बच्चे के जन्म के बाद संभोग (सेक्‍स) कब करें?

When to have sex after childbirthin hindi

bache ke janm ke baad sambhog kab kare


एक नज़र

  • नार्मल डिलीवरी के बाद शारीरिक संबंध बनाना, सिजेरियन डिलीवरी के बाद संबंध बनाने से आसान है।
  • योनि से रक्तस्राव बंद होने और टांके ठीक हो जाने के बाद संभोग फिर से शुरू किया जा सकता है।
  • प्रसव के बाद सेक्स तभी करें जब महिला इसके लिए शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत हो।
triangle

Introduction

prasav_ke_baad_sex

बच्चे को जन्म देने के बाद जिंदगी पहली जैसी बिल्कुल नहीं रहती है। खासतौर पर नयी मां के लिए जहाँ एक तरफ जिम्मेदारियां बढ़ जाती है वहीं दूसरी ओर वो शारीरिक कमजोरियों का भी सामना कर रही होती है। ऐसे में जीवनसाथी के साथ रोमांटिक पलों का आनंद लेने के लिए कुछ टाइम तक इंतजार करने की सलाह दी जाती है।

ऐसा क्यों है और कब तक आपको पार्टनर के साथ शारीरिक दूरी का अपनानी है, यह हम ज़ेल्थी के इस लेख मे बताने वाले हैं। इस लेख में नार्मल डिलीवरी से सिजेरियन बर्थ के बाद सेक्स में बरती जानी वाली लगभग सभी सावधानियों का जिक्र है। प्रसव के बाद सेक्स का मुद्दा महिला स्वास्थ्य के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है इसलिए इसे अंत तक पढ़ें।

loading image

इस लेख़ में

  1. 1.प्रसव (डिलीवरी) के बाद कब सेक्स करना सुरक्षित है?
  2. 2.डिलीवरी के कितने दिन बाद संभोग (सेक्स) करना चाहिए?
  3. 3.नार्मल डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए?
  4. 4.सिजेरियन डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए?
  5. 5.प्रसव के बाद सेक्स इच्छा में कमी क्यों आती है?
  6. 6.यौन इच्छा कम होने के पीछे छिपे शारीरिक कारण
  7. 7.यौन इच्छा कम होने के पीछे छिपे मानसिक कारण
  8. 8.प्रसव के बाद सेक्स इच्छा को कैसे बढ़ा सकते हैं?
  9. 9.बच्चे के जन्म के बाद सेक्स करने से क्या परेशानी हो सकती हैं
  10. 10.प्रसव के बाद सेक्स करते समय इन बातों का ध्यान रखें
  11. 11.प्रसव के बाद गर्भनिरोधक का कौन सा तरीका सुरक्षित है
  12. 12.निष्कर्ष
 

प्रसव (डिलीवरी) के बाद कब सेक्स करना सुरक्षित है?

When is it safe to have sex after deliveryin hindi

delivery ke bad sex surakshit hai

प्रसव के बाद महिला, कई शारीरिक और मानसिक बदलावों का सामना करती है इसलिए नार्मल लाइफ में वापस आने में कुछ टाइम लग सकता है। यही बात शारीरिक संबंध बनाने पर भी लागू होती है। प्रत्येक महिला का स्वास्थ्य अलग-अलग होता है इसलिए उन्हें डिलीवरी बाद सेहतमंद होने में भी अलग-अलग समय लग सकता है।

इसके अलावा नार्मल डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए और सिजेरियन डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए, इन दोनों के लिए अलग-अलग टाइम बताया जाता है। प्रसव के बाद सेक्स कब करना चाहिए या कितना इंतजार करना है, इसकी ठोस सीमा निर्धारित करना सही नहीं होगा। फिर भी कुछ साइंटिफिक रिसर्च, प्रसव के बाद सेक्स को लेकर कुछ सुझाव पेश करती हैं जिनको हम आगे बताएंगें।

यहाँ देखिए प्रसव के बाद देखभाल कैसे की जा सकती है!

loading image
 

डिलीवरी के कितने दिन बाद संभोग (सेक्स) करना चाहिए?

