एबॉर्शन की टैबलेट

Abortion pill in hindi

Garbhpat ki goli


एक नज़र

  • गर्भपात के दो मुख्य प्रकार हैं: चिकित्सीय गर्भपात और सर्जिकल गर्भपात।
  • चिकित्सा गर्भपात को आमतौर पर "गर्भपात की गोली" (the abortion pill) कहा जा सकता है।
  • 10 सप्ताह के बाद, जो महिलाएं अपनी गर्भावस्था को समाप्त करना चाहती हैं, वे सर्जिकल गर्भपात का विकल्प चुन सकती हैं।
triangle

Introduction

Garbhpat ki goli

कुछ परिस्थितियों में एक महिला न चाहते हुए भी माँ बन जाती है या किसी और कारण-वश उम्र से पहले वो गर्भवती हो जाती है। ऐसी स्थिति में महिला के समक्ष गर्भपात कराने के अलावा कोई और विकल्प नहीं होता है।

हालांकि, इस मामले में अधिकतर महिलाएं सर्जरी के माध्यम से गर्भपात नहीं कराना चाहती हैं और गर्भपात की गोली की मदद से बच्चे को गिराना बेहतर विकल्प समझती हैं।

अगर आपको भी विवश होकर या किसी कारण-वश गर्भपात कराना पड़ रहा है तो कौन-सी गर्भपात की दवा का उपयोग किया जाता है ये समझने की कोशिश करते हैं।

loading image

इस लेख़ में

 

एक चिकित्सा गर्भपात को समझना

Understanding medical abortion in hindi

Pregnancy khatam karne ka tarika, बच्चा गिराने की टेबलेट

गर्भपात की गोली को मेडिकल गर्भपात (medical abortion) के रूप में भी जाना जाता है।

गर्भपात के दो मुख्य प्रकार हैं: चिकित्सीय गर्भपात और सर्जिकल गर्भपात।

चिकित्सा गर्भपात को आमतौर पर "गर्भपात की गोली" (the abortion pill) कहा जा सकता है।

ये गोलियां गर्भावस्था को समाप्त कर देती है।

पहली गोली जो आप लेंगे वह मिफेप्रिस्टोन है, दूसरा मिसोप्रोस्टोल है (जिसे साइटोटेक के रूप में भी जाना जाता है या फिर मिफिकिट के नाम से जाना जाता है)।

दो दवाओं का उपयोग एक साथ गर्भपात की प्रभावशीलता को बढ़ाता है, और दुष्प्रभाव की अवधि को कम कर सकता है।

आप इन दवाओं को डॉक्टरों और क्लीनिकों के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं जो गर्भपात की सेवाएं प्रदान करते हैं, जैसे कि नियोजित पितृत्व (planned parenthood)।

आपको उन्हें कभी भी ऑनलाइन या बाज़ार से नहीं खरीद सकते हैं।

इसे रजिस्टर्ड गायनकोलॉजिस्ट के द्वारा ही प्रेस्क्राइब किया जाना चाहिए।

loading image
 

गर्भपात क्यों कराया जाता है?

Why is abortion done in hindi

Abortion kyon karaya jata hai, प्रेगनेंसी ख़त्म करने का तरीका

चिकित्सीय गर्भपात (medical abortion) होने के कारण अत्यधिक व्यक्तिगत हैं।

आप प्रारंभिक गर्भपात को पूरा करने या अवांछित गर्भावस्था (unwanted pregnancy) को समाप्त करने के लिए चिकित्सा गर्भपात का चयन कर सकती हैं।

आप एक चिकित्सा गर्भपात का चयन तब भी कर सकती हैं, अगर आप किसी चिकित्सा स्थिति से गुज़र रही हैं और गर्भावस्था जारी रखना जीवन के लिए खतरा बन सकता है।

loading image
 

गर्भपात की गोली/एबॉर्शन की टैबलेट के लिए कौन योग्य है?

Who is eligible for the abortion pill in hindi

Pregnancy khatam karne ki dawa kaun le sakta hai

जिन महिलाओं की गर्भावस्था 10 सप्ताह से कम की है, वे गर्भपात की गोली (बच्चा गिराने की टैबलेट) ले सकती हैं।

10 सप्ताह के बाद, जो महिलाएं अपनी गर्भावस्था को समाप्त करना चाहती हैं, वे सर्जिकल गर्भपात का विकल्प चुन सकती हैं।

loading image
 

चिकित्सा गर्भपात के लिए गोलियाँ कौन-सी हैं?

