोग प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाता है।
  • विटामिन डी हमारे शरीर में कैल्शियम का निर्माण करता है।
  • बार-बार इन्फेक्शन होना विटामिन डी की कमी का संकेत है।
triangle

Introduction

How_important_is_vitamin_D_for_our_body___Zealthy

हमारे शरीर में अनेक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है लेकिन हाल के एक अध्ययन में यह पाया गया है कि हमारे शरीर के स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए विटामिन डी की अधिक जरूरत होती है।

विटामिन डी का संबंध सीधा धूप से है।

सूर्य की किरणों से मिलने वाला विटामिन डी स्वस्थ हड्डियों के निर्माण और साथ ही शरीर के इम्यून सिस्टम के लिए बेहद जरूरी है।

यह शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।

विटामिन डी की कमी के लक्षण हमारे शरीर में अचानक से उभरकर नहीं आते।

इसी वजह से लोगों को समय पर विटामिन डी की कमी से होने वाले रोगों के बारे में पता नही चल पाता।

विटामिन डी की कमी से होने वाले रोगों के बारे में जानने के लिए विटामिन डी की नियमित जांच और विटामिन डी युक्त भोजन लेना जरूरी है।

विटामिन डी पर्याप्त मात्रा में लेने से स्वस्थ रहने के साथ-साथ, दैनिक कार्यों के लिए ऊर्जा मिलती है।

आज इस लेख में हम आपको बताएंगे विटामिन डी क्या है और वो कौन से संकेत हैं जो बताते हैं कि आपको विटामिन डी की जरूरत है।

loading image

इस लेख़ में

 

विटामिन डी क्या है?

What is vitamin D? in hindi

Vitamin D kya hota hain in in hindi

विटामिन डी जिसे सनशाइन विटामिन (sunshine vitamin) के रूप में भी जाना जाता है।

जब हमारा शरीर सूर्य की किरणों के संपर्क में आता है तो विटामिन डी का निर्माण होता है।

विटामिन डी वास्तव में एक विटामिन नहीं होता बल्कि यह एक प्रो हार्मोन होता है।

विटामिन डी एक ऐसा पोषक तत्व होता हैं जो हमारे शरीर द्वारा निर्मित नहीं किया जा सकता और इसलिए इन्हें हम आहार द्वारा शरीर में इसकी जरूरत को पूरा करते हैं।

जब सूरज की रोशनी हमारी त्वचा पर पड़ती हैं तो विटामिन डी हमारे शरीर में संश्लेषित होता है।

इसके दो रूप होते है - विटामिन डी 2 अर्गोकेलसीफेरोल (ergocalciferol) और विटामिन डी 3 कोलेकेलसीफेरोल (cholecalciferol) l

विटामिन डी हमारे शरीर में कैल्शियम का निर्माण करके हड्डियों को मज़बूत बनाता है।

इसकी कमी की वजह से हड्डियां कमजोर हो जाती हैं।

इसी के साथ ये हमारे इम्यून सिस्टम (immune system) को भी मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

loading image
 

6 संकेत बताते हैं कि आपके शरीर में विटामिन डी की कमी है

6 signs of deficiency of vitamin D in hindi

6 sanket batate hain ki aapko vitamin D ki kami hai in hindi

विटामिन डी के कमी के संकेत :