Delivery ke kitne din baad sex (sambhog) krna chahiyein hindi

Delivery ke kitne din baad sex karna chahiye

यूनिवर्सिटी ऑफ रोचस्टर मेडिकल सेंटर की वेबसाइट के अनुसार, योनि से रक्तस्राव बंद होने और टांके ठीक हो जाने के बाद संभोग फिर से शुरू किया जा सकता है। [1]

आमतौर पर, डिलीवरी के बाद चार से छह सप्ताह के भीतर टांके ठीक हो जाते हैं। बेहतर होगा कि प्रसव के बाद नार्मल सेक्स लाइफ में लौटने से पहले पति और पत्नी, दोनों एक बार डॉक्टर से सलाह लें। डॉक्टर से सलाह लेने के बाद प्रसव के बाद संबंध बनाने का मानसिक डर कम हो जाएगा और आपको अपनी सेहत के बारे में भी जानकारी मिल जाएगी।

अगर आपको ऐसा लगता है कि यह शारीरिक दूरी, रिश्तों को नीरस बना रही है तो संभोग न करते हुए आप स्पर्श और चुम्बनों के जरिए, रिश्ते में गर्माहट कायम रख सकते हैं। अगर आप इस तरह प्यार जताएंगे तो यह आपके पार्टनर को इमोशनली सपोर्ट यानी भावनात्मक सहयोग भी देगा।

और पढ़ें:गर्भावस्था में नॉर्मल डिलीवरी के उपाय
 

नार्मल डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए?

When to have sex after normal deliveryin hindi

Normal Delivery ke kitne din baad sex karna chahiye

नार्मल डिलीवरी के बाद शारीरिक संबंध बनाना, सिजेरियन डिलीवरी के बाद संबंध बनाने से आसान है। विशेषज्ञों के अनुसार, नार्मल डिलीवरी के बाद महिलाओं का 4-6 हफ्ते बाद शारीरिक संबंध बनाना सुरक्षित होता है। एक बात ध्यान रखें कि प्रसव के बाद सेक्स करते समय कुछ एहतियात बरतने चाहिए जिनका जिक्र आगे विस्तार से करेंगें।

loading image
 

सिजेरियन डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए?

When to have sex after Cesarean delivery in hindi

Cesarean delivery ke bad sex kab kare

सिजेरियन डिलीवरी या सी-सेक्शन डिलीवरी को मेडिकल साइंस में मेजर सर्जरी माना जाता है। इससे उबरने में लंबा वक़्त लग सकता है इसलिए पूरी तरह ठीक होने के बाद ही संभोग करने की सलाह दी जाती है। सिजेरियन डिलीवरी के कितने दिन बाद संबंध बनाने चाहिए इस प्रश्न का सीधा-सीधा जवाब है कम से कम आठ हफ्ते बाद।

लॉस एंजेल्स का जन स्वास्थ्य विभाग (L.A. Department of Public Health) भी इस बात की पुष्टि करता है की किसी भी प्रकार के रिस्क से बचने के लिए 8 सप्ताह तक शारीरिक सम्पर्क न बनाएं। [2]

और पढ़ें:डिलीवरी के बाद पीरियड लाने के उपाय
 

प्रसव के बाद सेक्स इच्छा में कमी क्यों आती है?

Why sex desire decreases after delivery in hindi

Low libodo after childbirth in hindi

बच्चे को जन्म देने के बाद अक्सर महिलाएं शिकायत करती हैं कि वो शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा महसूस नहीं करती। इसके पीछे शारीरिक और मानसिक दोनों कारण हो सकते हैं। आइए, दोनों कारणों पर एक नजर डालते हैं।

loading image
 

यौन इच्छा कम होने के पीछे छिपे शारीरिक कारण

Physical reasons behind decreased sexual desire in hindi

sex iccha kam kyon hoti hai

बच्चे को जन्म देने के बाद महिलाएं अपने शरीर में कई बदलाव महसूस करती हैं और ये बदलाव उनकी सेक्स इच्छा में कमी पैदा कर सकते हैं। आइए, इनके बारे में जानते हैं।