Tablets for medical abortion in hindi

Pregnancy khatam karne ki dawa, bacha girane ki tablet name, एबॉर्शन की टैबलेट

चिकित्सा गर्भपात की विभिन्न गोलियां : -

एमआई किट (MI kit)

इसके अंतर्गत ओरल मिफेप्रिस्टोन - मिफेप्रिक्स (Oral mifepristone - Mifeprex) और ओरल मिसोप्रोस्टोल - साइटोटेक (oral misoprostol - Cytolog,cytotec) दवा आती है। ये चिकित्सा गर्भपात का सबसे आम प्रकार है।

यह सबसे आम तरीका है और हम इसे बेहतर तरीके से समझाने की कोशिश करेंगे कि यहां बताए गए सभी विवरण महत्वपूर्ण हैं।
ये दवाएं (pregnancy abortion tablet) आमतौर पर आपके आखिरी पीरियड के पहले दिन से अगले सात सप्ताह के अंदर ली जाती हैं।

मिफेप्रिस्टोन, हार्मोन प्रोजेस्टेरोन को ब्लॉक करता है, जिससे गर्भाशय की परत पतली हो जाती है और भ्रूण को प्रत्यारोपित (implant) होने और बढ़ने से रोकती है।

वहीं मिसोप्रोस्टोल (misoprostol), एक अलग तरह की दवा है, जो गर्भाशय सिकोड़ने में मदद करता हैं और योनि के माध्यम से भ्रूण को बाहर निकाल देता है।

अगर आप इस प्रकार के चिकित्सीय गर्भपात का चयन करती हैं, तो आप अपने डॉक्टर के कार्यालय या क्लिनिक में मिफेप्रिस्टोन ले सकती हैं।
इस इलाज के लिए आपको तीन बार डॉक्टर से मिलना होगा।

200 मिलीग्राम मिफेप्रिस्टोन (mifepristone) टैबलेट आपको डॉक्टर की सलाह पर लेना चाहिए। इस दवा के 36-48 घंटे के बाद, गर्भपात हुआ या नहीं, इसकी पुष्टि के लिए नैदानिक ​​जांच के लिए एक बार आपको डॉक्टर से मिलने की आवश्यकता होगी।

गर्भवती की पुष्टि होने के बाद 200 एमसीजी की मिसोप्रोस्टोल (misoprostol) की 4 गोलियां 6 घंटे के लिए दी जाती हैं, और निगरानी मेडिकल सुपरविजन के तहत होती है।

ओरल मिफेप्रिस्टोन और योनि, बकल या सब्बलिंगुअल मिसोप्रोस्टोल (Oral mifepristone and vaginal, buccal or sublingual misoprostol)

इस प्रकार का चिकित्सीय गर्भपात पिछली पद्धति की तरह ही दवाओं का उपयोग करता है, लेकिन धीरे-धीरे घुलने वाले मिसोप्रोस्टोल टैबलेट को आपकी योनि (योनि मार्ग) में, आपके मुंह में - आपके दाँतों और गाल (बुक्कल मार्ग) के बीच, या आपकी जीभ (सब्लिंगुअल रूट) के नीचे रखा जाता है।

योनि, बकल या सब्लिंगुअल साइड इफेक्ट को कम करता है और अधिक प्रभावी हो सकता है।

ये दवाएं आपकी अंतिम पीरियड के पहले दिन से अगले नौ सप्ताह के अंदर लेनी चाहिए।

मेथोट्रेक्सेट और वेजाइनल मिसोप्रोस्टोल (Methotrexate and vaginal misoprostol)

इन दवाओं का इस्तेमाल सिर्फ एक्टोपिक प्रेगनेंसी के मामलों में किया जाता है।

मेथोट्रेक्सेट (Otrexup, Rasuvo, others) का उपयोग शायद ही कभी वैकल्पिक, अवांछित गर्भधारण (unwanted pregnancies) के लिए किया जाता है।

इस प्रकार का चिकित्सीय गर्भपात आपकी अंतिम पीरियड के पहले दिन से सात सप्ताह के अंदर किया जाना चाहिए, और गर्भपात को पूरा करने के लिए, मेथोट्रेक्सेट (methotrexate) में एक महीने तक का समय लग सकता है।

मेथोट्रेक्सेट को आपकी त्वचा के अंदर एक शॉट के रूप में दिया जाता है, आमतौर पर पेट या जांघ पर।

सावधान रहें- ये एक एंटी-कैंसर दवा (anticancer drug) और एक शक्तिशाली इम्यूनोसप्रेसेन्ट (potent immunosuppressant) है।
काउंटर फार्मेसियों से इसे कभी न लें, इस दवा के लिए तब तक न पूछे जब तक कि इसे लेना ठीक नहीं माना जाए।