  1. थकान महसूस करना (Tiredness)
    थका हुआ महसूस करने के कई कारण हो सकते हैं और उनमें से सबसे बड़ा कारण शरीर में विटामिन डी की कमी होती है।
    एक अध्ययन में यह पता चला है कि विटामिन डी की कमी से रक्त स्तर कम होता है जो थकान का कारण बनता है।
    इसके कारण जीवन की गुणवत्ता पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
    एक और अध्ययन में पाया गया कि 20-29 एनजी / एमएल से कम रक्त स्तर वाली महिलाओं में अधिक थकान की शिकायत होती है।
  2. जल्द बीमार पड़ना और शरीर में संक्रमण होना (Sickness and body infection)
    विटामिन डी उन कोशिकाओं के निर्माण में सहायक होता है जो संक्रमण से लड़ने में हमारी मदद करती है।
    यदि आप अक्सर बीमार होते हैं या आपको जल्दी-जल्दी जुकाम या फ्लू होता है तो आपके शरीर में विटामिन डी का स्तर कम हो सकता है।
    एक शोध के अनुसार, जुकाम, ब्रोंकाइटिस और निमोनिया और सांस से जुड़े संक्रमण का एक कारण विटामिन डी की कमी होती है।
  3. हड्डी दर्द और पीठ दर्द (Bone and back pain)
    विटामिन डी हमारे शरीर में हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है।
    विटामिन डी आपके शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में मदद करता है।
    अगर आपको नियमित रूप से हड्डियों में दर्द और पीठ के निचले हिस्से में दर्द रहता है तो इसका कारण आपके रक्त में विटामिन डी का स्तर अपर्याप्त होना है।
    कुछ शोधकर्ताओं के अनुसार, जिन लोगों में विटामिन डी की कमी होती है उन्हें पीठ दर्द की समस्या रहती है।
    विटामिन डी की कमी वाले लोगों में पैरों, पसलियों और जोड़ों में दर्द का अनुभव अधिक होने की संभावना होती है।
  4. तनाव और अवसाद (Stress and Depression)
    अगर आप तनाव और अवसाद के शिकार है और आपकी मनोदशा खराब है तो इसका एक कारण विटामिन डी की कमी हो सकती है।
    एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने विटामिन डी की कमी को अवसाद का कारण पाया है।
    जिन लोगों में विटामिन डी की कमी होती है, अगर वो विटामिन डी की खुराक लें तो उन्हें अवसाद को कम करने में मदद मिलती है।
  5. घाव का देरी से भरना (Late wound healing)
    जब किसी व्यक्ति को सर्जरी या किसी चोट के बाद घावों को भरने में समय लगता है तो यह एक संकेत हो सकता है कि आपके शरीर में विटामिन डी का स्तर बहुत कम है।
    एक अध्ययन के अनुसार, विटामिन डी यौगिकों के उत्पादन को बढ़ाता है जो घाव भरने की प्रक्रिया और नई त्वचा को बनाने के लिए महत्वपूर्ण है।
    अगर आपके शरीर में विटामिन डी का स्तर कम होता है तो आपके घाव भरने में समय लगता है।
    इसकी कमी से सूजन भी आती है और मधुमेह के रोगियों का घाव भी देर से भरता है।
  6. बाल झड़ना (Hair loss)
    बालों के झड़ने को अक्सर तनाव से जोड़ा जाता है और तनाव होने का एक बड़ा कारण विटामिन डी की कमी होता है।
    हालांकि जब बालों का झड़ना अधिक होता है तो यह शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है।
    महिलाओं में बालों के झड़ने को विटामिन डी के स्तर से जोड़ा गया है।
    एक अध्ययन से पता चला है कि शरीर में विटामिन डी से रक्त का स्तर कम होता है जो अधिक बालों के झड़ने का कारण माना जाता है।

इसी के साथ कुछ अन्य लक्षण भी विटामिन डी की कमी को दर्शाते हैं जैसे उच्च रक्तचाप, अधिक पसीना आना, बच्चों के हाथों पर पसीना ज्यादा आना, मांसपेशियों मे लगातार दर्द महसूस होना, इम्युनिटी कमज़ोर होना आदि।

और पढ़ें:5 पोषक तत्व, जो 15 से 65 वर्षीय महिलाओं के लिए ज़रूरी हैं
 

निष्कर्ष

Conclusionin hindi

Nishkarsh

विटामिन डी सेहत के लिए बहुत फ़ायदेमंद है।

मानव शरीर के लिए जरूरी विटामिन डी की कमी के कारण आपको कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

एक अध्ययन के अनुसार इसकी अत्यधिक कमी से डिमेंशिया (dementia) होने का जोखिम भी बढ़ सकता है।

इसकी कमी हमारे शरीर की लगभग हर कोशिका को प्रभावित करती है।

इसके लिए समय पर विटामिन डी युक्त आहार खाएं और इसके संकेतों को पहचानकर समय-समय पर विटामिन डी टेस्ट करवाएं।

बाजार में बहुत सी दवाएं उपलब्ध हैं जो विटामिन डी की कमी को दूर कर सकती है।

अन्यथा विटामिन डी की कमी को दूर करने के लिए सबसे बेहतर उपाय सुबह सवेरे कम से कम आधे घंटे तक धूप में रहना है।

loading image

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 21 Apr 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

विटामिन A क्या है - स्रोत, कमी के लक्षण, रोग, फायदे और नुकसान

विटामिन A क्या है - स्रोत, कमी के लक्षण, रोग, फायदे और नुकसान

योग के लाभ, आसन और प्रकार

योग के लाभ, आसन और प्रकार

अलसी के तेल के फायदे व नुकसान

अलसी के तेल के फायदे व नुकसान

ईसबगोल के फायदे और नुकसान

ईसबगोल के फायदे और नुकसान

तनाव, चिंता और आलस्य दूर करने के लिए योग

तनाव, चिंता और आलस्य दूर करने के लिए योग
balance

सम्बंधित आर्टिकल्स

article lazy ad