यौन इच्छा कम होने के शारीरिक कारण : -

1. सेक्स के दौरान दर्द

डिलीवरी के बाद सेक्स करने पर दर्द महसूस हो सकता है क्योंकि जन्म देते समय महिलाओं के पेरिनियम एरिया पर बहुत अधिक दबाव पड़ता है। कई बार नॉर्मल डिलीवरी में पेरिनियम एरिया पर टांके भी दिए जाते हैं जोकि दर्द पैदा कर सकते हैं। इस दर्द के चलते , संभोग क्रिया का आनंद खो जाता है।

लगातार ये स्थिति बने रहने पर सेक्स इच्छा कम हो सकती है। प्रसव के बाद योनि और उसके आस-पास का हिस्सा अत्यधिक संवेदनशील यानी सेंसेटिव हो सकता है और इसे ठीक होने में कुछ समय लगता है, इसलिए प्रसव के बाद सेक्स में दर्द होना सामान्य माना जा सकता है।

2. चोटिल हो सकते हैं अंग

कई बार जन्म के समय कुछ उपकरणों (वेक्यूम या फोरसेप्स) का प्रयोग करके बच्चे को बाहर निकाला जाता है। इस प्रक्रिया में भी पेरिनियम एरिया के टिश्यु चोटिल हो सकते हैं जिन्हें ठीक होने में समय लगता है। ये सेक्स के समय दर्द पैदा कर सकते हैं और सेक्स की इच्छा में कमी ला सकते हैं।

3. योनि का रूखा होना

एनसीबीआई की वेबसाइट पर दी गई एक स्टडी की माने तो जो महिलाएं ब्रेस्ट फीडिंग कराती वो हाइपो-एस्ट्रोजेनिक स्थिति का शिकार हो सकती हैं। इसका मतलब है कि स्तनपान कराने वाली महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी हो जाती है जिससे योनि में सूखापन महसूस हो सकता है। ऐसी स्थिति में संभोग करना असुविधा, दर्द और जलन पैदा कर सकता है। यह सेक्स इच्छा में आने वाली कमी का बड़ा कारण माना जा सकता है।[3]

4. सिजेरियन डिलीवरी

सिजेरियन डिलीवरी के बाद शारीरिक संबंध बनाना बहुत असुविधा जनक होता है। कई महिलाओं को सेक्स के दौरान बाहरी और अंदरूनी टांकों में दर्द महसूस होता है। इसे भी यौन इच्छा में आने वाली कमी की एक वजह कह सकते हैं।

और पढ़ें:डिलीवरी के बाद पेट कम करने के उपाय क्या हो सकते हैं?
 

यौन इच्छा कम होने के पीछे छिपे मानसिक कारण

Psychological reasons behind decreased sexual desire in hindi

Delivery ke baad sex ka man Kyon nahin karta

नवजात शिशु की देखभाल करना कोई आसान काम नहीं है। नयी मां के लिए छोटे बच्चे को संभालना और अपने शरीर की देखरेख करना एक बड़ी चुनौती है। ऐसे में सेक्स में रूचि न लेने के कई मानसिक कारण भी हो सकते हैं।

यौन इच्छा कम होने के मानसिक कारण :-

1. थकान

कई बार नयी माओं की नींद पूरी नहीं होती तो कई बार थकान के मारे कुछ करने का मन नहीं होता, चाहे वो रोमांस ही क्यों ना हो।

2. पोस्टपार्टम डिप्रेशन

कई महिलाएं प्रसव के बाद डिप्रेशन का शिकार हो सकती हैं, इसे पोस्टपार्टम डिप्रेशन कहा जाता है।

सीडीसी (Centers for Disease Control and Prevention) के हालिया शोध से पता चलता है कि 8 में से 1 महिला में पोस्टपार्टम डिप्रेशन के लक्षण दिखाई देते हैं जो समय के साथ ठीक हो जाते हैं। इस आधार पर कहा जा सकता है कि मेंटल हेल्थ का ठीक न होना भी, सेक्स इच्छा में कमी ला सकता है [4]

3. हीनभावना

कई महिलाएं बच्चे को जन्म देने के बाद हीनभावना का शिकार हो जाती हैं। उनको लगता है कि स्ट्रेच मार्क्स और बिगड़ा हुआ फिगर देखकर, उनके पति, उनको पसंद नहीं करेंगें इसलिए वो कामुक दिखने या कामुक होने के बारे सोचना बंद कर देती हैं।

और पढ़ें:नॉर्मल डिलीवरी के लिए गर्भवस्था के दौरान करें 8 सर्वश्रेष्ठ व्यायाम
 

प्रसव के बाद सेक्स इच्छा को कैसे बढ़ा सकते हैं?