वेजायनल मिसोप्रोस्टोल (Vaginal misoprostol)

अगर गर्भधारण के नौ हफ्ते से पहले वेजायनल मिसोप्रोस्टोल का उपयोग किया जाता है तो ये अकेले प्रभावी हो सकता है।
लेकिन अन्य प्रकार के चिकित्सीय गर्भपात की तुलना में अकेले योनि मिसोप्रोस्टोल कम प्रभावी है।

loading image
 

गर्भपात की गोली से जुड़ी पूर्व सावधानियां और दुष्प्रभाव

Pre-caution, risks and complications associated with abortion tablet in hindi

Garbhpat ki goli se judi saavdhani aur dushprabhav in hindi

गर्भपात की गोली बिना डॉक्टर के सलाह के नहीं ली जानी चाहिए, इससे आपकी जान को भी जोखिम हो सकता है।

एबॉर्शन टैबलेट से जुड़ी कई सावधानियां, जोखिम और ख़तरे की जानकारी आपको ज़रुर होनी चाहिए।

गर्भपात की गोली से जुड़ी सावधानियां (Precautions of abortion tablet in hindi)

  • अगर आपकी उम्र 35 या उससे अधिक है, तो सावधानी बरतनी चाहिए।
  • अगर आप अस्थमा और क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव एयरवेज़ डिजीज़ (Chronic obstructive airways disease) से पीड़ित हैं तो विशेष सावधानी बरतें।
  • अगर आप धूम्रपान करती हैं और प्रतिदिन 10 या उससे अधिक सिगरेट का सेवन करती हैं, तो विशेष सावधानी की आवश्यकता होगी।

गर्भपात की गोली के दुष्प्रभाव (Complications of abortion tablet)

  • योनि से खून आना, मतली, उल्टी, दाने, पित्ती (urticaria), सिरदर्द, बुख़ार, ठंड लगना, चक्कर आना, कब्ज आदि।
  • अगर आप गर्भवती की गोली ज़रूरत से ज़्यादा ले लेती हैं तो दस्त, बुख़ार, पेट दर्द, ऐंठन, कंपन होना जैसे कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

नोट - मेडिसीन, जो इन गोलियों की प्रभावकारिता को कम कर सकते हैं यदि वे एक साथ सेवन किए जाते हैं।

ये दवाएं हैं केटोकोनाज़ोल (Ketoconazole), इट्राकोनाज़ोल (itraconazole), एरिथ्रोमाइसिन (erythromycin) और अंगूर का रस (grapefruit juice)।

गर्भपात की गोली (tablet for abortion of 30 days) का चयन करते समय वास्तव में अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है क्योंकि यह प्रेगनेंसी खत्म करने का तरीका गंभीर जोखिम का कारण बन सकता है।

दवा बाजार आजकल गर्भपात की गोलियों सहित कई प्रकार की दवाओं से भरा पड़ा है।

लेकिन, गर्भपात जैसे संवेदनशील मुद्दे पर भरोसा करने के लिए केवल अपने रजिस्टर्ड गायनकोलॉजिस्ट पर ही भरोसा करना चाहिए।

loading image

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 02 Apr 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

प्रसव के दौरान बच्चे से पहले गर्भनाल का बाहर आना - अम्ब्लिकल कॉर्ड प्रोलैप्स: कारण, निदान और प्रबंधन

प्रसव के दौरान बच्चे से पहले गर्भनाल का बाहर आना - अम्ब्लिकल कॉर्ड प्रोलैप्स: कारण, निदान और प्रबंधन

गर्भपात के लक्षण, कारण और उपचार क्या हैं

गर्भपात के लक्षण, कारण और उपचार क्या हैं

अस्थानिक गर्भावस्था के लक्षण, कारण और उपचार

अस्थानिक गर्भावस्था के लक्षण, कारण और उपचार

सबकोरियोनिक हिमाटोमा क्या है और आपकी गर्भावस्था को ये कैसे नुकसान पहुँचाता है

सबकोरियोनिक हिमाटोमा क्या है और आपकी गर्भावस्था को ये कैसे नुकसान पहुँचाता है

गर्भावस्था में रक्तस्त्राव (ब्लीडिंग) और स्पॉटइंग (रक्त के थक्के)

गर्भावस्था में रक्तस्त्राव (ब्लीडिंग) और स्पॉटइंग (रक्त के थक्के)
balance
article lazy ad