How to increase sex desire after deliveryin hindi

Prasav ke baad sex ki iccha ko kaise badha sakte hai

अभी तक आप जान चुके हैं कि प्रसव के बाद संभोग करना सामान्य नहीं होता है और इसमें कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। डिलीवरी के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए इसका जवाब भी आपको मिल गया है, अब जानते हैं कुछ टिप्स जिनसे प्रसव के बाद सेक्स इच्छा बढ़ाने में सहायता मिल सकती है।

सेक्स इच्छा बढ़ाने के टिप्स :-

  • संभोग की शुरुआत करने से पहले फोरप्ले अपनाएं। इसके लिए आप अपने पार्टनर को कोमल स्पर्श और चुंबन दें और बॉडी मसाज का सहारा लें।
  • योनि का रूखापन दूर करने के लिए लुब्रिकेंट्स (चिकनाई जैसे कोकोनट ऑयल) का प्रयोग करें।
  • पार्टनर के साथ समय बिताऐं, रोमांटिक डिनर या मूवी टाइम जैसे प्रोग्राम बनाएं।
  • अगर महिला किसी मानसिक परेशानी से जूझ रही हैं तो बिना देरी किए किसी अच्छे मनोवैज्ञानिक डॉक्टर से सलाह लें।
  • पति-पत्नी आपस में सहयोग की भावना रखें और पति को चाहिए कि बच्चे को संभालने में वो पत्नी की मदद करे ताकि वो थके नहीं।
  • नवजात बच्चे के साथ अपने लिए टाइम निकालना मुश्किल हो सकता है इसलिए बच्चे की देख-रेख के लिए परिवार की मदद ले सकते हैं।
  • शिशु के सोने के बाद रोमांस शुरू करें, इससे किसी प्रकार की बाधा की संभावना कम होगी।
  • पति को चाहिए कि वो मातृत्व का सम्मान करे और अपनी पत्नी के शरीर में आए बदलावों पर टिप्पणी करने की बजाय उन्हें अपनाने का प्रयास करे।
  • योनि का ढीलापन अगर आनंद में बाधा डाल रहा है तो कुछ पेल्विक एक्सरसाइज जैसे कीगल प्रैक्टिस अपनाए। इससे योनि में जल्द कसावट लायी जा सकती है[5]
और पढ़ें:नॉर्मल डिलीवरी से पहले क्या करें और क्या नहीं
 

बच्चे के जन्म के बाद सेक्स करने से क्या परेशानी हो सकती हैं

Risk factor of having sex after childbirthin hindi

Bacche ke janm ke bad sex krne se kya pareshani ho sakti hai

बच्चे के जन्म के बाद जल्दी शारीरिक संबंध बनाने पर महिला को संक्रमण का खतरा हो सकता है।

एनसीबीआई पर पब्लिश स्टडी के अनुसार, डिलीवरी के बाद सेक्स करने पर योनि से रक्तस्राव या स्पॉटिंग, सिजेरियन टांकों का खुलना और फिस्टुला जैसी समस्याएं हो सकती हैं। अगर प्रसव के बाद सेक्स करने से इनमें से कोई भी एक लक्षण नजर आए तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। [6]

और पढ़ें:बच्चे के जन्म के बाद संभोग (सेक्‍स) कब करें?
 

प्रसव के बाद सेक्स करते समय इन बातों का ध्यान रखें

Keep these things in mind while having sex after deliveryin hindi

Prasav ke baad sex krte samay in baton ka dhyan rakhe

प्रसव के बाद सेक्स शुरू करने से पहले कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए। इसलिए हम नीचे कुछ सुझाव प्रस्तुत कर रहे हैं।

प्रसव के बाद सेक्स शुरू करने से पहले ध्यान रखी जाने वाली बातें:-

  • प्रसव के बाद सेक्स करने में असुविधा का सामना महिला करती है, इसलिए जब वो इसके लिए तैयार हो तभी संभोग की शुरूआत करें। यह निर्णय महिला का होना चाहिए और वो पूरी तरह स्वस्थ भी हो।
  • आप अपने दोस्तों से भी सुझाव मांग सकते हैं जिनको इसका अनुभव है।
  • संभोग के समय ऐसी कोई गतिविधी न करें जिससे नयी मां के गर्भाशय पर दबाव पड़े। हमेशा सुरक्षित और सुविधाजनक सेक्स पोज चुनें।
और पढ़ें:माँ और बच्चे की नार्मल डिलीवरी के बाद देखभाल कैसे करें
 

प्रसव के बाद गर्भनिरोधक का कौन सा तरीका सुरक्षित है

Which contraception method is safe after deliveryin hindi

Prasav ke baad garbhadharan ka koun sa tareeka surakshi hai

प्रसव के बाद स्तनपान कराने वाली महिलाओं के गर्भधारण करने की संभावना बहुत कम होती है। फिर भी बच्चों में अंतर रखने के लिए कंडोम, शुक्राणुनाशक (spermicides), पुरुष और महिला नसबंदी, आईयूडी (intrauterine contraceptive device), प्रोजेस्टिन यानी गर्भनिरोधक गोलियां, इंजेक्शन और प्रत्यारोपण (contraceptive implants) का उपयोग किया जा सकता है। आपके लिए कौन सा तरीका सही रहेगा इस विषय पर डॉक्टर से सलाह लें। [7]

और पढ़ें:लेबर और प्रसव के लिए खुद को कैसे तैयार करें?
 

निष्कर्ष

Conclusionin hindi

Nishkarsh

यहां इस लेख से यही निष्कर्ष निकलता है कि प्रसव के बाद सेक्स तभी करें जब महिला इसके लिए शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत हो।

क्या यह लेख सहायक था? हां कहने के लिए दिल पर क्लिक करें

references

संदर्भ की सूचीछिपाएँ

1 .

Claire Jones, Crystal Chan et al. “Sex in pregnancy”Canadian Medical Association” PMID: 21282311

3 .

Alligood-Percoco NR, Kjerulff KH, Repke JT. “Risk Factors for Dyspareunia After First Childbirth” Obstet Gynecol. PMID: 27500349.

4 .

August 4 2020 “Depression During and After Pregnancy” Division of Reproductive Health

5 .

August 4 2020 “Kegel exercises - self-care” MedlinePlus

6 .

Claire Jones, Crystal Chan et al. “Sex in pregnancy”Canadian Medical Association” PMID: 21282311

7 .

Kennedy et al. KI. “Postpartum contraception” Baillieres Clin Obstet Gynaecol. PMID: 8736720

आर्टिकल की आख़िरी अपडेट तिथि: : 17 Aug 2020

हमारे ब्लॉग के भीतर और अधिक अन्वेषण करें

लेटेस्ट

श्रेणियाँ

डिलीवरी के बाद पेट कम करने के उपाय क्या हो सकते हैं?

डिलीवरी के बाद पेट कम करने के उपाय क्या हो सकते हैं?

डिलीवरी के बाद पीरियड लाने के उपाय

डिलीवरी के बाद पीरियड लाने के उपाय

सिजेरियन डिलीवरी के बाद पेट कैसे कम करें

सिजेरियन डिलीवरी के बाद पेट कैसे कम करें

सामान्य डिलीवरी के 9 फ़ायदे

सामान्य डिलीवरी के 9 फ़ायदे

नॉर्मल डिलीवरी के लिए गर्भवस्था के दौरान करें 8 सर्वश्रेष्ठ व्यायाम

नॉर्मल डिलीवरी के लिए गर्भवस्था के दौरान करें 8 सर्वश्रेष्ठ व्यायाम
balance
article lazy ad